Search

ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क

ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क भारत में हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में स्थित है| 1171 वर्ग किमी. में विस्तृत इस पार्क को वर्ष 1999 में ‘राष्ट्रीय पार्क’ का दर्जा प्रदान किया गया था और बाद में 23 जून, 2014 को युनेस्को द्वारा इसे ‘विश्व विरासत स्थल’ का दर्जा प्रदान किया गया| यहाँ जंतुओं व पेड़-पौधों की अनेक प्रजातियाँ पायी जाती हैं|
Mar 18, 2016 16:15 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon

ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क भारत में हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में स्थित है| 1171 वर्ग किमी. में विस्तृत इस पार्क को वर्ष 1999 में ‘राष्ट्रीय पार्क’ का दर्जा प्रदान किया गया था और बाद में 23 जून,2014 को युनेस्को द्वारा इसे ‘विश्व विरासत स्थल’ का दर्जा प्रदान किया गया| यहाँ जंतुओं व पेड़-पौधों की अनेक प्रजातियाँ पायी जाती हैं|

भारत में स्थित कुछ अन्य ‘विश्व विरासत स्थल’:

फ़तेहपुर सीकरी:मुगलकालीन स्थापत्य का नमूना

सांची स्तूप : भारत का प्रसिद्ध बौद्ध स्मारक

दिल्ली का लाल किला : मुगल साम्राज्य का गौरव

ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क से संबन्धित रोचक तथ्य:

1. ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क की स्थापना वर्ष 1984 में की गयी थी|

2. यहाँ के पार्क प्रशासन के अंतर्गत आने वाला कुल क्षेत्र 1171 वर्ग किमी. है (राष्ट्रीय पार्क,वन्यजीव अभयारण्य और इकोजोन सहित), जिसे सम्मिलित रूप से ‘ग्रेट हिमालयन राष्ट्रीय पार्क संरक्षण क्षेत्र’ (GHNPCA) के अंतर्गत शामिल किया जाता है|

Jagranjosh

3. इस पार्क का 754.4 वर्ग किलोमीटर का क्षेत्र कोर जोन, 265.6 वर्ग किलोमीटर का क्षेत्र ईकोजोन में व 61 वर्ग किलोमीटर का क्षेत्र तीर्थन वन्यजीव अभयारण्य व 90 किलोमीटर वर्ग का क्षेत्र का क्षेत्र सैंज वन्यजीव अभयारण्य में आता है। सम्पूर्ण पार्क 1,171 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैला हुआ है।

Jagranjosh

4. वर्ष 2010 में सैंज (Sainj) और तीर्थन (Tirthan) वन्यजीव अभयारण्य को भी ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क में शामिल कर लिया गया |

5. ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क संरक्षण क्षेत्र में एशियाई काले भालू, हिमालयी कस्तूरी मृग, नीली भेड़,हिमालयी ताहर,हिम तेंदुआ,पश्चिमी ट्रैगोपान आदि अनेक जीव प्रजातियाँ पायी जाती हैं|

6. यहाँ पायी जाने जैव विविधता का वन्यजीव संरक्षण अधिनियम,1972 के तहत दिये गए निर्देशों के अनुसार सख्ती से संरक्षण किया जाता है|

Jagranjosh

7. अंतर्राष्ट्रीय प्रकृति संरक्षण संघ(IUCN) की रेड लिस्ट में शामिल लगभग 25 संकटापन्न पादपों की प्रजातियाँ इस पार्क में पायी जाती हैं|

8. ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क की सीमाएं 2010 में स्थापित खिरगंगा राष्ट्रीय पार्क (710 वर्ग किमी.), ट्रांस हिमालय में स्थित पिन वैली राष्ट्रीय पार्क (675 वर्ग किमी.),सतलज जलविभाजक में स्थित रूपी-भाभा वन्यजीव अभयारण्य  (503 वर्ग किमी.) और कानावर वन्यजीव अभयारण्य  (61 वर्ग किमी.) से मिलती हैं|

9. ग्रेट हिमालयन राष्ट्रीय पार्क संरक्षण क्षेत्र में जैवानल, सैंज तथा तीर्थन नदी तथा उत्तर-पश्चिम की ओर बहने वाली पार्वती नदी का जल उद्गम शामिल है।

Jagranjosh

10. यहाँ समशीतोष्ण एवं अल्पाइन वन पाए जाते हैं।

Source: greathimalayannationalpark