Search

बाल फिल्म सोसायटी भारत (आईसीएफएफआई)

अंतरराष्ट्रीय बाल फिल्म महोत्सव, भारत एक द्विवार्षिक बाल फिल्म महोत्सव है. इसे ‘द गोल्डन एलिफंट’ के नाम से भी जाना जाता है.
Nov 19, 2013 16:37 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon

अंतरराष्ट्रीय बाल फिल्म महोत्सव, भारत (आईसीएफएफआई, International Children Film Festival of India ICFFI), एक द्विवार्षिक बाल फिल्म महोत्सव है. इसे ‘द गोल्डन एलिफंट’ के नाम से भी जाना जाता है. यह महोत्सव 14 नवंबर को भारत के प्रहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरूजी के जन्म दिन पर शुरू होता है. अंतरराष्ट्रीय बाल फिल्म महोत्सव युवा दर्शकों के लिए राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर की बच्चों की आनंदमय और कल्पनाशील फिल्में लाने का प्रयास करता है. सात दिनों के इस महोत्सव में सर्वश्रेष्ठ फीचर, लघु, लाइव एक्शन और एनीमेशन फिल्मों का प्रदर्शन होता है, जिसमें विश्व भर से बच्चें तथा फिल्मकार भाग लेते हैं.

देश में गतिशील बच्चों की फिल्म संस्कृति को पोषण और बढ़ावा देने के उद्देश्य से सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय, भारत सरकार के अंतर्गत एक स्वायत्त निकाय – बाल चित्र समिति भारत (सीएफएसआई) द्वारा आयोजित किया जाता है. वर्ष 1955 में उसके स्थापना के पश्चात, सीएफएसआई ने बच्चों के लिए मनोरंजन और समृद्ध सामग्री का निर्माण, प्रदर्शन और वितरण किया है. अभिनेता और निर्देशक अमोल गुप्तेजी सीएफएसआई के अध्यक्ष हैं.

भारत के प्रहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरूजी ने आजादी के तुरंत बाद वर्ष 1955 में पंडित स्वदेशी और विशेष सिनेमा बनाकर उनकी रचनात्मकता, करुणा और महत्वपूर्ण सोच को प्रभावित करने के उम्मीद के साथ सीएफएसआई की स्थापना की. यह जवाहर लाल नेहरूजी की दृष्टि है जो अंतरराष्ट्रीय बाल चित्र महोत्सव, भारत को मार्गदर्शन करती है.