Search

भारतीय रेलवे की आरएसी, प्रतीक्षा सूची और तत्काल टिकटों के लिए सीट आवंटन प्रणाली की जानकारी

त्योहारों के सीजन की शुरूआत होने के साथ ही कई यात्रियों के द्वारा भारतीय रेलवे की वेबसाइट www.irctc.co.in पर कन्फर्म रेल टिकट बुक करने के लिए संघर्ष शुरू हो गया है| भारतीय रेलवे के सर्वश्रेष्ठ प्रयासों और इरादों के बावजूद यात्रियों के लिए कन्फर्म टिकट उपलब्ध कराना बहुत ही मुश्किल काम है, क्योंकि यात्रियों की संख्या बहुत अधिक है| अतः यात्रियों को भारतीय रेलवे की टिकट प्रणाली को समझने में मदद करने के लिए हम नीचे कुछ महत्वपूर्ण बिंदुओं का उल्लेख कर रहें है|
Aug 30, 2016 18:04 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon

त्योहारों के सीजन की शुरूआत होने के साथ ही कई यात्रियों के द्वारा भारतीय रेलवे की वेबसाइट www.irctc.co.in पर कन्फर्म रेल टिकट बुक करने के लिए संघर्ष शुरू हो गया है| हाल के दिनों में भारतीय रेलवे ने आईआरसीटीसी की वेबसाइट और ग्राहकों के लिए ई-टिकट प्रणाली को बेहतर करने के लिए कई सुधारों को लागू किया है| भारतीय रेलवे के सर्वश्रेष्ठ प्रयासों और इरादों के बावजूद यात्रियों के लिए कन्फर्म टिकट उपलब्ध कराना बहुत ही मुश्किल काम है, क्योंकि यात्रियों की संख्या बहुत अधिक है| भारतीय रेलवे के द्वारा जगह-जगह पर टिकट नेटवर्क की ऑनलाइन और ऑफलाइन सुविधा की उत्कृष्ट व्यवस्था है और नए-नए नियमों को लागू करने के बावजूद भी लोग कन्फर्म टिकट पाने की कोशिश में एक स्थान से दूसरे स्थान पर भटकते रहते हैं| इसके पीछे मुख्य कारण भारतीय रेलवे की सीट आरक्षण नीति के बारे में आम आदमी का अनभिज्ञ होना है| वास्तव में, भारतीय रेलवे के नियमित यात्रियों को भी भारतीय रेलवे की सीट आवंटन नीति एवं आरएसी या प्रतीक्षा सूची के टिकटों के कन्फर्म होने संबंधी नियमों के बारे में बहुत कम जानकारी है| इस अज्ञानता और यात्रियों द्वारा टिकट बुक कराते समय होने वाली मानसिक पीड़ा से बचने की कोशिश ने दलालों और घोटालेबाजों को इस अवसर का लाभ उठाने का एक मौका दिया है| इस तरह के दलाल कन्फर्म टिकट के एवज में यात्रियों से मोटी रकम वसूलते हैं | अतः दलालों से बचने के लिए और यात्रियों को भारतीय रेलवे की टिकट प्रणाली को समझने में मदद करने के लिए हम नीचे कुछ महत्वपूर्ण बिंदुओं का उल्लेख कर रहें है:

भारत की पर्वतीय रेलवे: एक नजर तथ्यों पर

सीट/बर्थ का आवंटन

भारतीय रेलवे में सीट आवंटन प्रक्रिया के लिए अग्रिम आरक्षण प्रणाली (ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों) लंबी दूरी की ट्रेनों के लिए यात्रा की तारीख से 120 दिन पहले खुलती है| सीट/बर्थ पहले आओ-पहले पाओ के आधार पर आवंटित की जाती है, जिसका अर्थ है कि आप यात्रा के लिए जितना पहले टिकट आरक्षित करवायेंगे आपके टिकट के कन्फर्म होने की संभावना उतनी ही अधिक होगी| एक विशेष दिन पर एक विशेष ट्रेन में अधिक टिकटों का आवंटन कन्फर्म टिकटों की उपलब्धता को कम करती है| एक बार जब एक ट्रेन में कन्फर्म सीट की उपलब्धता की सीमा समाप्त हो जाती है तो आरएसी और प्रतीक्षा सूची के टिकट एक निश्चित पूर्वनिर्धारित सीमा तक जारी किए जाते हैं।

आरएसी से कन्फर्म टिकट

जब कन्फर्म टिकटों की उपलब्धता समाप्त हो जाती है तो  भारतीय रेलवे आरएसी टिकट जारी करना शुरू करता है। आरएसी का अर्थ 'रद्दीकरण के आधार पर आरक्षण' है और यह वास्तव में अपने नाम के अनुसार ही कार्य करता है| अगर कोई यात्री पहले से आरक्षित टिकट रद्द करवाता है और उसे सीट/बर्थ आवंटित है तो इस स्थिति में आरएसी टिकट को कन्फर्म टिकट में परिवर्तित कर दिया जाता है| रेलवे द्वारा सीमित संख्या में आरएसी टिकट जारी किए जाते हैं और इसे जारी करते समय एक निश्चित ट्रेन में टिकटों की रद्दीकरण की औसत संख्या एवं पिछले वर्षों के रुझान का ध्यान रखा जाता है| आरएसी टिकट होने का सबसे बड़ा लाभ यह है कि रद्दीकरण की संख्या की परवाह किये बिना यह आपको आपकी यात्रा की तारीख पर ट्रेन की उसी श्रेणी में यात्रा करने की अनुमति देता है। आरएसी टिकट होने पर सबसे बड़ी हानि यह है कि आपको एक पूरी बर्थ के बजाय आधी सीट आवंटित की जाती है या आपको किसी अन्य आरएसी टिकट वाले व्यक्ति के साथ बर्थ साझा करना होगा |

Jagranjosh

Image source: www.quora.com

प्रतीक्षा सूची से कन्फर्म टिकट

भारतीय रेलवे आरएसी टिकटों की पूर्व निर्धारित संख्या जारी करने के बाद प्रतीक्षा सूची टिकट जारी करना शुरू करता है| प्रतीक्षा सूची के टिकट वे टिकट हैं जोकि प्रतीक्षा सूची में होते हैं और केवल तभी कन्फर्म हो सकते हैं जब सभी आरएसी टिकट कन्फर्म हो चुके हों| यहाँ ध्यान देने योग्य बात यह है की आरएसी टिकट आपको यात्रा की निर्धारित तिथि पर उस ट्रेन में यात्रा करने के लिए अनुमति देता है लेकिन प्रतीक्षा सूची के टिकट के साथ आप उस ट्रेन में यात्रा नहीं कर सकते हैं| (यह कथन केवल ई-टिकट के लिए सही है लेकिन विंडो टिकट वाले यात्री प्रतीक्षा सूची के टिकट के साथ भी यात्रा कर सकते हैं|) आम तौर पर, प्रतीक्षा सूची टिकट WL 15 के प्रारूप में जारी किए जाते हैं, जहां WL का अर्थ प्रतीक्षा सूची है जबकि 15 नंबर प्रतीक्षा सूची में आपकी स्थिति को दर्शाता है| जब एक कन्फर्म टिकट रद्द होता है तो प्रतीक्षा सूची में आपकी स्थिति भी WL15 से बेहतर होकर WL 14 हो जाती है। यदि 14 कन्फर्म टिकट रद्द होते हैं आपका टिकट आरएसी स्थिति में आ जाएगा और आप यात्रा की तिथि पर ट्रेन में यात्रा करने के लिए पात्रता हासिल कर लेंगे|
जानें भारत की 10 सबसे तेज गति की ट्रेन कौन सी हैं?

प्रतीक्षा सूची की स्थिति को देखना : प्रतीक्षा सूची के टिकट के बारे में एक और भ्रम इसके प्रारूप WL 15/10 के संबंध में है। मुख्य समस्या यह है कि यहाँ प्रतीक्षा सूची के बाद दो नंबर का उल्लेख है| यदि आपके टिकट पर उपरोक्त प्रारूप में प्रतीक्षा सूची वर्णित है तो इसका मतलब यह है कि प्रतीक्षा सूची में आपकी प्रारंभिक स्थिति 15 थी लेकिन अब तक 5 और टिकट रद्द हो चुके हैं और प्रतीक्षा सूची में आपकी वर्तमान स्थिति 10 है।

अफसोस (regret) प्रतीक्षा सूची:  यदि आप टिकट आरक्षित करते समय Regret/WL 215 प्रारूप देखते हैं तो इसका अर्थ है कि रेलवे ने इस ट्रेन में उस तिथि के लिए प्रतीक्षा सूची के टिकटों का आरक्षण बंद कर दिया है| इस बात की पुष्टि पिछले वर्षों के रुझान को देखकर और प्रतीक्षा सूची के टिकट की संभावनाओं का मूल्यांकन किए जाने के बाद किया जाता है। सरल शब्दों में कहे तो आप इस ट्रेन में वांछित तिथि के लिए प्रतीक्षा सूची की टिकट भी आरक्षित नहीं कर सकते हैं|
अन्य कोटा से टिकट का कन्फर्म होना

भारतीय रेलवे नेटवर्क में सभी ट्रेनों में कुछ खास वर्ग के लोगों के लिए पूर्व-निर्धारित कोटा (आरक्षित सीट) होता हैं| जैसे : वीआईपी कोटा (सरकारी अधिकारियों और राजनेताओं के लिए), विदेशी पर्यटकों के लिए कोटा, महिलाओं के लिए कोटा, विकलांग कोटा, दूरस्थ स्थान कोटा इत्यादि| यह आवश्यक नहीं है कि ये सभी कोटा टिकट सभी गाड़ियों में आरक्षित हो चुके हों| यदि किसी ट्रेन में ट्रेन के प्रस्थान समय से 4 घंटे पहले तक कोटा टिकट बचे हुए हैं तो उन्हें आरएसी और प्रतीक्षा सूची के टिकट को कन्फर्म करने के लिए सामान्य कोटा में शामिल कर लिया जाता है| इससे प्रत्येक ट्रेन में कुछ और सीटों के लिए जगह बनती है जिससे कुछ और भी आरएसी और प्रतीक्षा सूची टिकट कन्फर्म हो सकती है|

अंत में हम इस पूरी चर्चा को तीन वाक्यों में व्यक्त कर सकते हैं :

WL 10/4: आपकी प्रतीक्षा सूची टिकट की स्थिति में सुधार हुआ है, लेकिन यह कन्फर्म नहीं हुआ है अतः आप ई-टिकट के साथ यात्रा नहीं कर सकते हैं लेकिन विंडों टिकट के साथ यात्रा कर सकते हैं|

WL 10/आरएसी 2: आपकी प्रतीक्षा सूची टिकट की स्थिति आरएसी की हो गयी है और इसलिए आपके पास यात्रा करने की पात्रता है|

WL 10/CNF: आपकी प्रतीक्षा सूची टिकट कन्फर्म हो गयी है और आपके पास यात्रा करने की पात्रता है। आप अपने आवंटित सीट/बर्थ की जांच रेलवे स्टेशन पर उपलब्ध चार्ट में कर सकते हैं।

भारतीय अर्थव्यवस्था पर क्विज हल करने के लिये यहाँ क्लिक करें