Search

भारत के महान मुगल सम्राटों की सूची

मुगल राजवंश की स्थापना बाबर ने की थी जिसके पिता तैमुर वंश के थे जबकि माता चंगेज खां की वंशज थी| यहाँ भारत के महान मुग़ल शासकों की सूची दी जा रही है जो UPSC, PCS, SSC, NDA, CDS और रेलवे जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए बहुत ही उपयोगी है|
Jul 20, 2016 17:37 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon

मुगल राजवंश की स्थापना बाबर ने की थी जिसके पिता तैमुर वंश के थे जबकि माता चंगेज खां की वंशज थी| यहाँ भारत के महान मुग़ल शासकों की सूची दी जा रही है जो UPSC, PCS, SSC, NDA, CDS और रेलवे जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए बहुत ही उपयोगी है|

Jagranjosh

Source: world4.eu

भारत के महान मुगल सम्राटों की सूची

मुगल सम्राट

योगदान और उपलब्धि

बाबर (1526- 1530 ईस्वी)

  • मुगल साम्राज्य की स्थापना की
  • भारत में पहली बार बारूद (गन पाउडर) का प्रयोग किया था |
  • पानीपत की पहली लड़ाई में इब्राहिम लोधी को पराजित किया (1527 ईस्वी)
  • खानवा का युद्ध (1527 ईस्वी) में राणा सांगा  ( संग्राम सिंह )  को पराजीत किया
  • चंदेरी की लड़ाई (1528 ईस्वी) में चंदेरी के मेदिनी राय को हराया था |
  • अपनी आत्मकथा तुजुक  -ए- बाबरी, तुर्की में लिखा था|

हुमायूँ (1526- 1556 ईस्वी)

  •  दीनपनाह (दिल्ली) को दूसरी राजधानी के रूप में स्थापित किया|
  • शेर शाह सूरी के साथ दो लड़ाइयां लड़ी - चौसा (1539 ईस्वी) की लड़ाई ; कन्नौज की लड़ाई (1540 ईस्वी)
  • 1556 ई. में अपने पुस्तकालय भवन की सीढ़ियों से गिरने के कारण मृत्यु हो गई थी |
  • हुमायूँ की जीवनी हुमायूं – नामा उसके सौतेली बहन गुलबदन बेगम ने लिखा था |

अकबर  (1566- 1565 ईस्वी)

  • मनसबदारी प्रथा (रैंक के धारक) , सज्जनता और सेना को व्यवस्थित करने के लिए स्थापित किया। 
  • गुजरात पर विजय के उपलक्ष्य में बुलंद दरवाजे  का निर्माण करवाया था|  
  • राल्फ फिच पहले अंग्रेज थे जो 1585 में अकबर के दरबार में आया था |
  • जजिया कर  (1564 ईस्वी ) को समाप्त कर दिया; सुलह  -ए- कुल  (सभी के लिए शांति) पे जोर दिया था।
  • इबादत खाना ( प्रार्थना के हॉल ) को फतेहपुर सीकरी में निर्मित किया
  • 1579 में " अचूकता की डिग्री" (Degree of infallibility) जारी किया था ।
  • दीन -ए- इल्लाहि  ( 1582 ईस्वी) धर्म को निरुपित किया। 
  • दरबार के नौ रत्न (नवरत्न)
  1. बीरबल
  2. तानसेन
  3. फैजी
  4. महाराजा मान सिंह
  5. फकीर अजीओ दिन
  6. मिर्जा अजीज कोका
  7. टोडर मल
  8. अब्दुर रहीम खान -ए- खाना
  9. अबुल फजल

नोट:  मुल्ला -दो - प्याज़ा अकबर के नौ रत्नों में से एक था या नहीं इस बात पर अस्पष्टता नहीं है। कुछ सूत्रों का कहा गया है कि यह काल्पनिक चरित्र था और कुछ इससे  अकबर का  सलाहकार कहते हैं।

जहाँगीर(1605-1627 ईस्वी)

  • सिखो के पांचवें गुरु, गुरु अर्जुन देव को प्राणदंड दिया। 
  • शाही न्याय के साधक के लिए आगरा फोर्ट पर ज़ंजीर  -ए- अदल की  स्थापना की।
  • कैप्टन हॉकिन्स और सर थॉमस रो ने दरबार का दौरा किया था ।
  • अब्दुल हसन, उस्ताद मंसूर और बिशनदास  दरबार के प्रसिद्ध चित्रकारों में से थे ।

शाहजहाँ (1628-1658 ईस्वी)

  • दो फ्रांसीसी बर्नियर और तवरनिेर  और इतालवी मनुक्की ने  दरबार  का दौरा किया था |
  • आगरा में  मोती मस्जिद और ताजमहल , दिल्ली में लाल किला और जामा मस्जिद  निर्मित किया ।
  • अहमदनगर और बीजापुर को कब्जे में लिया और गोलकुंडा को अपने आधिपत्य के लिए बाध्य किया।

औरंगजेब (1658-1707 ईस्वी)

  • इस्लामी धर्मशास्त्र और न्यायशास्त्र के महान विद्वान। उन्होंने हुक्म के मानक (फतवा-उल आलमगिरी) से आधिकारिक मार्ग संकलन करने के लिए और हनाफी  के मार्गदर्शन के लिए  फतवत -ए- आलमगिरी ' जारी किया गया, जिसको 1672 में पूरा किया गया और  उलेमा के एक बोर्ड को नियुक्त किया था ।
  • महत्वपूर्ण ऐतिहासिक कार्य: मुताखाब -उल-लुबाब काफी खान द्वारा ; मिर्जा मोहम्मद काजिम द्वारा आलमगीर नामा ; मसिर -ए- आलमगिरी मुहम्मद साकी द्वारा  ; फतुहत -ए-आलमगिरी ईस्वर  दास द्वारा
  • 1675 ई में नौवें सिख गुरु, गुरु तेग बहादुर को मार डाला।
  • दरवेश या एक ज़िदा फकीर के नाम से जाना जाता है। 
  • सती प्रथा को अस्वीकृति दिया था ।
  • औरंगाबाद में बीवी का मक़बरा ; दिल्ली के लाल किले में मोती मस्जिद; जामी या बादशाही मस्जिद लाहौर में निर्मित किया।

बहादुर शाह  I (1707-1712 ईस्वी)

  • दूसरा नाम शाह आलम I
  • ख़फ़ी  खान ने  उन्हें शाही-ए- बेखबर नाम दिया था  क्युकी बादशाह अपने पुरस्कार की अनुदान के  लिए जाने जाते थे ।
  • उसके दो भाइयों की मौत हो गई, और जजऊ की लड़ाई में खां बख्श को हराने के बाद 1707 में सिंहासन पर काबिज़ हुआ । ये आखिरी मुग़ल शासक था जिसने मुग़ल शासन के सभी अधिकारो का आनंद लिया था।
  • डेक्कन को सर्देश  मुखी को इकट्ठा करने का और मराठों को चौथ को इकट्ठा करने का अधिकार नहीं दिया।

जहंदर शाह  (1712-1713 ईस्वी)

  • मारवाड़ के अजीत सिंह को ' महाराजा ' का ख़िताब और  मालवा के जय सिंह को ' मिर्जा राजा' का खिताब दिया था ।
  • इजारा  प्रणाली को  प्रोत्साहित किया ( राजस्व खेती / अनुबंध खेती ) और जज़िया को समाप्त कर दिया ।
  • प्रथम मुगल शासक जिसको सय्यद बन्धु- अब्दुल्लाह  खान और अली हुसैन सैयद ने मार डाला ( हिन्दुस्तानी पार्टी के नेता थे)।

फरूखसियार  (1713-1719 ईस्वी)

  • शाहिद -ए- मज़लूम  ' के रूप में और अजीम - ऊस -शाह के बेटे जाना जाता है।
  • चिन क्वीलच खान (निजाम -उल -मुल्क) को डेक्कन के गवर्नर बनया गया  जिसने  बाद में हैदराबाद के स्वतंत्र राज्य की नींव रखी|
  • पेशवा बालाजी विश्वनाथ चौथ और सरदेश मुखी कर  की स्‍वीकृत के लिए दरबार का दौरा किया।

मुहम्मद शाह  (1719- 1748 ईस्वी)

  • उसके नाम रोशन अख्तर था। इसके अलावा रंगीला  बुलाया जाता था ।
  • मुगल इतिहास में पहली बार बाजीराव (मराठा) ने  दिल्ली में छापा मारा था।
  • फारस के नादिर शाह ने सआदत खान की मदद से मुगल सेना को पराजित किया (करनाल लड़ाई) । 

अहमद शाह  (1748- 1754 ईस्वी)

  • अहमद शाह अब्दाली , नादिर शाह के पूर्व जनरल ने शासनकाल के दौरान भारत पर पांच बार आक्रमण किया।

आलमगीर  (1754- 1759 ईस्वी)

  • 'अज़ीज़उद्दीन ' कहा जाता है ।
  • शासनकाल के दौरान, प्लासी की लड़ाई हुई थी।

शाह आलम II (1759- 1806 ईस्वी)

  • ' अली गौहर ' नाम से लोकप्रिय था जो 1764 ईसवी में बक्सर की लड़ाई में हार गया था ।
  • पानीपत की तीसरी लड़ाई , इसी के शासनकाल में हुई थी ।
  • 1772 तक वह बिहार, बंगाल और उड़ीसा के अपने सभी दीवानी अधिकार नहीं था, लेकिन महजि  सिंधिया की मदद के साथ 1772 के बाद , वह अपने सभी दीवानी अधिकार वापस ले लिया था ।
  • प्रथम मुगल शासक जो ईस्ट इंडिया कंपनी पेंशनभोगी था।

अकबर  II (1806- 1837 ईस्वी)

  • प्रथम मुगल शासक जिसको  ब्रिटिश संरक्षण मिला था |
  • कार्यकाल के दौरान मुगल साम्राज्य केवल लाल किले तक सिमट के रह गयी थी ।

बहादुर शाह  II (1837- 1857 ईस्वी)

  • अकबर द्वितीय और राजपूत राजकुमारी लाल बाई का बेटा था
  • अंतिम शासक मुगल साम्राज्य था।
  • शासनकाल के दौरान 1857 विद्रोह हुआ था और इनको विद्रोह का नेता बनाया गया था जिसके कारण रंगून ले जा कर बंधी बनाया गया था और वही इनकी मृत्यु हो गयी|
  • वे बहुत अच्छे उर्दू कवि थे और जफर नाम से कविता लिखा करते थे ।

पूरा अध्ययन सामग्री के लिए लिंक पर क्लिक करें

आधुनिक भारत का इतिहास

मध्यकालीन भारत का इतिहास

प्राचीन भारत के इतिहास

भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन का सारांश

प्रश्न और उत्तर भारतीय इतिहास पर