Search

भारत में सेवा क्षेत्र

आज भारत के सेवा क्षेत्र का देश के सकल घरेलू उत्पाद में आधे से अधिक योगदान है।
Sep 10, 2014 15:09 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon

आज भारत के सेवा क्षेत्र का देश के सकल घरेलू उत्पाद में आधे से अधिक योगदान है। आकड़ों के मुताबिक सकल घरेलू उत्पाद मे सेवा क्षेत्र का योगदान 55.1 प्रतिशत,कृषि का 18.5 प्रतिशत एवं उद्योगों का 26.4 प्रतिशत है. यह भारतीय अर्थव्यावस्था में सेवा क्षेत्र के महत्व  को दर्शाता है. अब जब सेवा क्षेत्र सकल घरेलू उत्पाद में आधे से अधिक योगदान कर रहा है तो यह भारतीय अर्थव्यावस्था के विकास की एक प्रमुख उपलब्धी है, वास्तव में यह इसे विकसित अर्थव्यावस्था ओर ले जा रहा है. नव्वे के दशक में सेवा क्षेत्र में उल्लेखनीय बढ़त हुई. 1950 से लेकर 2000 तक के पचास सालों में सेवा क्षेत्र का भारत के सकल घरेलू उत्पाद में योगदान 21 प्रतिशत की दर से बढ़ा जबकि नव्वे के दशक में यह दर 40 प्रतिशत हो गयी.

सेवा क्षेत्र  की रचना

देश में राष्ट्रीय आय का जो विभाजन सांखिकी संगठन द्वारा किया गया है वो यहां पर दिया जा रहा है ।भारत मे सेवा क्षेत्र राष्ट्रीय आय की निम्नलिखित को जोड़ता है

1. व्यावसाय, होटल और रेस्टोरेंट

• व्यावसाय
• रेस्टोरेंट तथा होटल

2. परिवहन, भंडारण एवं संचार

• रेलवे
• परिवहन के अन्य साधन
• भंडारण
• संचार

3. वित्त, बीमा, रियल एस्टेट तथा व्यापारिक सेवाएं

• बैकिंग तथा बीमा
• रियल एस्टेट, मकान का स्वामित्व और व्यापारिक सेवाएं

4. समुदाय,सामाजिक व निजी सेवाएं

• लोक प्रशासन तथा रक्षा
• अन्य सेवाएं