Comment (0)

Post Comment

4 + 2 =
Post
Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.

    भारत में स्थित प्रमुख दर्रे

    पर्वतों के आर-पार विस्तृत सँकरे और प्राकृतिक मार्ग, जिससे होकर पर्वतों को पार किया जा सकता है, दर्रे कहलाते हैं| परिवहन, व्यापार, युद्ध अभियानों और मानवीय प्रवास में इन दर्रों की महत्वपूर्ण भूमिका रही है| भारत के अधिकतर दर्रे हिमालय क्षेत्र में पाये जाते हैं|
    Created On: May 10, 2016 13:10 IST

    पर्वतों के आर-पार विस्तृत सँकरे और प्राकृतिक मार्ग, जिससे होकर पर्वतों को पार किया जा सकता है, दर्रे कहलाते हैं| परिवहन, व्यापार, युद्ध अभियानों और मानवीय प्रवास में इन दर्रों की महत्वपूर्ण भूमिका रही है| भारत के अधिकतर दर्रे हिमालय क्षेत्र में पाये जाते हैं| 

    भारत में स्थित महत्वपूर्ण दर्रे

    नाम

    राज्य

    ऊँचाई (फीट )

     विभाजक/संयोजक

    असीरगढ़

    मध्य प्रदेश



    बनिहाल

    जम्मू एवं कश्मीर

    9,291

    जम्मू एवं कश्मीर

    बारा ला चाला

    हिमाचल प्रदेश

    16,400

    यह मंडी और लेह को आपस में जोड़ता है|

    बोमडिला

    अरुणाचल प्रदेश



    चांग ला

    जम्मू एवं कश्मीर (लद्दाख)

    17,585

    लेह और चांगथांग

    चंसल

    हिमाचल प्रदेश

    14,830


    देहरा कम्पास

    जम्मू एवं कश्मीर (लद्दाख)



    देब्सा

    हिमाचल प्रदेश

    17,520


    डिफू

    अरुणाचल प्रदेश

    4,587


    डोंगखाला

    सिक्किम

    12,000


    धूमधर कंडी

    उत्तराखंड



    फोटू ला

    जम्मू एवं कश्मीर (लद्दाख)

    13,451


    गोएचा ला

    सिक्किम

    16,207


    हल्दी घाटी

    राजस्थान



    इंद्रहार

    हिमाचल प्रदेश

    14,473


    जेलेप ला

    सिक्किम

    14,300

    सिक्किम और भूटान के बीच के मार्ग उपलब्ध कराता है और इसका निर्माण तीस्ता नदी द्वारा किया गया है|

    खारडुंग ला

    जम्मू एवं कश्मीर (लद्दाख)

    17,582

    लेह और नूब्रा

    कोंग्का

    जम्मू एवं कश्मीर (लद्दाख)

    16,965

    लद्दाख और अक्साईचिन

    लानक ला

    जम्मू एवं कश्मीर (लद्दाख)

    17,933

    लद्दाख और तिब्बत

    कुंजुम

    हिमाचल प्रदेश (लाहौल-स्पीति)

    14,931

    लाहौल और स्पीति

    काराकोरम

    जम्मू एवं कश्मीर (लद्दाख)


    लद्दाख और सिंजियांग

    लिपुलेख

    उत्तराखंड

    17,500


    लुंगालाचा ला

    जम्मू एवं कश्मीर (लद्दाख)

    16,600


    लम्खागा

    हिमाचल प्रदेश

    17,336


    मार्सिमिक ला

    जम्मू एवं कश्मीर (लद्दाख)

    18,314


    मयाली

    उत्तराखंड

    16,371


    माना ला

    उत्तराखंड

    18,399

    कैलाश और मानसरोवर को जाने वाला मार्ग इसी से होकर गुजरता है

    नामिक ला

    जम्मू एवं कश्मीर (लद्दाख)

    12,139


    नाथू ला

    सिक्किम

    14,140

    यह दार्जिलिंग व चुंबी घाटी (सिक्किम) और तिब्बत के बीच मार्ग उपलब्ध कराता है

    पलक्कड गैप

    केरल

    750

    केरल और तमिलनाडु

    थामारासेरी

    केरल (वायनाड)

    1,700

    मालाबार और मैसूर

    शेनकोट्टा

    केरल (कोल्लम)

    690


    पेंसी ला

    जम्मू एवं कश्मीर (लद्दाख)



    रेजांग ला

    जम्मू एवं कश्मीर (लद्दाख)



    रोहतांग

    हिमाचल प्रदेश

    13,051

    मनाली और लेह को आपस में जोड़ता है और पीर पंजाल पहाड़ियों में स्थित है|

    सासेर ला

    जम्मू एवं कश्मीर (लद्दाख)

    17,753

    नूब्रा और सियाचिन हिमनद

    सेला

    अरुणाचल प्रदेश

    14,000


    शिपकी ला

    हिमाचल प्रदेश


    शिमला से तिब्बत को को जाने वाला मार्ग यहीं से गुजरता है और सतलज नदी इसी दर्रे से होकर भारत में प्रवेश करती है|

    सिया ला

    जम्मू एवं कश्मीर (सियाचिन हिमनद)

    18,337


    शिंगों ला

    जम्मू एवं कश्मीर (लद्दाख)



    स्पंगुर गैप

    जम्मू एवं कश्मीर (लद्दाख)



    ग्योंग ला

    जम्मू एवं कश्मीर (सियाचिन हिमनद)

    18,655


    बिलाफ़ोंड ला

    जम्मू एवं कश्मीर (सियाचिन हिमनद)

    17,881


    सिन ला

    उत्तराखंड



    तंगलांग ला

    जम्मू एवं कश्मीर (लद्दाख)

    17,583


    ट्रैल्स

    उत्तराखंड

    17,100


    ज़ोजिला

    जम्मू एवं कश्मीर

    12,400

    कश्मीर और लद्दाख

    नीति

    उत्तराखंड


    कैलाश और मानसरोवर को जाने वाला मार्ग इसी से होकर गुजरता है|