Search

ममता बनर्जी

ममता बनर्जी एक अनुभवी राजनेत्री होने के साथ ही पश्चिम बंगाल की आठवीं मुख्य मंत्री भी हैं|
Apr 25, 2014 18:08 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon

Mamata Banerjee

ममता बनर्जी एक अनुभवी राजनेत्री होने के साथ ही पश्चिम बंगाल की आठवीं मुख्य मंत्री भी हैं| बंगाल के मुख्य मंत्री पद पर आसीन होने वाली यह पहली महिला हैं| इनका जन्म कोलकाता, पश्चिम बंगाल में 5 जनवरी 1955 को हुआ था|

पारिवारिक विवरण

ममता का जन्म एक बंगाली परिवार में हुआ, इनके पिता का नाम श्री प्रोमिलेश्वर बनर्जी एवं माता का नाम श्रीमती गायत्री देवी था| जब ममता 9 वर्ष की थी तभी इनके पिता की मृत्यु हो गयी थी. ममता अविवाहित हैं|

जीवन वृत्ति

ममता ने इतिहास (ओनर्स) में जोगमाया कालेज से स्नातक की डिग्री प्राप्त की, इसके बाद इस्लामिक इतिहास में कलकत्ता विश्व विद्यालया से इन्होने परा स्नातक किया | तत्पश्चात, एजुकेशन मे श्री शिक्षयटन से तथा लॉ में जोगेश चंद्र चौधरी कालेज से डिग्री प्राप्त की | इन्होने कॉंग्रेस (ई) दल की सदस्यता ग्रहण की तथा कई पदों पर रहते हुए कार्य किया |

व्यवसाय

1976 – 1980: ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल में महिला कांग्रेस (ई) की महासचिव थीं|

1978 – 1981: ममता बनर्जी दक्षिण कलकत्ता के जिला कांग्रेस समिति की सचिव थीं|

1984: ममता बनर्जी आठवीं लोकसभा की सदस्या चुनी गयीं|

1985 – 1987: ममता बनर्जी अनुसूचित जाती व जनजाति कल्याण समिति की सदस्या थीं|

1987 – 1988: ममता बनर्जी इनकी सदस्या थीं|

• मानव संसाधन विकास मंत्रालय की सलाहकारी समिति की|

• अखिल भारतीय युवा कॉंग्रेस (ई) की राष्ट्रीय समिति|

• गृह मामलों के मंत्रालय की सलाहकारी समिति|

1988: ममता बनर्जी कॉंग्रेस पार्लिमेंटरी पार्टी में कार्यकारी सदस्या थीं|

1989: ममता बनर्जी प्रदेश कॉंग्रेस कमिटी में भी कार्यकारी समिति सदस्या थीं I

1990: ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल के युवा कांग्रेस की अध्यक्षा रहीं I

1991: ममता बनर्जी 10वीं लोकसभा की सदस्या छुई गयी I

1991 – 1993: ममता बनर्जी यूनियन मिनिस्टर ऑफ स्टेट थीं I

1993 – 1996: ममता बनर्जी गृह मामलों के समिति की सदस्या थीं I

1995 – 1996: ममता बनर्जी:

• लोक लेखा समिति की सदस्या थीं I

• गृह मामलों के विभाग की सलाहकारी परिषद की सदस्या थीं I

1996: ममता बनर्जी 11वीं लोकसभा की सदस्या चुनी गयीं I

1996 – 1997: ममता बानेर्जी इनकी सदस्या थीं:

•  गृह मंत्रालय की सलाहकारी समिति की सदस्या I

•  गृह मामलों की समिति की I

1997: ममता बनर्जी ने ऑल इंडिया तृणमूल कॉंग्रेस की स्थापना की तथा इसकी अध्यक्षा बनीं I

1998: ममता बनर्जी पुनः 12वीं लोकसभा की सदस्या चुनी गयी I 

1998 – 1999: ममता बनर्जी:

रेलवे समिति की अध्यक्षा I

गृह मंत्रालय के सलाहकारी समिति की सदस्या I

लोक मामलों की सदस्या I

1999: ममता बानेर्जी :

13वीं लोकसभा की सदस्या I

लोक मामलों की समिति की सदस्या नियुक्त I

लोक सभा में ऑल इंडिया तृणमूल कॉंग्रेस का नेतृत्व किया I

अक्तूबर 1999 -  मार्च 2001:  ममता बनर्जी रेल मंत्री रहीं I

2001 – 2003: ममता बनर्जी उद्योगों के मंत्रालय की सलाहकारी सदस्या बनीं I 

9 जनवरी 2004 - मई 2004: ममता बनर्जी ने कोयला व खनन की केंद्रीय मंत्री के रूप मे कार्य किया I

2004: ममता बनर्जी छठवीं बार 14वीं लोक सभा की सदस्या बनीं I

2006: ममता बनर्जी को गृह मंत्रालय समिति की सदस्या बनाया गया I

2009: ममता बनर्जी 15वीं लोकसभा की सदस्या बनीं I

31 मई 2009 - 19 जुलाई 2011: ममता बानेर्जी :

रेल मंत्री रहीं I

ऑल इंडिया तृणमूल कॉंग्रेस का लोकसभा में नेतृत्व किया I

अक्तूबर 2011: ममता बनर्जी ने 15वीं लोकसभा सदस्या के पद से इस्तीफ़ा दे दिया I

मई 2011: ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल की प्रथम महिला मुख्य मंत्री बनीं I

उपलब्धि:

ममता बनर्जी 19997 में कांग्रेस से अलग होने के बाद सफलतापूर्वक नवीन दल की स्थापना किया I

• 2002 में, जब ममता रेल मंत्री थीं तो उन्होने कई नयी नयी ट्रेनें चलाने के साथ , नयी एक्सप्रेस सेवाएँ, ट्रेनों की आवाजाही पर ध्यान दिया तथा पर्वतीय पर्यटन को बढ़ावा दिया तथा आईआरसीटिसी को नियोजित किया I

• ममता बनर्जी 20 अक्तूबर 2005 को  कृषकों की भूमि हड़पने के विरोध में एक बहुत बड़ा आंदोलन किया I

पुस्तकें

ममता बनर्जी द्वारा लिखी गयी बंगाली मे पुस्तकें:

• उपलब्धि

• ज़नतर डरबारे

• मा – माटी - मानुष

• मानविक

• अनुभूति

मदरलैण्ड

• तृणमूल

• अशुभो शंकेत

• जनमैनी

• जागो बांग्ला

• आंदोलनेर कथा

• गानोतनतरे लज्जा

ममता बनर्जी द्वारा लिखी गयी अँग्रेज़ी में पुस्तकें:

• स्लॉटर ऑफ डेमॉक्रेसी

• स्माइल

• डार्क हराइज़न

• स्ट्रगल फॉर एग्ज़िस्टेन्स

प्रकाश करात

उद्धव ठाकरे

खुशवंत सिंह: जीवनी

मनमोहन सिंह