Search

राहुल गाँधी

राहुल गाँधी भारत के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गाँधी एवं कॉंग्रेस अध्यक्षा सोनिया गाँधी के पुत्र हैं.
Apr 19, 2014 16:40 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon

Rahul Gandhi

राहुल गाँधी भारत के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गाँधी एवं कॉंग्रेस अध्यक्षा सोनिया गाँधी के पुत्र हैं. राहुल गाँधी व उनकी बहन प्रियंका गाँधी अपने जन्म से ही प्रसिद्धि के चरम पर रहे. राहुल गाँधी का जन्म 17 जून 1970 को हुआ. सन 2004 से ही राहुल गाँधी उत्तर प्रदेश के अमेठी से लोकसभा के सदस्य रहे हैं. सन 2007 से यह भारतीय राष्ट्रीय कॉंग्रेस के महासचिव के रूप दल में युवा व विद्यार्थी संगठन के नियंत्रणकर्ता के रूप में कार्यरत हैं. जनवरी 2013 से यह भारतीय राष्ट्रीय कॉंग्रेस के उपाध्यक्ष के रूप मे आसी हैं.

पारिवारिक विवरण

इनका जन्म दिल्ली मे हुआ. यह सोनिया गाँधी व पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गाँधी के 2 बच्चों में बड़े हैं. उनकी दादी भारत की पूर्व प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गाँधी थी एवं उनके पिता पंडित जवाहर लाल नेहरू भारत के प्रथम प्रधानमंत्री थे.

जीवन वृत्ति

1981 से 1983 तक दून स्कूल में जाने से पहले राहुल ने दिल्ली के संत कोलंबस स्कूल में पढ़ाई की थी. उसी बीच उनके पिता राजीव गाँधी ने राजनीति में पदार्पण आते हुए .31 अक्तूबर 1984 में भारत के प्रधान मंत्री पद पर आसीन हुए जब पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी की हत्या कर दी गयी थी. अतः परिवार की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए राहुल व प्रियंका के लिए घर में ही स्कूल की व्यवस्था कर दी गयी.

सन 1991 में राहुल ने सेंट स्टीफ़न कॉलेज में दाखिला लिया किंतु पुनः सुरक्षा की दृष्टि से उन्हें रॉलिंस कॉलेज में स्थानांतरित किया गया जहा से उन्होने 1994 में बी. ए. की पढ़ाई पूरी की, जिसके बाद वह एम. फील. की पढ़ाई के लिए 1995 में कैंब्रिज के ट्रिनिटी कॉलेज गये.  इसके बाद वह लंडन के मॉनिटर ग्रुप में काम किया. 2002 में बैक अप सर्विस प्राइवेट लिमिटेड के एक निदेशकों मे से एक बन गये थे.

व्यवसाय   

  • 2004 में अपने पिता के सांविधानिक क्षेत्र अमेठी, उत्तर प्रदेश से अपने राजनीति में पदार्पण की घोषणा करते हुए चुनाव में खड़े हुए.
  • 2007 में  पार्टी सचिवालय का पुनर्गठन करते हुए उन्हें अखिल भारतीय कॉंग्रेस कमेटी का महासचिव बनाया गया.  इसी के साथ उन्हें अखिल भारतीय युवा कॉंग्रेस व राष्ट्रीय विद्यार्थी संगठन की भी ज़िम्मेदारी सौंप दी गयी. 2008 में वरिष्ठ कॉंग्रेस सदस्य वीरप्पा मोइली ने राहुल को प्रधान मंत्री पद के लिए अपने विचार तब दिए जबकि प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह विदेश दौरे पर थे.
  • 2013 में राहुल ने आधिकारिक रूप से कॉंग्रेस के उपाध्यक्ष के रूप में पद ग्रहण किया. उपाध्यक्ष के रूप में यह सोनिया गाँधी के बाद द्वितीय स्थान पर आते हैं.
  • पूर्व में राहुल गाँधी गृह मंत्रालय, मानव संसाधन विकास एवं नागरिक उड्डयन के सलाहकारी समिति में  संसदीय स्थाई समिति के सदस्य थे.
  • वर्तमान में यह वित्त मंत्रालय एवं ग्रामीण विकास मंत्रालय की सलाहकारी समिति के स्थाई समिति के सदस्य हैं.
  • यह राजीव गाँधी फाउनदेशन में न्यासी के रूप में भी असीन हैं.

उपलब्धि

  • 2004 में लोकसभा चुनाव में विजयी होते हुए भारतीय राजनीति में प्रवेश.
  • ए आई सी सी के महा सचिव नियुक्त होने के साथ ही एन एस यू आई व युवा कॉंग्रेस की कमान भी सौंपी गयी.
  • 2009 के चुनावों में राहुल की वजह से कॉंग्रेस को उत्तर प्रदेश में 20 सीटों की अप्रत्याशित विजय प्राप्त हुई थी.
  • राहुल की धर्मनिरपेक्षता में विश्वास ही उन्हें सही मायनों में नेता बनाता है.
  • राहुल नरेंद्र मोदी की गुजरात हिंसा में मुस्लिम संप्रदाय के नरसंहार को सामने लाने वाले में से एक थे.
  • राष्ट्र विकास में युवा संलग्नता को हमेशा ही इन्होंने बढ़ावा दिया है.

पुस्तक व प्रलेख

आरती रामचंद्रन, जो की एक राजनीतिक पत्रकार हैं तथा बिजनेस स्टॅंडर्ड व द एकनामिक टाइम्स के साथ कार्यरत हैं, इन्होने कॉंग्रेस के पिछले कुछ वर्षों पर प्रकाश डालते हुए राहुल के राजनीतिक जीवन को बहुत अच्छी तरह से उभरा है. इनके द्वारा लिखी हुई पुस्तक 'डिकोडिंग राहुल गाँधी' में उनके राजनीतिक यात्रा का बखूबी वर्णन किया है.

वर्तमान खबर

2014 के लोकसभा चुनाव में राहुल अमेठी सांविधानिक क्षेत्र से खड़े हो रहे है.

राजनाथ सिंह

लाल कृष्ण आडवाणी

नरेंद्र मोदी

अरविंद केजरीवाल