Search

विभिन्न राज्यों में आवंटित लोकसभा सीटों का विवरण

लोकसभा को भारतीय संसद का निम्न सदन या आम जनता का सदन कहा जाता है। लोक सभा वयस्क मताधिकार के आधार पर लोगों द्वारा प्रत्यक्ष मतदान से चुने हुए प्रतिनिधियों से गठित होती है। लोकसभा की कार्यावधि 5 वर्ष है परंतु इसे समय से पूर्व भंग किया जा सकता है|
Sep 9, 2016 09:28 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon

लोकसभा को भारतीय संसद का निम्न सदन या आम जनता का सदन कहा जाता है। लोक सभा वयस्क मताधिकार के आधार पर लोगों द्वारा प्रत्यक्ष मतदान से चुने हुए प्रतिनिधियों से गठित होती है। भारतीय संविधान के अनुसार सदन में सदस्यों की अधिकतम संख्या 552 तक हो सकती है, जिसमें से 530 सदस्य विभिन्न राज्यों का और 20 सदस्य केन्द्र शासित प्रदेशों का प्रतिनिधित्व कर सकते हैं। सदन में पर्याप्त प्रतिनिधित्व नहीं होने की स्थिति में भारत का राष्ट्रपति यदि चाहे तो आंग्ल-भारतीय समुदाय के 2 प्रतिनिधियों को लोकसभा के लिए मनोनीत कर सकता है। लोकसभा की कार्यावधि 5 वर्ष है परंतु इसे समय से पूर्व भंग किया जा सकता है|

भारतीय संसद

सभी भारतीय राज्यों/केन्द्रशासित प्रदेशों में लोकसभा सदस्यों की सूची

राज्य

लोकसभा सदस्यों की संख्या

1. उत्तर प्रदेश

80

2. महाराष्ट्र

48

3. पश्चिम बंगाल  

42

4. बिहार

40

5. तमिलनाडु

39

6. मध्य प्रदेश

29

7. कर्नाटक

28

8. गुजरात

26

9. राजस्थान

25

10. आंध्र प्रदेश

25

11. ओडिशा

21

12. केरल

20

13. तेलंगाना  

17

14. असम

14

15. झारखण्ड

14

16. पंजाब

13

17. छत्तीसगढ़

11

18. हरियाणा

10

19. जम्मू एवं कश्मीर

6

20. उत्तराखण्ड

5

21. हिमाचल प्रदेश

4

22. अरुणाचल प्रदेश

2

23. गोवा

2

24. मणिपुर

2

25. मेघालय

2

26. त्रिपुरा

2

27. मिजोरम

1

28. नागालैंड

1

29. सिक्किम

1

केन्द्रशासित प्रदेश

लोकसभा सदस्यों की संख्या

1. दिल्ली

7

2. अंडमान निकोबार द्वीपसमूह

1

3. चण्डीगढ़

1

4. दादरा एवं नागर हवेली 

1

5. दमन एवं दीव

1

6. लक्षद्वीप

1

7. पुदुचेरी

1

कुल

543

भारत के लोकसभा अध्यक्षों की सूची