Search

सातवीं पंचवर्षीय योजना (1985-1990)

सातवीं पंचवर्षीय योजना में प्रौद्योगिकी के विकास के माध्यम से उद्योगों की दक्षता स्तर में सुधार लाने पर जोर दिया गया था.
Aug 19, 2014 11:36 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon

सातवीं पंचवर्षीय योजना के मुख्य बिंदु इस प्रकार है:

  • सातवीं पंचवर्षीय योजना सत्ता में कांग्रेस पार्टी का मुंहतोड़ जवाब प्रकट करता है. सातवीं पंचवर्षीय योजना में प्रौद्योगिकी के विकास के माध्यम से उद्योगों की दक्षता स्तर में सुधार लाने पर जोर दिया गया था.
  • सातवीं पंचवर्षीय योजना का मुख्य उद्देश्य, आर्थिक उत्पादकता को बढ़ावा देना, रोजगार और खाद्यान्न के उत्पादन में वृद्धि करना था.
  • पाँचवे और छठे पाचवर्षीय योजना के परिणाम स्वरुप सातवी पंचवर्षीय योजना के समक्ष ढेर सारे लक्ष्य विद्यमान थे. जैसे कृषि को बढ़ावा देना रोजगार में वृद्धि करना खाद्यान के उत्पादन में वृद्धि करना मुद्रास्फीति को कम करना और आर्थिक विकास को बढ़ावा देने के लिए व्यापार संतुलन को ठीक करना आदि. सातवीं पंचवर्षीय योजना बड़े पैमाने पर समाजवाद को बढ़ावा देने और ऊर्जा उत्पादन में वृद्धि की दिशा में प्रयासरत था.
  • सातवीं पंचवर्षीय योजना के दौरान विकास लक्ष्य 5.0% थी और वास्तविक विकास 5.7% थी.