Search

सुंदरबन राष्ट्रीय उद्यान लोकप्रिय क्यों: तथ्यात्मक विश्लेषण

सुंदरबन, विश्व का सबसे बड़ा डेल्टा, 10,200 वर्ग किमी में है जो भारत और बांग्लादेश में फैला है। भारतीय सीमा के भीतर आने वाले वन का हिस्सा सुंदरबन राष्ट्रीय उद्यान कहलाता है। यह पश्चिम बंगाल के दक्षिणी हिस्से में है। सुंदरबन 38,500 वर्ग किमी इलाके को कवर करता है। इसका एक–तिहाई भाग पानी/ दलदल से बना है। इस वन में बड़ी संख्या में सुंदरी पेड़ हैं। सुंदरबन रॉयल बंगाल टाइगर के लिए विश्व प्रसिद्ध है।
Jul 7, 2016 09:56 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon

सुंदरबन, विश्व का सबसे बड़ा डेल्टा, 10,200 वर्ग किमी में है जो भारत और बांग्लादेश में फैला है। भारतीय सीमा के भीतर आने वाले वन का हिस्सा सुंदरबन राष्ट्रीय उद्यान कहलाता है। यह पश्चिम बंगाल के दक्षिणी हिस्से में है। सुंदरबन 38,500 वर्ग किमी इलाके को कवर करता है। इसका एक–तिहाई भाग पानी/ दलदल से बना है। इस वन में बड़ी संख्या में सुंदरी पेड़ हैं। सुंदरबन रॉयल बंगाल टाइगर के लिए विश्व प्रसिद्ध है।

सुंदरबन राष्ट्रीय उद्यान का स्थानः

Jagranjosh

सुंदरबन राष्ट्रीय उद्यान में सुंदरी पेड़ः

Jagranjosh

सुंदरबन राष्ट्रीय उद्यान के जीवजन्तुः

Jagranjosh

सुंदरबन राष्ट्रीय उद्यानः तथ्यों पर एक नजर

  1. सुंदरबन राष्ट्रीय उद्यान भारत के पश्चिम बंगाल राज्य में स्थित राष्ट्रीय उद्यान, टाइगर रिजर्व और बायोस्फीयर रिजर्व है।
  2. आज का सुंदरबन राष्ट्रीय उद्यान को 1973 में सुंदरबन टाइगर रिजर्व का प्रमुख क्षेत्र और 1977 में वन्यजीव अभयारण्य घोषित किया था। 4 मई 1984 को इसे राष्ट्रीय उद्यान घोषित किया गया था।
  3. वर्ष 1987 में इसे यूनेस्को ने विश्व धरोहर स्थल घोषित किया और 1989 में सुंदरबन इलाके को बायोस्फीयर रिजर्व घोषित किया गया था ।  
  4. सुंदरबन दुनिया का सबसे बड़ा डेल्टा है। इसमें 10,200 वर्ग किमी इलाके में सदाबहार वन है जो भारत और बांग्लादेश में फैला है।
  5. भारत की सीमा में पड़ने वाला वन क्षेत्र सुंदरबन राष्ट्रीय उद्यान कहलाता है। यह पश्चिम बंगाल के दक्षिण हिस्से में स्थित है।
  6. सुंदरबन 38,500 वर्ग किमी इलाके में फैला है जिसका करीब एक– तिहाई हिस्सा पानी/ दलदल से भरा है।
  7. वन में सुंदरी पेड़ों की संख्या बहुत अधिक है और कहा जाता है कि इस वन का नाम इन्हीं पेड़ों के नाम पर रखा गया है।
  8. यह डेल्टा बंगाल टाइगर के लिए सबसे बड़े रिजर्व में से एक है।
  9. साथ ही यह पक्षियों, सरीसृप और अकशेरुकी प्रजातियों के जीव– जंतुओं का भी निवास स्थान है।  इसमें खारे पानी का घड़ियाल भी शामिल है।
  10. यह जंगली मुर्गी, विशाल छिपकली, चित्तीदार हिरण, जंगली सूअर, मगरमच्छ आदि जैसे कई अन्य वन्य पशुओं का भी प्राकृतिक निवास स्थान है। साइबेरियाई बतख खानाबदोश मौसम के दौरान यहां आते हैं। सुंदरबन विलुप्तप्राय प्रजातियों जैसे बटागुर बसका, किंग क्रैब और ऑलिव रिडल कछुए का भी निवास स्थान है।
  11. अनुमान के अनुसार 2015 में बंगाल में करीब 74 रॉयल टाइगर थे।

Image source: googleimages.com