Search

भारत में कोरोनावायरस: इलाज और इससे बचने के उपाय

अमेरिका, दक्षिण कोरिया, इटली, ईरान, भारत, सहित अन्य राष्ट्रों में नॉवेल कोरोनवायरस तेजी से फैल रहा है. कोरोनावायरस का भय पूरी दुनिया में फैला हुआ है. 6 मार्च 2020 को, भारत में कोरोनावायरस के मामले 30 तक पहुंच गए हैं.
Mar 6, 2020 11:29 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon
Coronavirus preventive measures in hindi
Coronavirus preventive measures in hindi

वर्तमान में, COVID-19 को रोकने के लिए कोई टीका (vaccine) उपलब्ध नहीं है. लेकिन कुछ निवारक उपाय हैं जो बीमारी को रोकने के लिए इस्तेमाल किए जा सकते हैं. आइये ऐसे उपायों के बारे में इस लेख के माध्यम से अध्ययन करते हैं.

जैसा की हम जानते हैं कि कोरोनावायरस, वायरस का एक बड़ा परिवार जैसा है, जिसके संक्रमण से जुकाम से लेकर सांस लेने में दिक्कत जैसी समस्या हो सकती है. इस वायरस को कभी नहीं देखा गया है. इससे लोगों और अन्य में बीमारी पैदा होती है, जो ऊंट, बिल्ली और चमगादड़ सहित जानवरों के बीच फैलता है. यहीं आपको बता दें की कोरोनावायरस के कारण 3100 से अधिक लोग मारे गए हैं और 93,000 से अधिक दुनिया भर में संक्रमित हो चुके हैं.

कोरोनावायरस (COVID-19): निवारक उपाय (Preventive measures)

- नियमित रूप से अपने हाथों को या तो अल्कोहल-आधारित हैण्ड रब या साबुन और पानी से धोएं. ऐसा करने से वायरस मर जाएंगे जो आपके हाथों पर हो सकते हैं. CDC के अनुसार, विशेष रूप से बाथरूम जाने के बाद, खाना खाने से पहले, नाक बहने के बाद, खाँसने, या छींकने के बाद कम से कम 20 सेकंड के लिए अपने हाथ धोएं.

- अगर किसी को खांसी या छींक आ रही हो, तो अपने और उस व्यक्ति के बीच कम से कम 1 मीटर या 3 फीट की दूरी बनाए रखें. इसके पीछे कारण यह है कि खांसते या छींकते समय नाक या मुंह से छोटी-छोटी तरल बूंदें छलकती हैं जिनमें वायरस हो सकता है. यदि आपके और उस व्यक्ति के बीच कम से कम गैप होगा तो ये छोटी बूंदें सांस लेते समय आपके शरीर में प्रवेश कर सकती हैं, जिसमें COVID-19 वायरस भी शामिल हो सकता है यदि वह व्यक्ति संक्रमित हो तो.

- बार-बार आंख, नाक और मुंह छूने से बचें. ऐसा इसलिए क्योंकि हाथ हमारे आस-पास बहुत सी चीजों को छूते हैं और हो सकता है कि वायरस हाथों से शरीर में चले जाएं. एक बार दूषित होने के बाद, वायरस आपकी आंख, नाक या मुंह में स्थानांतरित हो सकता है. इसलिए, वहां से, वायरस शरीर में प्रवेश कर सकता है और आपको बीमार बना सकता है.

- यदि आप बुखार, खांसी और सांस लेने में कठिनाई से पीड़ित हैं तो जल्द से जल्द डॉक्टर से मिले. इस तरह आपको डॉक्टर से उचित सलाह और इलाज मिल जाएगा और आपकी रक्षा करेगा और वायरस और अन्य संक्रमणों को फैलने से रोकने में भी मदद करेगा.

- बीमार होने पर घर पर रहें क्योंकि इस तरह से आप वायरस के प्रसार को रोक पाएंगे.

- खांसते या छींकते समय अपने मुंह को टिश्यू से ढक लें और फिर उसे कूड़ेदान या कूड़ेदान में फेंक दें.

- अपने घर और वस्तुओं को साफ और कीटाणुरहित रखें. स्प्रे या वाइप का उपयोग करके साफ करें.

फेसमास्क का उपयोग करने के लिए रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (CDC) द्वारा कुछ संस्तुति (recommendations) दी गई हैं:

(i) यह CDC द्वारा अनुशंसित नहीं है कि वे लोग जो अच्छी तरह से और फेसमास्क पहन रहे हैं, खुद को सांस की बीमारियों से बचाने के लिए, जिसमें COVID-19 भी शामिल है.

(ii) CDC के अनुसार, फेसमास्क का उपयोग उन लोगों द्वारा किया जाना चाहिए  जिनमें COVID-19 के लक्षण हों ताकि वे दूसरों को बीमारी के प्रसार से रोकने में मदद करे. फेसमास्क का उपयोग स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और उन लोगों के लिए भी आवश्यक है जो किसी करीबी मरीज का ध्यान रख रहे हों.

-प्रत्येक दिन सभी रोज़ मर्रा की वस्तुएं जिन्हें आप छूते हों जैसे कि टेबलटॉप, बाथरूम फिटिंग, शौचालय, फोन, टैबलेट, इत्यादि को साफ करें. उन सतहों को भी साफ करें, जिन पर रक्त, मल या शरीर के तरल पदार्थ हो सकते हैं. लेबल निर्देशों के अनुसार, घरेलू सफाई स्प्रे या पोंछे का उपयोग करें. सफाई उत्पादों का उपयोग करते समय दस्ताने पहनें और वेंटिलेशन भी अच्छा होना चाहिए.

जिन लोगों को COVID-19 से संदेह या पुष्टि होती है, वे नीचे उल्लेखित सावधानियां बरत सकते हैं:

- अपने लक्षणों की निगरानी करें और अच्छी स्वास्थ्य देखभाल करें.

- चिकित्सा देखभाल प्राप्त करने के लिए घर पर रहें.

- अपने घर पर लोगों और जानवरों से दूर रहें.

- अपने निजी घरेलू सामान को साझा न करें.

- अपने हाथों को अक्सर साफ करें.

- खांसी और छींकते समय टिश्यू का उपयोग करें.

- यदि आवश्यक हो तो केवल आगंतुकों को घर पर अनुमति दें.

- ठोस वस्तुओं को संभालते समय डिस्पोजेबल दस्ताने पहनें. यह भी महत्वपूर्ण है कि एक घरेलू कंटेनर में फेसमास्क, डिस्पोजेबल दस्ताने और अन्य दूषित वस्तुएं जैसे डिस्पोजेबल आइटम, इत्यादि रखें और फिर उनको अन्य घरेलू कचरे के साथ फेकें. इन वस्तुओं को फेंकने के तुरंत बाद अपने हाथों को साफ करें.

- तुरंत हाथ धोना याद रखें, अगर वे स्पष्ट रूप से गंदे हैं तो अनिवार्य है की उनको धोएं.

कोरोनोवायरस प्रकोप के दौरान तनाव का सामना कैसे करें?

- संकट के दौरान, उदास, तनावग्रस्त, भ्रमित, डरा हुआ या गुस्सा महसूस करना सामान्य है. इस स्थिति में WHO द्वारा लोगों, दोस्तों और परिवार से बात करने की सलाह दी जाती है.

- घर में स्वस्थ आहार, नींद, व्यायाम और सामाजिक संपर्क जैसे घर में प्रियजनों के साथ और अन्य परिवार और दोस्तों के साथ ईमेल और फोन के माध्यम से स्वस्थ जीवन शैली बनाए रखें.

- भावनाओं से निपटने के लिए, शराब, धूम्रपान या अन्य दवाओं का उपयोग न करें. स्वास्थ्य कार्यकर्ता या काउंसलर से बात करना बेहतर होगा. आवश्यकता पड़ने पर शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य डॉक्टरों से मदद लें.

- सावधानी बरतने के लिए और बीमारी के जोखिम को कम करने के लिए सभी आवश्यक जानकारी को समझने का प्रयास करें.

- मीडिया कवरेज देखने या सुनने में ज्यादा समय व्यतीत न करें और परेशान न हों.

अब आपको COVID-19 के लिए बरती जाने वाली सावधानियों या निवारक उपायों के बारे में पता चल गया होगा.

कोरोना वायरस पर आधारित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी

 

 

 

 

Related Categories