एशिया के सबसे बड़े सोलर प्‍लांट के बारे में 10 तथ्य

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 10 जुलाई, 2020 को एमपी के रीवा में एशिया के सबसे बड़े सोलर प्लांट का उद्घाटन किया. उद्घाटन का समारोह वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से हुआ. आइए इस लेख के माध्यम से एशिया के सबसे बड़े सोलर प्लांट के बारे में 10 तथ्यों को अध्ययन करते हैं.
Created On: Jul 15, 2020 13:55 IST
Modified On: Jul 15, 2020 14:00 IST
Asia's largest solar power plant
Asia's largest solar power plant

उद्घाटन समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि "सौर ऊर्जा आज की नहीं बल्कि 21वीं सदी में ऊर्जा की जरूरत का एक प्रमुख माध्यम बनने जा रही है. क्योंकि सौर ऊर्जा सुनिश्चित, शुद्ध और सुरक्षित है." उन्होंने आगे कहा "आज रीवा ने वाकई इतिहास रच दिया है. रीवा की पहचान मां नर्मदा के नाम और सफेद बाघ से रही है. अब इसमें एशिया के सबसे बड़े सोलर पावर प्रोजेक्ट का नाम भी जुड़ गया है.  इस सोलर प्लांट से मध्य प्रदेश के लोगों को, उद्योगों को तो बिजली मिलेगी ही,दिल्ली में मेट्रो रेल तक को इसका लाभ मिलेगा."

प्रधानमंत्री ने यह भी बताया कि परियोजना इस दशक में शुद्ध और स्वच्छ ऊर्जा के लिए पूरे रीवा का प्रमुख केंद्र बनेगी. दिल्ली मेट्रो के लिए, यह रीवा के आसपास के पूरे क्षेत्र को भी बिजली की आपूर्ति करेगा. उन्होंने यह भी बताया कि नीमच, शाजापुर, छतरपुर और ओंकारेश्वर सहित विभिन्न परियोजनाएं प्रगति पर हैं और इसलिए मध्य प्रदेश जल्द ही देश में सौर ऊर्जा का मुख्य केंद्र होगा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मध्य प्रदेश के रीवा में स्थापित 750 मेगावाट की सौर परियोजना राष्ट्र को समर्पित की. मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान समेत कई अन्य मंत्रियों ने इस कार्यक्रम में हिस्सा लिया.

एयर क्वालिटी इंडेक्स क्या होता है और यह क्या बताता है?

एशिया के सबसे बड़े सोलर प्‍लांट के बारे में 10 तथ्य

1. रीवा सौर ऊर्जा परियोजना एशिया की सबसे बड़ी 750 मेगावाट की सौर ऊर्जा परियोजना है. यह परियोजना रीवा अल्ट्रा मेगा सोलर लिमिटेड (RUMSL), एमपी ऊर्जा विकास निगम लिमिटेड (MPUVN) और सोलर एनर्जी कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (SECI) का एक संयुक्त उद्यम है.

2. सौर ऊर्जा परियोजना लगभग 1590 हेक्टेयर क्षेत्र में फैली है और यह एशिया में सबसे बड़ी सिंगल साईट सोलर प्लांट में से एक है.

3. रीवा सौर ऊर्जा परियोजना में एक सौर पार्क के अंदर स्थित 500 हेक्टेयर भूमि पर 250-250 मेगावाट की तीन सौर उत्पादन इकाइयां शामिल हैं.

4. अल्ट्रा-मेगा सौर ऊर्जा परियोजना से प्रति वर्ष लगभग 15 लाख टन कार्बन डाईऑक्साइड के बराबर कार्बन उत्सर्जन को कम करने में मदद मिलने की उम्मीद है.

5. रिपोर्टों के अनुसार, इस परियोजना से, दिल्ली मेट्रो को 24 प्रतिशत ऊर्जा प्राप्त होगी और शेष 76 प्रतिशत की आपूर्ति मध्य प्रदेश के राज्य DISCOM को की जाएगी.

6. रीवा परियोजना दिल्ली मेट्रो सहित राज्य के बाहर संस्थागत ग्राहकों को आपूर्ति करने वाली यह पहली अक्षय ऊर्जा परियोजना है.

7. रीवा सौर ऊर्जा परियोजना को अपने नवाचार और उत्कृष्टता के लिए World Bank Group President's Award मिला है.

8. इसके अलावा, रीवा परियोजना को पीएम की "A Book of innovation: New Beginnings." में शामिल किया गया.

9. रीवा परियोजना वर्ष 2022 तक 175 GW की स्थापित अक्षय ऊर्जा क्षमता के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए भारत की प्रतिबद्धता को दर्शाती है, जिसमें 100 GW की सौर उत्पादन क्षमता शामिल है.

10. सौर पार्क के विकास के लिए, केंद्र द्वारा RUMSL को 138 करोड़ रुपये की राशि प्रदान की गई है.

एशिया की सबसे बड़ी सौर ऊर्जा परियोजना का महत्व

रीवा सोलर प्लांट परियोजना को इसकी मजबूत संरचना और नवाचारों के लिए स्वीकार किया जा रहा है. इसके भुगतान सुरक्षा तंत्र से बिजली डेवलपर्स के लिए जोखिम कम करने की उम्मीद है और इसे अक्षय ऊर्जा मंत्रालय द्वारा अन्य राज्यों के लिए एक मॉडल के रूप में अनुशंसित किया गया है.

यह पहली अक्षय ऊर्जा परियोजना है जो राज्य के बाहर एक संस्थागत ग्राहक की आपूर्ति करेगी और 2022 तक 175 गीगावॉट की सौर उत्पादन क्षमता के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए भारत की प्रतिबद्धता को पूरा करेगी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अनुसार, 21वीं शताब्दी में सौर ऊर्जा एक महत्वाकांक्षी भारत की ऊर्जा जरूरतों को प्रदान करने के लिए एक प्रमुख माध्यम होगा सौर ऊर्जा परियोजनाएं आत्मानिभर भारत का सही प्रतिनिधित्व करती हैं. उन्होंने यह भी बताया कि अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन (ISA) को सौर ऊर्जा के मामले में पूरी दुनिया को एकजुट करने के उद्देश्य से शुरू किया गया था. जिसकी स्पिरिट One World, One Sun, One Grid थी. पर्यावरण की सुरक्षा केवल कुछ परियोजनाओं तक सीमित नहीं है, बल्कि यह जीवन का मार्ग है.

पृथ्वी दिवस कब और क्यों मनाया जाता है?

Comment (0)

Post Comment

3 + 1 =
Post
Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.

    Related Categories