Jagran Josh Logo

भारत में जल निकायों के ऊपर बने लंबे पुलों की सूची

28-JUN-2018 18:10
    List of longest bridges above water in India HN

    सेतु (पुल या ब्रिज) एक प्रकार का ढाँचा जो नदी, पहाड़, घाटी अथवा मानव निर्मित अवरोध को वाहन या पैदल पार करने के लिये बनाया जाता है। सेतु या पुल किसी भी देश के बुनियादी ढांचे का महत्वपूर्ण घटक माना जाता है। यह दो स्थानों को आर्थिक रूप से एक दुसरे का पूरक बनाता हैं तथा नकदी प्रवाह में वृद्धि करता है।

    1. भूपेन हजारिका सेतु

    निर्मित: लोहित नदी

    लंबाई (मीटर): 9,150

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2017

    स्थान: तिनसुकिया (असम)

    परिवहन: सड़क

    2. चौथा गोदावरी सेतु कोव्वुर-राजमुंदरी बाईपास सेतु

    निर्मित: गोदावरी नदी

    लंबाई (मीटर): 6,000

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2015

    स्थान: राजमंड्री या राजमुंदरी (आंध्र प्रदेश)

    परिवहन: सड़क

    3. महात्मा गांधी सेतु

    निर्मित: गंगा नदी

    लंबाई (मीटर): 5,750

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1982

    स्थान: पटना-हाजीपुर (बिहार)

    परिवहन: सड़क

    4. बांद्रा-वरली समुद्र लिंक

    निर्मित: महिम की खाड़ी

    लंबाई (मीटर): 5,600

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2009

    स्थान: मुंबई (महाराष्ट्र)

    परिवहन: सड़क

    5. बोगिबील सेतु (निर्माणाधीन)

    निर्मित: ब्रह्मपुत्र नदी

    लंबाई (मीटर): 4,940

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2018

    स्थान: डिब्रूगढ़ (असम)

    परिवहन: रेल-सह-सड़क

    6. विक्रमशिला सेतु

    निर्मित: गंगा नदी

    लंबाई (मीटर): 4,700

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2001

    स्थान: भागलपुर (बिहार)

    परिवहन: सड़क

    7. वेम्बनाद रेल सेतु

    निर्मित: वेम्बनाड झील

    लंबाई (मीटर): 4,620

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2011

    स्थान: कोच्चि (केरल)

    परिवहन: रेल

    8. दीघा-सोनपुर सेतु

    निर्मित: गंगा नदी

    लंबाई (मीटर): 4,556

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2016

    स्थान: पटना-सोनपुर (बिहार)

    परिवहन: रेल-सह-सड़क

    9. आरा-छपरा सेतु

    निर्मित: गंगा नदी  

    लंबाई (मीटर): 4,350

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2017

    स्थान: आरा-छपरा (बिहार)

    परिवहन: सड़क        

    क्षेत्रफल के अनुसार विश्व के 10 सबसे बड़े देशो की सूची

     10. मुंगेर गंगा सेतु

    निर्मित: गंगा नदी

    लंबाई (मीटर): 3,692

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2016

    स्थान: मुंगेर (बिहार)

    परिवहन: रेल-सह-सड़क

    11. चाह्लारी घाट सेतु

    निर्मित: घाघरा नदी

    लंबाई (मीटर): 3,260

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2017

    स्थान: बहराइच-सीतापुर (उत्तर प्रदेश)

    परिवहन: सड़क

    12. जवाहर सेतु

    निर्मित: सोन नदी

    लंबाई (मीटर): 3,061       

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1965

    स्थान: डेहरी (बिहार)

    परिवहन: सड़क

    13. नेहरू सेतु

    निर्मित: सोन नदी

    लंबाई (मीटर): 3,059       

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1900

    स्थान: डेहरी (बिहार)

    परिवहन: रेल

    14. कोलिया भोमोरा सेतु

    निर्मित: ब्रह्मपुत्र नदी

    लंबाई (मीटर): 3,015

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1987

    स्थान: तेजपुर-कालीबोर (असम)

    परिवहन: सड़क        

    15. कोर्टी-कोलहर सेतु

    निर्मित: कृष्णा  नदी

    लंबाई (मीटर): 3,000

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का):  2006

    स्थान: बीजापुर (कर्नाटक)

    परिवहन: सड़क

    16. नेताजी सुभाष चंद्र बोस सेतु

    निर्मित: कथाजोदी नदी

    लंबाई (मीटर): 2,880

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2017

    स्थान: कटक (ओडिशा)

    परिवहन: सड़क        

    17. गोदावरी सेतु

    निर्मित: गोदावरी नदी

    लंबाई (मीटर): 2,790

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1974

    स्थान: राजमंड्री या राजमुंदरी (आंध्र प्रदेश)

    परिवहन: रेल-सह-सड़क

    18. पुरानी गोदावरी सेतु (सेवामुक्त)

    निर्मित: गोदावरी  नदी

    लंबाई (मीटर): 2,754

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1900

    स्थान: राजमंड्री या राजमुंदरी (आंध्र प्रदेश)

    परिवहन: रेल

    19. गोदावरी मेहराब सेतु

    निर्मित: गोदावरी  नदी

    लंबाई (मीटर): 2,745

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1997/2003

    स्थान: राजमंड्री या राजमुंदरी (आंध्र प्रदेश)

    परिवहन: रेल

    20. पेनुमुदी-पुलिगाद्दा सेतु

    निर्मित: कृष्णा  नदी

    लंबाई (मीटर): 2,590

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2006

    स्थान: अवनिगड्डा (आंध्र प्रदेश)

    परिवहन: सड़क

    विश्व के प्रमुख महासागरीय जलधाराओं की सूची

    21. पंबन सेतु

    निर्मित: पाक जलडमरूमध्य

    लंबाई (मीटर): 2,300

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1988

    स्थान: पंबन द्वीप (तमिलनाडु)

    परिवहन: सड़क

    22. बदौन-गंजदुंडवाड़ा सेतु

    निर्मित: गंगा नदी  

    लंबाई (मीटर): 2,334

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2012

    स्थान: बदौन जिला (उत्तर प्रदेश)

    परिवहन: सड़क

    23. नरनारायण सेतु

    निर्मित: ब्रह्मपुत्र नदी

    लंबाई (मीटर): 2,284

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1998

    स्थान: जोगीघोपा (असम)

    परिवहन: रेल-सह-सड़क

    24. फरक्का बैराज   

    निर्मित: गंगा नदी

    लंबाई (मीटर): 2,240

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1975

    स्थान: फरक्का (पश्चिम बंगाल)

    परिवहन: रेल-सह-सड़क

    25. कनकदुर्ग वरधी

    निर्मित: कृष्णा  नदी

    लंबाई (मीटर): 2,200       

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1995

    स्थान: विजयवाड़ा (आंध्र प्रदेश)

    परिवहन: सड़क

    26. द्वितीय महानदी रेल सेतु

    निर्मित: महानदी नदी

    लंबाई (मीटर): 2,100

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2008

    स्थान: कटक (ओडिशा)

    परिवहन: रेल

    27. पंबन सेतु

    निर्मित: पाक जलडमरूमध्य

    लंबाई (मीटर): 2,065

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1913

    स्थान: पंबन द्वीप (तमिलनाडु)

    परिवहन: रेल

    28. बलुआहा-गंदौल सेतु

    निर्मित: कोसी नदी

    लंबाई (मीटर): 2,060

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2013

    स्थान: सहारसा (बिहार)

    परिवहन: सड़क        

    सौर प्रणाली और उसके ग्रहों के बारे में महत्वपूर्ण तथ्यों की सूची

    29. शारावती सेतु

    निर्मित: शारावती नदी

    लंबाई (मीटर): 2,060

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1994

    स्थान: होन्नावर (कर्नाटक)

    परिवहन: रेल

    30. राजेंद्र सेतु

    निर्मित: गंगा नदी

    लंबाई (मीटर): 2,000

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1959

    स्थान: बरौनी-हाथीदह (बिहार)

    परिवहन: रेल-सह-सड़क

    31. महानदी सेतु, बौद्ध

    निर्मित: महानदी नदी

    लंबाई (मीटर): 1,950.7

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1889

    स्थान: सोनपुर (सुबर्णपुर), ओडिशा

    परिवहन: सड़क        

    32. गौतम बुद्ध सेतु

    निर्मित: गंडक नदी

    लंबाई (मीटर): 1,848       

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2009/2013

    स्थान: पश्चिम चंपारण (बिहार)

    परिवहन: सड़क        

    33. वाशी सेतु

    निर्मित: ठाणे क्रीक

    लंबाई (मीटर): 1,837

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1997

    स्थान: मुंबई (महाराष्ट्र)

    परिवहन: सड़क        

    34. न्यू यमुना सेतु

    निर्मित: यमुना नदी

    लंबाई (मीटर): 1,510

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2004

    स्थान: इलाहाबाद (उत्तर प्रदेश)

    परिवहन: सड़क

    35. वंगल-मोहनूर सेतु

    निर्मित: काबेरी नदी

    लंबाई (मीटर): 1,505

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2016

    स्थान: वंगल-मोहनूर (तमिलनाडू)

    परिवहन: सड़क        

    36. थंथाई पेरियार सेतु

    निर्मित: काबेरी नदी

    लंबाई (मीटर): 1,500

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1971

    स्थान: मुसीरी-कुलीथलाई (तमिलनाडु)

    परिवहन: सड़क

    भारत की खनिज पेटियों या बेल्टो की सूची

    37. न्यू साराघाट सड़क सेतु

    निर्मित: ब्रह्मपुत्र नदी

    लंबाई (मीटर): 1,490

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2017

    स्थान: गुवाहाटी (असम)

    परिवहन: सड़क

    38. कोइलवार सेतु

    निर्मित: सोन नदी

    लंबाई (मीटर): 1,440

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1862

    स्थान: कोइलवार (बिहार)

    परिवहन: रेल-सह-सड़क

    39. गोल्डन सेतु

    निर्मित: नर्मदा नदी

    लंबाई (मीटर): 1,412

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1881

    स्थान: अंकलेश्वर-भरूच (गुजरात)

    परिवहन:  सड़क       

    40. सिल्वर जयंती रेल मार्ग सेतु भरूच

    निर्मित: नर्मदा नदी

    लंबाई (मीटर): 1,406

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1935

    स्थान: अंकलेश्वर-भरूच (गुजरात)

    परिवहन: रेल

    नौपरिवहन के लिए अंतर्राष्ट्रीय समुद्री मार्गों की सूची

    41. महानदी सेतु

    निर्मित: महानदी नदी

    लंबाई (मीटर): 1,400       

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1961

    स्थान: भूतमुंडेई, पारादीप (ओडिशा)

    परिवहन: सड़क

    42. नीलाथनल्लूर-मदनथुर सेतु

    निर्मित: कोल्लिडम नदी

    लंबाई (मीटर): 1,400

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2011

    स्थान: कुम्भकोणम-जयंकोंडम (तमिलनाडु)

    परिवहन: सड़क

    43. द्वितीय नर्मदा सेतु

    निर्मित: नर्मदा नदी

    लंबाई (मीटर): 1,365

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2000

    स्थान: भरूच (गुजरात)

    परिवहन: सड़क

    44. साराघाट सेतु

    निर्मित: ब्रह्मपुत्र नदी

    लंबाई (मीटर): 1,300

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1962

    स्थान: गुवाहाटी (असम)

    परिवहन: रेल-सह-सड़क

    45. महाराणा प्रताप सेतु

    लंबाई (मीटर): 1,270

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1987

    स्थान: बंसवाड़ा-रतलाम (राजस्थान)

    परिवहन: सड़क

    विश्व भर में स्थानांतरण कृषि के स्थानीय नामों की सूची

    46. एल्गिन सेतु (बाराबंकी)

    निर्मित: घाघरा नदी

    लंबाई (मीटर): 1,126.2

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1896

    स्थान: बाराबंकी (उत्तर प्रदेश)

    परिवहन: रेल

    47. प्रकाशम बैराज

    निर्मित: कृष्णा  नदी

    लंबाई (मीटर): 1,224

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1885

    स्थान: विजयवाड़ा (आंध्र प्रदेश)

    परिवहन: सड़क

    48. घाघरा सेतु

    निर्मित: घाघरा  नदी

    लंबाई (मीटर): 1,100

    स्थान: बाराबंकी (उत्तर प्रदेश)

    परिवहन: सड़क

    49. मालवीय सेतु (डफरिन सेतु)

    निर्मित: गंगा नदी

    लंबाई (मीटर): 1,048.5

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1887

    स्थान: वाराणसी (उत्तर प्रदेश)

    परिवहन: रेल-सह-सड़क

    50. शारावती सेतु

    निर्मित: शारावती नदी

    लंबाई (मीटर): 1,048

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1984

    स्थान: होन्नावर (कर्नाटक)

    परिवहन: सड़क

    हिमालय पर्वत श्रृंखला के महत्वपूर्ण ग्लेशियरों की सूची

    51. एयरोली सेतु

    निर्मित: ठाणे क्रीक

    लंबाई (मीटर): 1,030

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1999

    स्थान: मुंबई (महाराष्ट्र)

    परिवहन: सड़क

    52. ओल्ड नैनी सेतु

    निर्मित: यमुना नदी

    लंबाई (मीटर): 1,006

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1865

    स्थान: इलाहाबाद (उत्तर प्रदेश)

    परिवहन: रेल-सह-सड़क

    53. तीस्ता सेतु

    निर्मित: तीस्ता नदी

    लंबाई (मीटर): 1000

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1968

    स्थान: जलपाईगुड़ी (पश्चिम बंगाल)

    परिवहन: रेल तथा सड़क     

    54. चम्रवात्तोम नियामक-सह सेतु

    निर्मित: भारताप्पुज्हा (Bharathappuzha) नदी (जिसे नीला नदी भी कहा जाता है)

    लंबाई (मीटर): 978

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2012

    स्थान: चमवरावतम (केरल)

    परिवहन: सड़क        

    55. विवेकानंद सेतु

    निर्मित: हुगली नदी

    लंबाई (मीटर): 900

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1932

    स्थान: दक्षिणेश्वर-बाली (पश्चिम बंगाल)

    परिवहन: रेल-सह-सड़क

    56. कॉलरून सेतु

    निर्मित: कोलिडम नदी

    लंबाई (मीटर): 900

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2012

    स्थान: तिरुचिराप्पल्ली (तमिलनाडु)

    परिवहन: सड़क        

    57. निवेदिता सेतु

    निर्मित: हुगली नदी

    लंबाई (मीटर): 880

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2007

    स्थान: दक्षिणेश्वर-बाली (पश्चिम बंगाल)

    परिवहन: सड़क

    58. चंबल सेतु

    निर्मित: चंबल नदी

    लंबाई (मीटर): 850

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2016

    स्थान: ढोलपुर (राजस्थान)

    परिवहन: सड़क

    59. सुबानसिरी नदी सेतु

    निर्मित: सुबानसिरी नदी

    लंबाई (मीटर): 835

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1966

    स्थान: गोगमुख-उत्तर लखीमपुर (असम)

    परिवहन: सड़क        

    60. विद्यासागर सेतु

    निर्मित: हुगली नदी

    लंबाई (मीटर): 822

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1992

    स्थान: कोलकाता (पश्चिम बंगाल)

    परिवहन: सड़क

    विश्व के प्रमुख रेल मार्गों की सूची

    61. नेत्रावती सेतु

    निर्मित: नेत्रावती नदी

    लंबाई (मीटर): 804

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1965

    स्थान: मंगलौर (कर्नाटक)

    परिवहन: सड़क

    62. परमथी वेलूर सेतु (एनएच 7)

    निर्मित: काबेरी नदी

    लंबाई (मीटर): 803

    स्थान: पुगलूर-वेलूर (तमिलनाडु)

    परिवहन: सड़क

    63. यमुना सेतु

    निर्मित: यमुना नदी

    लंबाई (मीटर): 767

    स्थान: पाओनता साहिब (हिमाचल प्रदेश)

    परिवहन: सड़क        

    64. जजमौ सेतु

    निर्मित: गंगा नदी

    लंबाई (मीटर): 720

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2011

    स्थान: जजमौ  (उत्तर प्रदेश)

    परिवहन: सड़क

    भारतीय अर्थव्यवस्था पर मानसून का क्या प्रभाव होता है?

    65. दयांग रेलवे सेतु

    निर्मित:  दयांग नदी

    लंबाई (मीटर): 713

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1970

    स्थान: हफ्लोंग (असम)

    परिवहन: रेल 

    66. हावड़ा सेतु (रवींद्र सेतु)

    निर्मित: हुगली नदी

    लंबाई (मीटर): 705

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1943

    स्थान: कोलकाता (पश्चिम बंगाल)

    परिवहन: सड़क        

    67. गढ़मुक्तेश्वर सेतु

    निर्मित: गंगा नदी

    लंबाई (मीटर): 671

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 1901

    स्थान: गढ़मुक्तेश्वर (उत्तर प्रदेश)

    परिवहन: रेल-सह-सड़क

    68. लाव कुश बैराज

    निर्मित: गंगा नदी

    लंबाई (मीटर): 621

    वर्ष (पूरा करने का / खुलने का): 2000

    स्थान: कानपुर (उत्तर प्रदेश)

    परिवहन:  सड़क

    1779 से पहले पुल छोटे बनाये जाते थे लेकिन समय के साथ समुद्रों के ऊपर भी पुल बनाने की जरूरत महसूस होने लगी। समुद्र के ऊपर बनाए गए शुरुआती पुलों में अमेरिका के सैन फ्रांसिस्को और मैरिन काउंटी को जोड़ने वाले गोल्डन गैट पुल का नाम लिया जा सकता है जिसका निर्माण वर्ष 1937 में पूरा हुआ था।

    भारत के प्रमुख प्रायद्वीपीय दर्रो की सूची

    DISCLAIMER: JPL and its affiliates shall have no liability for any views, thoughts and comments expressed on this article.

    Latest Videos

    Register to get FREE updates

      All Fields Mandatory
    • (Ex:9123456789)
    • Please Select Your Interest
    • Please specify

    • ajax-loader
    • A verifcation code has been sent to
      your mobile number

      Please enter the verification code below

    Newsletter Signup
    Follow us on
    This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK