Search

साहित्य अकादमी पुरस्कार: तथ्यों पर एक नजर

भारत सरकार द्वारा साहित्य अकादमी की औपचारिक शुरूआत 12 मार्च 1954 को की गयी थी। भारत सरकार ने एक प्रस्ताव के तहत इस अकादमी की स्थापना की थी। यह ऐसी संस्था है, जोकि भारत की 24 भाषाओं में साहित्यिक क्रिया-कलापों का पोषण करती है। अकादमी एक स्वायत्त संस्था के रूप में कार्य करती है। सन 2016 का साहित्य अकादमी पुरस्कार हिंदी लेखिका नासिरा शर्मा को उनके उपन्यास 'पारिजात’ के लिए दिया गया है|
Jul 5, 2016 15:53 IST

भारत सरकार द्वारा साहित्य अकादमी की औपचारिक शुरूआत 12 मार्च 1954 को की गयी थी। भारत सरकार ने एक प्रस्ताव के तहत इस अकादमी की स्थापना की थी। यह एक राष्ट्रीय संस्थान है जो भारत की 'नेशनल एकेडेमी ऑफ़ लेटर्स' साहित्य अकादेमी साहित्यिक संवाद, प्रकाशन और उसका देशभर में प्रसार करने वाली केन्द्रीय संस्था है। यह ऐसी संस्था है, जो कि भारत की 24 भाषाओं में साहित्यिक क्रिया-कलापों का पोषण करती है।  अकादमी एक स्वायत्त संस्था के रूप में कार्य करती है। सोसायटी पंजीकरण अधिनियम, 1860 के तहत एक सोसायटी के रूप में इसका पंजीकरण 7 जनवरी, 1956 को हुआ था।

साहित्य अकादेमी का प्रधान कार्यालय रवीन्द्र भवन, 35 फीरोजशाह मार्ग, नई दिल्ली 110001 में स्थित है। यह भव्य भवन रवीन्द्रनाथ ठाकुर की जन्म शताब्दी के उपलक्ष्य में सन् 1961 में निर्मित हुआ था। इसमें तीनों राष्ट्रीय अकादेमियाँ- संगीत नाटक अकादेमी, ललित कला अकादेमी और साहित्य अकादेमी स्थित हैं।

सरस्वती सम्मान : भारत का प्रतिष्ठित साहित्यिक सम्मान

Jagranjosh

फोटो साभार :punjabtribune.com

साहित्य अकादमी पुरस्कारों के बारे में तथ्य-

  1. इसकी स्थापना मार्च, 1954 में की गयी थी।
  2. यह 24 भारतीय भाषाओं में दिया जाता है।
  3. साहित्य अकादमी पुरस्कार के तहत एक पट्टिका और 1 लाख रुपये का नकद पुरस्कार (2009 से) दिया जाता है।
  4. साहित्य अकादमी द्वारा सम्मानित की जाने वाली पट्टिका का डिजायन भारतीय फिल्म निर्माता सत्यजीत रे द्वारा किया गया था।
  5. 1965 के भारत-पाकिस्तान युद्ध के दौरान, पट्टिका में राष्ट्रीय बचत बांड को प्रतिस्थापित किया गया था।
  6. माखनलाल चतुर्वेदी पहले हिंदी लेखक हैं, जिन्होंने 1955 में अपने काव्य "हिम तरंगिनी" (कविता) के लिए यह पुरस्कार जीता था।
  7. इसका प्रधान कार्यालय नई दिल्ली में है।
  8. साहित्य अकादमी फैलोशिप के बाद दिया जाने वाला यह दूसरा सर्वोच्च साहित्यिक सम्मान है।
  9. साहित्य अकादमी जैसे कुछ अन्य पुरस्कार भी दिये जाते हैं, जैसे- भाषा सम्मान पुरस्कार, अनुवाद पुरस्कार और बाल साहित्य पुरस्कार।
  10. 2015 में राम दरश मिश्रा को उनकी हिंदी काव्य "आग की हंसी" (कविता) के लिए यह पुरस्कार दिया गया।
  11. सन 2016 का साहित्य अकादमी पुरस्कार हिंदी लेखिका "नासिरा शर्मा" को उनके उपन्यास 'पारिजात’ के लिए दिया गया है|

साहित्य अकादमी पुरस्कार विजेता और हिंदी भाषा में उनके कार्य:

वर्ष

लेखक

कृति

1955

माखनलाल चतुर्वेदी

हिम तरंगिणी (काव्य)

1956

वासुदेव शरण अग्रवाल

पद्मावत संजीवनी (व्याख्या)

1957

आचार्य नरेन्द्र देव

बौध धर्म दर्शन (दर्शन)

1958

राहुल सांकृत्यायन

मध्य एशिया का इतिहास (इतिहास)

1959

रामधारी सिंह 'दिनकर'

संस्कृति के चार अध्याय (भारतीय संस्कृति का सर्वेक्षण)

1960

सुमित्रानंदन पंत

काला और बूढ़ा चाँद (काव्य)

1961

भगवतीचरण वर्मा

भूले बिसरे चित्र (उपन्यास)

1962

कोई पुरस्कार नहीं दिया गया  


1963

अमृत राय

प्रेमचंद: कलम का सिपाही (जीवनी)

1964

अज्ञेय

आँगन के पार द्वार (काव्य)

1965

डॉ॰ नगेन्द्र

रस सिद्धांत (विवेचना)

1966

जैनेन्द्र कुमार

मुक्तिबोध (उपन्यास)

1967

अमृतलाल नागर

अमृत और विष (उपन्यास)

1968

हरिवंशराय बच्चन

दो चट्टाने (काव्य)

1969

श्रीलाल शुक्ल

राग दरबारी (उपन्यास)

1970

राम विलास शर्मा

निराला की साहित्य साधना (जीवनी)

1971

नामवर सिंह

कविता के नये प्रतिमान (साहित्यिक आलोचना)

1972

भवानीप्रसाद मिश्र

बुनी हुई रस्सी (काव्य)

1973

हजारी प्रसाद द्विवेदी

आलोक पर्व (निबंध)

1974

शिवमंगल सिंह सुमन

मिट्टी की बारात (काव्य)

1975

भीष्म साहनी

तमस (उपन्यास)

1976

यशपाल

मेरी तेरी उसकी बात (उपन्यास)

1977

शमशेर बहादुर सिंह

चुका भी हूँ नहीं मैं (काव्य)

1978

भारतभूषण अग्रवाल

उतना वह सूरज है (काव्य)

1979

सुदामा पांडे

कल सुनना मुझे (काव्य)

1980

कृष्णा सोबती

ज़िन्दगीनामा - ज़िन्दा रुख़ (उपन्यास)

1981

त्रिलोचन

ताप के ताये हुए दिन (काव्य)

1982

हरिशंकर परसाईं

विकलांग श्रद्धा का दौर (व्यंग)

1983

सर्वेश्वरदयाल सक्सेना

खूँटियों पर टँगे लोग (काव्य)

1984

रघुवीर सहाय

लोग भूल गये हैं (काव्य)

1985

निर्मल वर्मा

कव्वे और काला पानी (कहानी संग्रह)

1986

केदारनाथ अग्रवाल

अपूर्वा (काव्य)

1987

श्रीकांत वर्मा

मगध (काव्य)

1988

नरेश मेहता

अरण्या (काव्य)

1989

केदारनाथ सिंह

अकाल में सारस (काव्य)

1990

शिव प्रसाद सिंह

नीला चाँद (उपन्यास)

1991

गिरिजाकुमार माथुर

मैं वक्त के हूँ सामने (काव्य)

1992

गिरिराज किशोर

ढाई घर (उपन्यास)

1993

विष्णु प्रभाकर

अर्धनारीश्वर (उपन्यास)

1994

अशोक वाजपेयी

कहीं नहीं वहीं (काव्य)

1995

कुंवर नारायण

कोई दूसरा नहीं (काव्य)

1996

सुरेन्द्र वर्मा

मुझे चाँद चाहिये (उपन्यास)

1997

लीलाधर जगूड़ी

अनुभव के आकाश में चांद (काव्य)

1998

अरुण कमल

नये इलाके में (काव्य)

1999

विनोद कुमार शुक्ल

दीवार में एक खिड़की रहती थी (उपन्यास)

2000

मंगलेश डबराल

हम जो देखते हैं (काव्य)

2001

अलका सरावगी

कलिकथा वाया बाईपास (उपन्यास)

2002

राजेश जोशी

दो पंक्तियों के बीच (काव्य)

2003

कमलेश्वर

कितने पाकिस्तान (उपन्यास)

2004

वीरेन डंगवाल

दुष्चक्र में सृष्टा (काव्य)

2005

मनोहर श्याम जोशी

क्याप (उपन्यास)

2006

ज्ञानेन्द्रपति

संशयात्मा (काव्य)

2007

अमरकांत

इन्हीं हथियारों से (उपन्यास)

2008

गोविन्द मिश्र

कोहरे में कैद रंग (उपन्यास)

2009

कैलाश वाजपेयी

हवा में हस्ताक्षर (काव्य)

2010

उदय प्रकाश

मोहनदास (लघु कहानियां)

2011

काशीनाथ सिंह

रेहन पर रघु (उपन्यास)

2012

चन्द्रकांत देवताले

पथर फेंक रहा हूँ (काव्य)

2013

मृदुला गर्ग

मिलजुल मन (उपन्यास)

2014

रमेशचन्द्र शाह

विनायक (उपन्यास)

2015

रामदरश मिश्र

"आग की हंसी" (काव्य)

2016 नासिरा शर्मा पारिजात (उपन्यास)

2016 में साहित्य अकादमी पुरस्कार विजेताओं की सूची (सभी भाषाओँ में):

1. उर्दू में निजाम सिद्दीकी: 'माबाद-ए-जदिदिआत से नए अहेद की तखलिकियात तक’
2. अंग्रेजी में जेरी पिंटो: एम एंड द बिग हूम (उपन्यास)
3. मैथिली में श्याम दरिहरे: बड़की काकी एट हॉटमेल डॉट कॉम (कहानी संग्रह)
4. पंजाबी में स्वराजबीर: मसिआ दी रात’ (नाटक)
5. कश्मीरी में अजीज हाजिनी को: आने-खाने (समालोचना)
6. राजस्थानी में बुलाकी को: मरदजात अर दूजी कहानियां (कहानी संग्रह)
7. असमिया में ज्ञान पुजारी को: मेघमालार भ्रमण (कविता संग्रह)
8. बोडो में अंजू (अंजलि नार्जारी) को:  आं माबोरै दं दासों (कविता संग्रह)
9. डोगरी में छत्रपाल को: %चेता (कहानी संग्रह)
10. गुजराती में कमल वोरा को:  अनेकअेक (कविता संग्रह)
11. कन्नड़ में बोलवार महमद के. को: स्वतंत्रायदा ओटा (उपन्यास)
12. मलयालम में प्रभा वर्मा को: श्याममाधवम (कविता संग्रह)
13. बांग्ला में नृसिंह प्रसाद भादुड़ी को: महाभारतेर अष्टादशी (निबंध)
14. संस्कृत में सीतानाथ आचार्य शास्त्री को: काव्यनिर्झरी (कविता संग्रह)
15. संथाली में गोबिंदचंद्र माझी को: "नालहा" के लिए
16. सिन्धी में नंद जावेरी को: "आखर कथा" के लिए
17. तेलूगु में पापिनेनि शिवशंकर को: "रजनीगन्धा" के लिए
18. कोंकणी में एडविन जे. एफ. डिसोजा को : "कोल भांगर" के लिए
19. नेपाली में गीता उपाध्याय जन्मभूमि मेरो स्वदेश
20. मणिपुरी में मोइराड्थेन राजेन को : "चेपथरबा ईशिड्पुन" के लिए
21. मराठी में आसाराम लोमटे को: "आलोक" के लिए

    ज्ञानपीठ सम्मान: भारत का सर्वोच्च साहित्यिक सम्मान

    भारत रत्न : भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान