दुनिया के 10 सबसे अधिक प्रदूषण फ़ैलाने वाले देश

यूरोपीय आयोग और नीदरलैंड पर्यावरण आकलन एजेंसी द्वारा जारी किए गए “एडगर डेटाबेस” के अनुसार विश्व में सबसे अधिक कार्बन डाइऑक्साइड गैस का उत्सर्जन करने वाला देश चीन है जबकि सर्वाधिक प्रति व्यक्ति कार्बन डाइऑक्साइड गैस का उत्सर्जन करने वाला देश अमेरिका है. यहाँ पर एक चौकाने वाला तथ्य यह है कि दुनिया के 10 सबसे बड़े कार्बन डाइऑक्साइड उत्पादक देशों का कुल कार्बन डाइऑक्साइड गैस के उत्पादन में 67.6% का योगदान है और इसमें में लगभग 30% योगदान अकेले चीन का है.
Aug 21, 2017 12:59 IST
    दुनिया के 10 सबसे अधिक प्रदूषण फ़ैलाने वाले देश

    यूरोपीय आयोग और नीदरलैंड पर्यावरण आकलन एजेंसी द्वारा जारी किए गए “एडगर डेटाबेस” के अनुसार विश्व में सबसे अधिक कार्बन डाइऑक्साइड गैस का उत्सर्जन करने वाला देश चीन है जबकि सर्वाधिक प्रति व्यक्ति कार्बन डाइऑक्साइड गैस का उत्सर्जन करने वाला देश अमेरिका है. यहाँ पर यह बतानी जरूरी है कि इस रिपोर्ट में ग्रीन हाउस गैसों की अन्य गैसें जैसे मीथेन, जल वाष्प और नाइट्रस ऑक्साइड की गणना नही की गयी है.
    यहाँ पर एक चौकाने वाला तथ्य यह है कि दुनिया के 10 सबसे बड़े कार्बन डाइऑक्साइड उत्पादक देशों का कुल कार्बन डाइऑक्साइड गैस के उत्पादन में 67.6% का योगदान है और इसमें में लगभग 30% योगदान अकेले चीन का है.
    आइये अब विश्व में 10 सबसे बड़े कार्बन डाइऑक्साइड उत्पादक देशों के बारे में जानते हैं.
    1. एडगर डेटाबेस के अनुसार के नवीनतम आंकड़ों के अनुसार, चीन दुनिया में कार्बन डाइऑक्साइड का सबसे बड़ा उत्सर्जक है. चीन प्रति वर्ष लगभग 10,641 मिलियन मीट्रिक टन का उत्सर्जन करता है जो कि दुनिया के कुल प्रदूषण का 30% है.

    china pollution
    image source:CNN Money

    2. संयुक्त राज्य अमेरिका प्रति वर्ष 5,414 मिलियन मीट्रिक टन कार्बन डाइऑक्साइड उत्सर्जन के साथ दूसरे स्थान पर है. यह दुनिया के कुल कार्बन उत्पादन का 15% उत्सर्जित करता है. इतने बड़े योगदान के बावजूद भी यह देश पेरिस जलवायु समझौते से हट गया है.
    कृत्रिम वर्षा क्या होती है और कैसे करायी जाती है?
    3. भारत प्रति वर्ष 2,274 मिलियन मीट्रिक टन कार्बन डाइऑक्साइड उत्सर्जन का उत्सर्जन करता है. भारत दुनिया के कुल कार्बन उत्पादन का केवल 7% कार्बन उत्सर्जित करता है.
    4. रूसी संघ प्रति वर्ष लगभग 1,617 मिलियन मीट्रिक टन कार्बन डाइऑक्साइड उत्सर्जन उत्सर्जन करता है. दुनिया के कुल कार्बन उत्सर्जन का 5% रूस द्वारा उत्सर्जित किया जाता है.
    5. जापान प्रति वर्ष लगभग 1,237 मिलियन मीट्रिक टन कार्बन डाइऑक्साइड का उत्सर्जन करता है. एक विकसित देश होने के बाद भी यह देश केवल 4% कार्बन उत्सर्जन का योगदान करता है.
    6. जर्मनी प्रति वर्ष लगभग 798 मिलियन मीट्रिक टन कार्बन डाइऑक्साइड का उत्सर्जन करता है.

    per capita pollution
    image source:robertharding
    7. ईरान प्रति वर्ष 648 मिलियन मीट्रिक टन कार्बन डाइऑक्साइड का उत्सर्जन करता है.
    8. सऊदी अरब प्रति वर्ष लगभग 601 मिलियन मीट्रिक टन कार्बन डाइऑक्साइड का उत्सर्जन करता है.
    9. दक्षिण कोरिया प्रति वर्ष लगभग 592 मिलियन मीट्रिक टन कार्बन डाइऑक्साइड का उत्सर्जन करता है.
    10. कनाडा प्रति वर्ष लगभग 557 मिलियन मीट्रिक टन कार्बन डाइऑक्साइड का उत्सर्जन करता है.
    विश्व में सबसे प्रति व्यक्ति कार्बन डाइऑक्साइड का उत्सर्जन करने वाले देश

    per-capita carbon emmission
    यदि प्रति व्यक्ति कार्बन डाइऑक्साइड उत्सर्जन के आंकड़ों पर नजर डालें तो पता चलता है कि विश्व में अमेरिका का एक नागरिक हर साल लगभग 16 मीट्रिक टन से अधिक कार्बन डाइऑक्साइड गैस का उत्सर्जन करता है. इसके बाद कनाडा, रूस, जापान और जर्मनी का नम्बर आता है. तो इस लिस्ट के आधार पर यह कहा जा सकता है कि विश्व में सबसे अधिक कार्बन डाइऑक्साइड का उत्सर्जन करने वाले देशों में पहले 5 स्थान पर सिर्फ विकसित देश काबिज हैं. इसलिए यदि सम्पूर्ण विश्व में कार्बन डाइऑक्साइड का उत्सर्जन कम करना है तो पहल सबसे पहले विकसित देशों को ही करनी होगी और विकासशील देशों को आर्थिक मदद देनी होगी ताकि ये देश नई तकनीकी को अपनाकर कार्बन उत्सर्जन कम करने की दिशा में कुछ कदम उठा सकें.

    जानें सौर्य ऊर्जा संयंत्र लगवाने पर सरकार कितनी सब्सिडी देती है

    Loading...

    Most Popular

      Register to get FREE updates

        All Fields Mandatory
      • (Ex:9123456789)
      • Please Select Your Interest
      • Please specify

      • ajax-loader
      • A verifcation code has been sent to
        your mobile number

        Please enter the verification code below

      Loading...
      Loading...