Teacher's day 2022: UGC ने लॉन्च की 3 रिसर्च ग्रांट और 2 फेलोशिप स्कीम

यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमीशन (UGC) ने शिक्षक दिवस यानी 5 सितंबर के अवसर पर 3 रिसर्च ग्रांट और 2 फेलोशिप स्कीम लांच की हैं । आइये जानें UGC की इन पांचों स्कीमों के बारे में
UGC new fellowship scheme
UGC new fellowship scheme

Teacher's day 2022: शिक्षक दिवस के अवसर पर यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन ने  3 रिसर्च ग्रांट और 2 फेलोशिप स्कीम लॉन्च की हैं साथ ही उच्च शिक्षण संस्थानों को नियंत्रित करने वाले यूजीसी ने  विश्वविद्यालयों, महाविद्यालयों एवं अन्य उच्च शिक्षा संस्थानों को 5 से 9 सितंबर 2022 तक शिक्षक पर्व मनाने की अपील की हैI 

 आईये इन पांचों  स्कीम के बारे में कुछ महत्वपूर्ण बाते जानते हैं -

Teachers Day 2022: रिसर्च ग्रांट और फेलोशिप स्कीम
यूजीसी द्वारा साझा की गई जानकारी के अनुसार, लांच की जाने वाली 3 रिसर्च ग्रांट स्कीम वर्तमान टीचर्स और फैकल्टी मेंबर्स के लिए होंगी। इस स्कीम के द्वारा कुल 100 लाभार्थियों को चयनित किया जायेगा और इन अभ्यर्थियों को 50 हजार रुपये प्रतिमाह और 50 हजार रुपये प्रति वर्ष आकस्मिक निधि दी जाएगी। इस स्कीम का लाभ लेने के लिए उम्मीदवारों की अधिकतम आयु 67 वर्ष होनी चाहिए और कम से कम उन्हें 10 फुल-टाइम पीएडी शोध कार्य का सुपरवीजन किया होना चाहिए। 

इस फेलोशिप का उद्देश्य नियमित रूप से नियुक्त फैकल्टी सदस्यों को अनुसंधान के अवसर प्रदान करना हैI इस स्कीम से 200 चयनित प्रतिभागियों को सहायता के रूप में 10 लाख रुपये का अनुदान मिलेगा। इस ग्रांट की अवधि अधिकतम 2 वर्ष निर्धारित की गई है।

नई भर्तीयों के लिए डॉ डीएस कोठारी रिसर्च ग्रांट स्कीम -

डीएस कोठारी ग्रांट स्कीम, विज्ञान, चिकित्सा और इंजीनियरिंग के अभ्यर्थियों के लिए पोस्ट-डॉक्टरल फेलोशिप योजना है। इस स्कीम में 132 चयनित उम्मीदवारों को वित्तीय सहायता के रूप में 10 लाख रुपये दिए जाएंगे, जिसकी अवधि अधिकतम 2 वर्ष होगी।

सेवानिवृत्त फैकल्टी मेंबर्स के लिए फैलोशिप

रिसर्च और शिक्षण कार्यक्रमों में सक्रिय रूप से लगे सेवानिवृत्त शिक्षकों को अवसर प्रदान करने के लिए यूजीसी ने यह योजना शुरू कर रहा है। इस फेलोशिप स्कीम में 100 सीटें उपलब्ध हैं, और चयनित आवेदकों को फेलोशिप भुगतान के रूप में हर महीने 50,000 रुपये और आकस्मिक भुगतान में प्रति वर्ष 50,000 रुपये दिए जाएंगे, इसकी अवधि 3 वर्ष की होगी।

डॉ राधाकृष्णन यूजीसी पोस्ट-डॉक्टोरल फैलोशिप

डॉ राधाकृष्णन यूजीसी पोस्ट-डॉक्टोरल फैलोशिप में 900 सीटें होंगी, जिनमें से 30 प्रतिशत सीटें महिला उम्मीदवारों के लिए आरक्षित होंगी। फेलोशिप के एक हिस्से के रूप में, चयनित उम्मीदवारों को हर माह 50,000 रुपये और आकस्मिकता के रूप में प्रति वर्ष 50,000 रुपये मिलेंगे। इस अनुदान की अवधि 3 वर्ष की होगी।

सावित्रीबाई ज्योतिराव फुले फेलोशिप फॉर सिंगल गर्ल चाइल्ड

इस फेलोशिप के लिए सीटों की संख्या निर्धारित नहीं है। इसका उद्देश्य एकल लड़कियों को अपनी पढ़ाई जारी रखने और शोध करने के लिए प्रोत्साहित करना है जिसके परिणामस्वरूप पीएचडी होगी। इसकी अवधि अधिकतम 5 वर्ष निर्धारित है।

 


 

Get the latest General Knowledge and Current Affairs from all over India and world for all competitive exams.
Jagran Play
खेलें हर किस्म के रोमांच से भरपूर गेम्स सिर्फ़ जागरण प्ले पर
Jagran PlayJagran PlayJagran PlayJagran Play

Related Categories