Search

उत्तराखण्ड के नए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के बारे में कुछ अनजाने तथ्य

हाल ही में सम्पन्न उत्तराखंड विधानसभा चुनावों में बंपर जीत के साथ सत्ता में आई भारतीय जनता पार्टी की सरकार की कमान राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ के प्रचारक रहे त्रिवेंद्र सिंह रावत को सौंपी गई हैl 17 मार्च 2017 को देहरादून में भारतीय जनता पार्टी विधायक दल की बैठक में श्री रावत को मुख्यमंत्री पद के लिए चुना गयाl इस लेख में हम त्रिवेंद्र सिंह रावत के बारे में कुछ ऐसे तथ्यों का विवरण दे रहे हैं जिनके बारे में आप शायद ही जानते होंगेl
Mar 17, 2017 18:07 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon

हाल ही में सम्पन्न उत्तराखंड विधानसभा चुनावों में बंपर जीत के साथ सत्ता में आई भारतीय जनता पार्टी की सरकार की कमान राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ के प्रचारक रहे त्रिवेंद्र सिंह रावत को सौंपी गई है. 17 मार्च 2017 को देहरादून में भारतीय जनता पार्टी विधायक दल की बैठक में श्री रावत को मुख्यमंत्री पद के लिए चुना गयाl इस लेख में हम त्रिवेंद्र सिंह रावत के बारे में कुछ ऐसे तथ्यों का विवरण दे रहे हैं जिनके बारे में आप शायद ही जानते होंगेl
 Trivendra Singh Rawat
Image source: indiavotekar.com

त्रिवेंद्र सिंह रावत के बारे में अनजाने तथ्य

1. 56 वर्षीय त्रिवेंद्र सिंह रावत का जन्म जन्म 20 दिसम्बर 1960 को उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल जिले के एक गांव खैरासैण में हुआ थाl उनके माता-पिता का नाम क्रमशः श्री प्रताप सिंह रावत और बोछा देवी हैl त्रिवेंद्र सिंह रावत हिन्दू धर्म के अंतर्गत राजपूत जाति से आते हैंl त्रिवेंद्र सिंह रावत के परिवार में पत्नी श्रीमती सुनीता रावत (सरकारी स्कूल में शिक्षिका) के अलावा दो बेटियां हैंl  
तमिलनाडु के नए मुख्यमंत्री के. पलानीसामी के बारे में 9 अनजाने तथ्य
गोवा के नए मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के बारे में कुछ अनजाने तथ्य

2. अपनी स्कूली शिक्षा समाप्त कर त्रिवेंद्र सिंह रावत ने हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय से इतिहास में स्नातकोत्तर और पत्रकारिता में डिप्लोमा की उपाधि प्राप्त की थीl
3. त्रिवेंद्र सिंह रावत 1979 में राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ में शामिल हुए और 1981 में संघ प्रचारक बनेlउन्हें 1981 में उत्तराखण्ड के लांसडाउन में और 1983 में उत्तराखण्ड के श्रीनगर में संघ का तहसील प्रचारक नियुक्त किया गया थाl  
4. 1985 में त्रिवेंद्र सिंह रावत को उत्तराखण्ड के देहरादून में संघ का नगर प्रचारक नियुक्त किया गया थाl 1989 में उन्हें मेरठ में "राष्ट्रदेव" का एडिटर नियुक्त किया गया थाl
5. 1993 में त्रिवेंद्र सिंह रावत को भारतीय जनता पार्टी का "संगठन मंत्री" नियुक्त किया गया थाl त्रिवेंद्र सिंह रावत 1997 से 2002 तक उत्तरप्रदेश और उत्तराखण्ड में भारतीय जनता पार्टी के “संगठन मंत्री" के पद पर रहेl
 new cm uttarakhand
Image source: Yahoo News
6. वर्ष 2002 में सम्पन्न उत्तरखण्ड के पहले विधानसभा चुनावों में त्रिवेंद्र सिंह रावत "डोईवाला" विधानसभा क्षेत्र से विधायक चुने गए थेl वह 2007 में भी "डोईवाला" विधानसभा क्षेत्र से विधायक निर्वाचित हुए थेl हाल ही में सम्पन्न उतराखण्ड विधानसभा चुनावों में त्रिवेंद्र सिंह रावत तीसरी बार "डोईवाला" विधानसभा क्षेत्र से विधायक चुने गए हैंl
7. त्रिवेंद्र सिंह रावत 2007-2012 के बीच भारतीय जनता पार्टी की सरकार में कृषि मंत्री भी थेl त्रिवेंद्र सिंह रावत की पसंदीदा पुस्तक “श्रीमद भागवत गीता” हैl
8. मार्च 2013 में त्रिवेंद्र सिंह रावत को भारतीय जनता पार्टी का राष्ट्रीय सचिव नियुक्त किया गया थाl त्रिवेंद्र सिंह रावत को 2014 के लोकसभा चुनावों के लिए अमित शाह के साथ उत्तरप्रदेश का सह-प्रभारी नियुक्त किया गया थाl इसके अलावा 2014 के लोकसभा चुनावों के लिए अमित शाह, नवजोत सिंह सिद्धू और पूनम महाजन के साथ-साथ त्रिवेंद्र सिंह रावत को "नए मतदाता अभियान समिति" का सदस्य बनाया गया थाl
9. 2014 में त्रिवेंद्र सिंह रावत को झारखण्ड भारतीय जनता पार्टी का प्रभारी नियुक्त किया गया थाl 2014 में ही त्रिवेंद्र सिंह रावत को "नमामि गंगे" कार्यक्रम का सदस्य नियुक्त किया गया थाl
जयललिता के बारे में 15 रोचक तथ्य