1. Home
  2. Hindi
  3. Covid Effect: कोरोना के दौरान बंद हुए 20 हजार स्कूल, सरकार ने जारी किये आंकडें

Covid Effect: कोरोना के दौरान बंद हुए 20 हजार स्कूल, सरकार ने जारी किये आंकडें

शिक्षा मंत्रालय द्वारा जारी UDISE+ की नवीनतम रिपोर्ट के अनुसार, देश में 2020-21 में कोरोना के दौरान 20,000 से अधिक स्कूल बंद हो गए, जबकि इस वर्ष शिक्षकों की संख्या में पिछले वर्ष की तुलना में 1.95 प्रतिशत की गिरावट भी दर्ज की गई है.

Covid Effect
Covid Effect

Covid Effect: हाल ही में केंद्र सरकार के शिक्षा मंत्रालय द्वारा UDISE+ की नवीनतम रिपोर्ट पेश की गई है. इस रिपोर्ट के अनुसार, कोविड 19 की दूसरी लहर से स्कूली शिक्षा बहुत अधिक प्रभावित हुई है, इस दौरान 20 हजार से अधिक स्कूल बंद हो गए हैं और शिक्षकों की संख्या में भी पिछले वर्ष की तुलना में 1.95 प्रतिशत की कमी रिकॉर्ड की गई है. साथ ही UDISE+ की रिपोर्ट में ये भी बताया गया है कि, केवल 44.85 प्रतिशत विद्यालयों में कंप्यूटर सिखाने की सुविधा है, जबकि केवल 34 प्रतिशत विद्यालयों में इंटरनेट कनेक्शन उपलब्ध हैं.

कल जारी रिपोर्ट के अनुसार, देश भर में वर्ष 2021-22 में स्कूलों की कुल संख्या 14.89 लाख है, लेकिन वर्ष 2020-21 में इनकी संख्या 15.09 लाख थी अर्थात कोविड की दूसरी लहर के बाद 20 हजार से अधिक स्कूलों की कमी हुई है. बंद होने वाले कुल स्कूलों में निजी स्कूलों की हिस्सेदारी 24% जबकि सरकारी स्कूलों की हिस्सेदारी 48% थी, जिसमें सरकारी सहायता प्राप्त स्कूल और "अन्य" सम्मिलित थे.

रिपोर्ट के अनुसार, पिछले वित्तीय वर्ष के दौरान निजी स्कूलों से सरकारी स्कूलों में जाने वाले स्टूडेंट्स की संख्या में भी वृद्धि हुई है, जो कोविड के दौरान पेरेंट्स की रोजगार की कमी, नौकरी छूटने और वेतन में कटौती को दर्शाती है. दौरान सरकारी स्कूलों में जहाँ न्यू एडमिशन की संख्या में 83.35 लाख की वृद्धि हुई है तो वहीँ निजी स्कूलों में इसमें 68.85 लाख की कमी दर्ज की गई है.

बंद किये गए स्कूलों की संख्या में मध्य प्रदेश का पहला स्थान है यहाँ 6,457 सरकारी स्कूल और 1,167 निजी स्कूलों को बंद किया गया है. ये किसी भी अन्य राज्य या केंद्र शासित प्रदेश की तुलना में सबसे ज्यादा हैं। यदि जारी किये गए अन्य डेटा की बात करें तो उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, तेलंगाना और गोवा को छोड़कर केंद्र शासित प्रदेशों और राज्यों में 2020-21 की तुलना में 2021-22 में शिक्षकों की संख्या में कमी दर्ज की गई है. इस दौरान राजस्थान में 1197 निजी स्कूल और 135 सरकारी स्कूल बंद हुए हैं जबकि यहाँ पिछले वर्ष की तुलना में 31,148 शिक्षकों की कमी हुई है.  

अन्य राज्यों की बात करें तो ओडिशा, में 1984 स्कूलों की संख्या में कमी आई है जिसमें 289 निजी स्कूल थे वहीं यहाँ 24,638 शिक्षकों की भी कमी हुई है. इसके बाद कर्नाटक में 22937, पंजाब में 21940, बिहार में 18643, असम में 17397 और गुजरात में 10687 शिक्षकों की कमी हुई है.