1. Home
  2. Hindi
  3. DU Update: दिल्ली विश्वविद्यालय ने आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों के लिए वित्तीय सहायता योजना शुरू की, यहाँ देखें डिटेल्स

DU Update: दिल्ली विश्वविद्यालय ने आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों के लिए वित्तीय सहायता योजना शुरू की, यहाँ देखें डिटेल्स

दिल्ली विश्व विद्यालय आर्थिक रूप से कमजोर स्टूडेंट्स के लिए वित्तीय सहायता योजना शुरू कर रहा है. इस सहायता योजना का लाभ लेने के लिए स्टूडेंट्स को 12 दिसंबर तक आवेदन करना होगा यहाँ देखें डिटेल्स.

DU Financial Support Scheme
DU Financial Support Scheme


DU Update: दिल्ली विश्वविद्यालय आर्थिक रूप से कमजोर स्टूडेंट्स के लिए वित्तीय सहायता योजना शुरू कर रहा है. इस सुविधा के तहत वो सभी स्टूडेंट आवेदन कर सकते हैं जिनकी पारिवारिक आय 4 लाख रु से कम है उन्हें फीस में 100 प्रतिशत की छूट प्रदान की जायेगी जबकि जनकी पारिवारिक आय 4 से 8 लाख रुपये के बीच है, उन्हें 50 प्रतिशत की शुल्क माफी मिलेगी। दिल्ली विश्वविद्यालय ने आर्थिक रूप से कमजोर पृष्ठभूमि से आने वाले और विश्वविद्यालय में ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन पाठ्यक्रमों में दाखिला लेने वाले छात्रों के लिए वित्तीय सहायता योजना (एफएसएस) शुरू की है. इच्छुक और पात्र उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट पर योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं. 


वित्तीय सहायता योजना (FSS) के लिए आवेदन करने के लिए, उम्मीदवारों को एक फॉर्म भरना होगा जो वेबसाइट पर  ऑनलाइन उपलब्ध है इसमें आवेदकों को व्यक्तिगत विवरण, पाठ्यक्रम, कॉलेज विवरण और संपर्क विवरण को भरना होगा. आवेदन के लिए स्टूडेंट्स के पास 4 दिसम्बर 2022 दोपहर 4 बजे तक का टाइम है अत: स्टूडेंट्स इस सुविधा का लाभ लेने के लिए जल्द आवेदन करें. 

जारी अधिसूचना के अनुसार, जिन स्टूडेंट्स की पारिवारिक आय 4 लाख रुपये से कम है उन्हें फीस में 100 फीसदी तक की छूट मिलेगी और जिन उम्मीदवारों की पारिवारिक आय 4 से 8 लाख रुपये के बीच है, उन्हें 50 प्रतिशत की शुल्क माफी दी जायेगी. 

इस सुविधा का लाभ लेने के लिए स्टूडेंट्स को कई आवश्यक और अनिवार्य दस्तावेजों को जमा करना होगा. ये दस्तावेज हैं - पिछली पास की गई परीक्षा की मार्कशीट, माता-पिता का आईटीआर, डिग्री/स्नातकोत्तर डिग्री कोर्स में छात्र की वास्तविक प्रतियां, शुल्क रसीद की प्रतियां जिसमें अलग-अलग मदों के तहत राशि का उल्लेख हो, बैंक पासबुक की कॉपी जिसमे छात्र का नाम हो, तहसीलदार या समकक्ष सक्षम प्राधिकारी द्वारा जारी मानक निर्गम में खाता संख्या, IFSC कोड और उचित स्थान पर चिपकाया गया फोटो और पिछले वित्तीय वर्ष का वार्षिक पारिवारिक आय प्रमाण पत्र.