1. Home
  2. Hindi
  3. Difference: जानें फुटबॉल में पेनाल्टी व फ्री किक में क्या होता है अंतर ?

Difference: जानें फुटबॉल में पेनाल्टी व फ्री किक में क्या होता है अंतर ?

Difference: भारत में किक्रेट के साथ-साथ फुटबॉल के भी दीवने हैं। हालांकि, क्या आपको पता है कि फुटबॉल खेल के दौरान मिलने वाली पेनाल्टी व फ्री किक में क्या अंतर होता है। यदि नहीं पता है तो, इस लेख के माध्यम से हम जानेंगे। 

Difference: जानें फुटबॉल में पेनाल्टी व फ्री किक में क्या होता है अंतर ?
Difference: जानें फुटबॉल में पेनाल्टी व फ्री किक में क्या होता है अंतर ?

Difference:  भारत में क्रिकेट के साथ-साथ फुटबॉल को भी पसंद किया जाता है। यही वजह रही कि अभी हाल ही में आयोजित हुए फीफा विश्व कप को करोड़ों लोगों ने देखा। यही नहीं फुटबॉल मैच में खेले जाने वाले टीमों को लेकर भी लोगों में दीवानगी देखने को मिली। यदि आपने भी मैच देखा होगा तो आपने पेनाल्टी किक व फ्री किक देखी होगी। लेकिन, क्या आपको इन दोनों किक के बारे में अंतर पता है। यदि नहीं पता है तो हम इस लेख के माध्यम से आपको दोनों किक के बारे में अंतर बताने जा रहे हैं, जिससे आपकी फुटबॉल मैच को लेकर समझ बढ़ सके। 

 

हर दूसरे खेल की तरह इस खेल और इसके खिलाड़ियों के पालन करने के लिए कुछ नियम और कानून हैं। फुटबॉल में कुल 17 नियम हैं और उनमें से एक किक से संबंधित है। तो आइये सबसे पहले बात करते हैं फ्री किक के बारे में। 



क्या होती है फ्री किक ?

 फ़ुटबॉल में खेल को फिर से शुरू करने की प्रक्रिया को फ्री किक के रूप में जाना जाता है। यह विरोधी पक्ष द्वारा नियमों के उल्लंघन के बाद दिया जाता है।

फ्री किक दो प्रकार की होती है, डायरेक्ट फ्री किक और इनडायरेक्ट फ्री किक। अब इन दोनों के बीच के अंतर को समझते हैं।

 

इनडायरेक्ट फ्री किक: इनडायरेक्ट फ्री किक खेल को फिर से शुरू करने के लिए दी जाती है, जो कि फाउल के कारण बंद हो गया होता है । "गैर-दंडात्मक" फ़ाउल के बाद या जब किसी विशिष्ट फ़ाउल किए बिना किसी प्रतिद्वंद्वी को सावधानी बरतने या बर्खास्त करने के लिए खेल को रोक दिया जाता है, तो ये विरोधी पक्ष को दिए जाते हैं।

 

इसके परिणामस्वरूप गोल नहीं किया जा सकता है। इस दौरान किसी भी खिलाड़ी के स्कोर करने से पहले खिलाड़ी द्वारा अप्रत्यक्ष फ्री-किक लेने के बाद गेंद को दूसरे खिलाड़ी को छूना चाहिए।

 

 इन मामलों में दी जाती है इनडायरेक्ट फ्री किक 

 

यदि खिलाड़ी खतरनाक तरीके से खेल रहा है

एक खिलाड़ी शारीरिक संपर्क के बिना विरोधी की प्रगति में बाधा डालता है

एक खिलाड़ी अश्लील, अपमानजनक, या अपमानजनक भाषा या इशारों का उपयोग करता है

एक खिलाड़ी गोलकीपर को अपने हाथों से गेंद को छुड़ाने से रोकता है

एक खिलाड़ी गेंद को लात मारने की कोशिश कर रहा हो जब गोलकीपर ऐसा करने का प्रयास कर रहा होता है।

 

यहां आपको यह भी बता दें कि जब गोलकीपर गेंद के साथ कोई छेड़छाड़ करता है तो इनडायरेक्ट फ्री किक भी दी जाती है।



अब समझते हैं डायरेक्ट फ्री किक क्या होती है

 

  1. डायरेक्ट फ्री किक: फाउल करने वाली टीम को डायरेक्ट फ्री किक दी जाती है। अक्सर कई बार सीधे फ्री किक के परिणामस्वरूप गोल हो जाता है।

 

डायरेक्ट फ्री किक देने के मामलेः

 

जब एक खिलाड़ी लापरवाही करता है।

एक खिलाड़ी नियम तोड़ने के लिए अत्यधिक बल का प्रयोग करता है।

एक खिलाड़ी हैंडबॉल उल्लंघन में पाया जाता है।

एक खिलाड़ी शारीरिक संपर्क द्वारा विपरीत टीम के किसी सदस्य को रोकता या पकड़ता है।




अब हम समझते हैं कि पेनल्टी किक क्या होती है।

 

क्या होती है पेनल्टी किक ?

फाउल के कारण रुके हुए खेल को फिर से शुरू करने के लिए पेनल्टी किक दी जाती है। पेनल्टी किक में एक खिलाड़ी को गोल करने के लिए केवल एक शॉट दिया जाता है और विरोधी टीम के गोलकीपर द्वारा केवल बचाव किया जाता है।

 

पेनल्टी किक तब दी जाती है, जब कोई खिलाड़ी अपने पेनल्टी क्षेत्र के अंदर कोई अपराध करता है, जो सीधे फ्री किक द्वारा दंडनीय होता है। पेनल्टी शॉट पेनल्टी मार्क पर लिया जाता है, जो गोल लाइन से 11 मीटर की दूरी पर और टचलाइन के बीच में स्थित होता है।



फ्री किक और पेनल्टी किक के बीच अंतर

पेनल्टी किक एक प्रकार की सीधी फ्री किक होती है। एक रेफरी पेनल्टी किक तब देता है, जब कोई खिलाड़ी विरोधी टीम के पेनल्टी क्षेत्र के अंदर सीधे किक फाउल करता है। वहीं, या जब कोई प्रतिद्वंद्वी पेनल्टी बॉक्स के अंदर फाउल करता है, तो पेनल्टी किक पेनल्टी बॉक्स के अंदर पेनल्टी स्पॉट से ली जाती है।

 

इसके विपरीत एक फ्री किक तब दी जाती है, जब कोई प्रतिद्वंद्वी पेनल्टी बॉक्स के अंदर फ़ाउल करता है। इसके अतिरिक्त फ्री किक के लिए खिलाड़ी की दीवार होती है, लेकिन पेनल्टी के दौरान केवल गोलकीपर और पेनल्टी लेने वाला मौजूद होता है।

 

आपको यह भी बता दें कि फुटबॉल मैच के जिस क्षेत्र में अपराध हुआ है, वह यह निर्धारित करता है कि अपराध के लिए सीधे फ्री किक या पेनल्टी किक की आवश्यकता है या नहीं।