1. Home
  2. Hindi
  3. IPS Success Story: US में छोड़ी 50 लाख की नौकरी, पहले प्रयास में IPS बने संतोष मिश्रा

IPS Success Story: US में छोड़ी 50 लाख की नौकरी, पहले प्रयास में IPS बने संतोष मिश्रा

IPS Success Story: संतोष मिश्रा ने अमेरिका में 50 लाख रुपये का पैकेज छोड़कर अपने देश में आकर सिविल सेवा परीक्षा पास करने का निश्चय किया। उन्होंने परीक्षा पास कर आईपीएस का पद लिया। अब वह उत्तरप्रदेश कैडर में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। 

IPS Success Story: US में छोड़ी 50 लाख की नौकरी, पहले प्रयास में IPS बने संतोष मिश्रा
IPS Success Story: US में छोड़ी 50 लाख की नौकरी, पहले प्रयास में IPS बने संतोष मिश्रा

IPS Success Story: अधिकांश युवाओं का सपना होता है कि वे किसी अच्छे संस्थान से अपनी पढ़ाई पूरी करे और विदेश में नौकरी करे। हालांकि, हर युवा का यह सपना सच नहीं होता है। यदि किसी युवा का यह सपना सच हो जाए, तो वह मुश्किल ही है कि अच्छे पैकेज को छोड़कर वापस भारत आकर नौकरी करे। क्योंकि, विदेशों में युवाओं को अच्छे पैकेज पर नौकरी मिल जाती है, जिससे उनकी जीवनशैली पूरी तरह से बदल जाती है। लेकिन, कुछ युवा होते हैं, जो यह कठिन निर्णय लेते हैं और देश सेवा करते हैं। आज हम आपको एक ऐसी ही कहानी बताने जा रहे हैं, जिसमें संतोष मिश्रा ने अमेरिका में 50 लाख रुपये के पैकेज को छोड़कर सिविल सेवा में करियर बना देश सेवा करने का निर्णय लिया। 

 

संतोष मिश्रा का परिचय

संतोष मिश्रा मूलरूप से बिहार के पटना के रहने वाले हैं। उनके पिता आर्मी में थे। संतोष ने अपनी स्कूली शिक्षा पटना से पूरी की और इसके बाद पुणे के इंजीनियरिंग कॉलेज में मैकेनिकल ब्रांच में दाखिला लिया। यहां से उन्होंने अपनी स्नातक की पढ़ाई पूरी की।

 

इंजीनियरिंग के बाद विदेश में लगी नौकरी 

पुणे से इंजीनियरिंग करने के बाद उनका चयन एक यूरोप की कंपनी में हो गया। वहां उन्होंने करीब चार सालों तक नौकरी की। इसके बाद वह अमेरिका में नौकरी के लिए पहुंच गए। वहां उन्होंने करीब सात सालों तक काम किया। लेकिन, इस बीच देश सेवा का जुनून दिल में पलता रहा। इस बीच विदेश में उनका पैकेज 50 लाख रुपये था।

 

छोड़ा पैकेज और लेटे स्वदेश

संतोष मिश्रा ने अपने दिल में पल रही देश सेवा की इच्छा को पूरा करने के लिए विदेश का 50 लाख रुपये का पैकेज छोड़ने का निर्णय लिया। वह विदेश छोड़ वापस अपने परिवार के पास लौट आए और सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी में जुट गए।

 

पहले प्रयास में ही पास की सिविल सेवा

संतोष मिश्रा ने देश की कठिन परीक्षाओं में शामिल यूपीएससी सिविल सेवा के लिए दिन-रात मेहनत करना शुरू कर दी। उन्होंने पूरी मेहनत के साथ किताबों का अध्ययन किया और पूरी तैयारी के साथ परीक्षा दी। संतोष ने अपने पहले प्रयास में ही 2012 में सिविल सेवा परीक्षा को पास कर लिया था। इसके बाद उन्हें आईपीएस सेवा मिली। वह वर्तमान में उत्तरप्रदेश कैडर में तैनात हैं और मिर्जापुर में एसपी के पद पर तैनात हैं।

 

सोशल मीडिया पर हैं लोकप्रिय

आईपीएस संतोष मिश्रा सोशल मीडिया पर भी काफी लोकप्रिय हैं। वह ट्वीटर पर सक्रिय रहते हैं और 78,000 लोग उन्हें फॉलो करते हैं। वहीं, संतोष मिश्रा को खाली समय बच्चों के साथ बिताने में अच्छा लगता है। वह अक्सर गरीब बच्चों को भी निशुल्क पढ़ाते हैं। इस वजह से वह न सिर्फ बड़े बल्कि बच्चों मे भी काफी लोकप्रिय हैं। 

 

पढ़ेंः UPSC IAS 2021: जानिएं किस राज्य से सबसे अधिक चुने गए IAS अधिकारी