1. Home
  2. Hindi
  3. जानें किसने किया था चिकन टिक्का का आविष्कार

जानें किसने किया था चिकन टिक्का का आविष्कार

यदि आप नॉन वेज खाते होंगे तो आपने चिकन टिक्का भी खाया होगा। लेकिन, क्या आपको पता है कि चिकन टिक्का किसने बनाया था और इसके पीछे बनने की कहानी क्या है। इस लेख के माध्यम से हम आपको चिकन टिक्के के आविष्कारक के बारे में बताने जा रहे हैं। 

जानें किसने किया था चिकन टिक्का का आविष्कार
जानें किसने किया था चिकन टिक्का का आविष्कार

नॉन वेज में यूं तो कई तरह की डिश होती हैं, लेकिन इसमें भी एक डिश आप लोगों को खूब पसंद होगी, जो कि चिकन टिक्का है। घरों से लेकर रेस्तरां में इसकी अधिक मांग रहती है। यही वजह है कि बहुत लोग इसके खाने के दीवाने हैं। आज हम आपको चिकन टिक्का की कहानी बताने जा रहे हैं कि आप लोगों की पसंदीदा डिश चिकन टीक्का को पहली बार किसने बनाया था। साथ ही यह भी बताएंगे कि आखिर कैसे चिकन टिक्का का आविष्कार हुआ था। 

 

चिकन टिक्का का आविष्कार शेफ अली अहमद असलम ने किया था। अभी हाल ही में ग्लासगो स्थित शेफ अली अहमद असलम का 77 वर्ष की आयु में निधन हो गया। उन्होंने साल 1964 में शीश महल भोजनालय की स्थापना की थी। उनके ग्लासगो रेस्तरां, शीश महल ने अली अहमद असलम के निधन की घोषणा की। 

 

शेफ की कहानीः

'मिस्टर अली' के नाम से लोकप्रिय शेफ का जन्म पाकिस्तान में हुआ था। हालांकि, एक बच्चे के रूप में वह अपने परिवार के साथ स्कॉटलैंड के ग्लासगो में स्थानांतरित हो गए थे। एक

समाचार एजेंसी को दिए एक बयान में उन्होंने पश्चिमी देशों के सबसे लोकप्रिय व्यंजनों में से एक का विस्तार से वर्णन किया है। उन्होंने खुलासा किया था कि चिकन टिक्का मसाला का आविष्कार 1970 के दशक में एक ग्राहक के अपने चिकन टिक्का को कम सूखा बनाने के अनुरोध के जवाब में किया गया था। उन्होंने इसमें टमाटर सॉस जोड़ने का फैसला किया। 

 

असलम के मुताबिक, 'चिकन टिक्का मसाला इसी रेस्टोरेंट में ईजाद किया गया था। हम चिकन टिक्का बनाते थे और एक दिन एक ग्राहक ने कहा, 'मैं इसके साथ कुछ सॉस लूंगा, यह थोड़ा सूखा है।" 

 

असलम के मुताबिक, "हमने सोचा कि हम चिकन को कुछ सॉस के साथ बेहतर पकाएंगे। तो, यहां से हमने दही, क्रीम और मसालों वाली चटनी के साथ चिकन टिक्का पकाया। यह हमारे ग्राहकों के स्वाद के अनुसार तैयार की जाने वाली डिश है। आमतौर पर वे गर्म तरी नहीं लेते थे,  इसलिए हम इसे दही और मलाई के साथ पकाते थे। बाद में यह ब्रिटिश भोजनालयों में मेनू आइटमों में शीर्ष स्थान पर पहुंच गया।

 

हालांकि, 'चिकन टिक्का मसाला' की सटीक उत्पत्ति को बताना चुनौतीपूर्ण है। यह आम तौर पर स्वीकार किया जाता है कि यह एक करी है, जिसे पश्चिमी स्वाद के लिए बेहतर बनाने के लिए संशोधित किया गया है। मशहूर शेफ के मुताबिक, चिकन टिक्का मसाला हर ग्राहक की पसंद के हिसाब से बनाया जाता है।

 

ब्रिटिश पूर्व विदेशी मंत्री ने बताया था संस्कृति का आवश्यक घटकः

पूर्व ब्रिटिश विदेश मंत्री रॉबिन कुक ने एक बार पकवान को देश की संस्कृति के एक आवश्यक घटक के रूप में संदर्भित किया था। यह इस डिश को संरक्षित दर्जा देने के कई पक्षों में शामिल था।

 

कुक ने 2001 के एक भाषण में कहा था, "चिकन टिक्का मसाला अब एक सच्चा ब्रिटिश राष्ट्रीय व्यंजन है, न केवल इसलिए कि यह सबसे लोकप्रिय है, बल्कि इसलिए भी कि यह ब्रिटेन द्वारा बाहरी प्रभावों को आत्मसात करने और अपनाने के तरीके का एक आदर्श उदाहरण है।"  अली के परिवार में पत्नी, तीन बेटे और दो बेटियां हैं।