1. Home
  2. Hindi
  3. Delhi University : अब DU में डिस्टेंस से कर सकेंगे MBA, 28 साल बाद लॉन्च किये गये 6 नए कोर्स

Delhi University : अब DU में डिस्टेंस से कर सकेंगे MBA, 28 साल बाद लॉन्च किये गये 6 नए कोर्स

 दिल्ली यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ़ ओपन लर्निंग ने 28 साल बाद अपने पाठ्यक्रम में 6 नए कोर्सेज़ को जगह दी है . इन नए कोर्सेज़ में MBA भी शामिल है. जानिये छात्र अब  और कौन -कौन से नए कोर्स में दाखिला ले सकते हैं. 

 

Delhi University : now mba can also be done from du sol six new courses are launched after twenty eight years
Delhi University : now mba can also be done from du sol six new courses are launched after twenty eight years

Delhi University : दिल्ली यूनिवर्सिटी देश की एक जानी-मानी, यूनिवर्सिटी है जहाँ पढ़ने के लिए केवल दिल्ली के ही नही बल्कि दूर-दराज़ के छात्र भी सपना देखते हैं.  दिल्ली यूनिवर्सिटी रेगुलर कोर्सेज के साथ साथ डिस्टेंस मोड से भी कोर्सेज ऑफर करती है लेकिन बीते 28 सालों से इन कोर्सेज़ में कोई भी कोर्स शामिल नहीं किया गया था परन्तु अब 28 सालों के बाद दिल्ली यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ़ ओपन लर्निंग में 6 नए कोर्स शामिल किये गये हैं. 

दिल्ली स्कूल ऑफ़ ओपन लर्निंग 

दिल्ली यूनिवर्सिटी का स्कूल ऑफ़ ओपन लर्निंग उन छात्रों के लिए एक डिग्री हासिल करने का एक सुलभ रास्ता है जो अपने काम या किन्हीं भी अन्य कारणों से रेगुलर मोड से डिग्री हासिल करने में असमर्थ रहते है .  बीते सोमवार अर्थात् 4 अक्टूबर को DU के कुलपति प्रो योगेश सिंह ने स्कूल ऑफ़ ओपन लर्निंग के नए सेशन (2022 -23) का शुभारम्भ किया जिसके साथ ही इन्होंने  स्कूल ऑफ़ ओपन लर्निंग ( SOL) में 6 नए कोर्स भी लॉन्च किये . 

DU कुलपति प्रो योगेश सिंह का क्या है कहना 

कुलपति प्रो योगेश सिंह ने SOL के पाठ्यक्रम में 6 नए कोर्सेज को शामिल करते हुए कहा की समय के साथ ज़रूरतें भी बदलती है जिनके लिए UG और PG के 6 नए कोर्स लॉन्च किये जा रहे हैं . आगे DU कुलपति का कहना था की यह कोर्स छात्रों की रोजगार क्षमता को कई गुना तक बढ़ा देगा और साथ ही यह कोर्स छात्रों को उनके रणनीतिक निर्णय लेने में भी कारगर साबित होंगे.

कौन कौन से कोर्स किये गये है लॉन्च 

SOL में पिछले सारे कोर्सेज के साथ अब छात्र इन नए 6 कोर्सेज़ में भी दाखिला ले सकते हैं. DU कुलपति के अनुसार यह सारे कोर्सेज़ छात्रों के लिए रोज़गार के नए अवसर उत्पन्न करेंगे . 

मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (MBA)  

बैचलर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन: फाइनेंशियल इन्वेस्टमेंट एनेलाइजेज (BBA FIA) 

 बैचलर ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज (BMS) 

बैचलर ऑफ लाइब्रेरी एंड इन्फॉर्मेशन साइन्स (BLIS)

मास्टर ऑफ लाइब्रेरी एंड इन्फॉर्मेशन साइन्स (MLIS)

 बैचलर ऑफ आर्ट्स (ऑनर्स) अर्थशास्त्र (BA(hons) economics )

MBA में होंगी सीमित सीटें 

स्कूल ऑफ़ ओपन लर्निंग की निदेशिका प्रोफेसर पायल मागो के द्वारा दी गयी जानकारी के अनुसार MBA में केवल सीमित सीटों पर ही एडमिशन लिया जा सकता है . इन सीमित सीटों की संख्या 20 हज़ार हैं जिनपर दाखिला मेरिट के आधार पर होगा. हालांकि बाकी के सभी 5 कोर्सेज़ में सीटों की संख्या असीमित होगी अर्थात् इन कोर्सेज़ में जितने चाहे छात्र एडमिशन ले सकते हैं.

ज्ञात हो की नए शैक्षणिक सत्र में इन सभी कोर्सेज़ में दाखिले NEP 2020 के तहत अंडरग्रेजुएट करिकुलम फ्रेमवर्क (UGCF-2022) के अनुसार ही होंगे.  

क्या होगी प्रवेश प्रक्रिया 

स्कूल ऑफ़ ओपन लर्निंग में दाखिले के लिए ऑनलाइन ही आवेदन किया जाएगा . SOL निदेशिका प्रोफेसर पायल मागो ने बताया की SOL रजिस्ट्रेशन और एडमिशन की पूरी प्रक्रिया https://sol.du.ac.in पर होगी . इन सभी कोर्सेज़ को डिस्टेंस एजुकेशन ब्यूरो (distance education bureau) और AICTE के द्वारा अनुमोदित कर दिया गया है इसलिए उम्मीदवार केवल ऑनलाइन मोड में ही एडमिशन ले सकते हैं.