1. Home
  2. Hindi
  3. राष्ट्रपति ने असम में किया ट्रेन सहित कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन, जानें 'परम कामरूप' सुपरकंप्यूटर के बारें में

राष्ट्रपति ने असम में किया ट्रेन सहित कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन, जानें 'परम कामरूप' सुपरकंप्यूटर के बारें में

President Droupadi Murmu: राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने आज असम में कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया है. यह उद्घाटन कार्यक्रम गुवाहाटी के श्रीमंत शंकरदेव कला क्षेत्र में आयोजित किया गया था. जानें 'परम कामरूप' सुपरकंप्यूटर के बारें में.

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने असम में किया ट्रेन सहित कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन
राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने असम में किया ट्रेन सहित कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन

President Droupadi Murmu: राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने आज असम में कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया है. यह उद्घाटन कार्यक्रम गुवाहाटी के श्रीमंत शंकरदेव कला क्षेत्र में आयोजित किया गया था. इस अवसर पर राज्यपाल जगदीश मुखी, प्रदेश के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा और पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस राज्य मंत्री, रामेश्वर तेली आदि मौजूद थे.

मेघालय और नगालैंड को जोड़ने वाली ट्रेन का उद्घाटन:

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने इस अवसर पर मेघालय और नगालैंड को जोड़ने वाली यात्री रेलगाडी को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. यह ट्रेन नगालैंड के शोखुवी से चलकर गुवाहाटी से होते हुए मेघालय के मेंदीपाथर तक जाएगी. जिससे इस उत्तरपूर्वी क्षेत्र में परिवहन का नया साधन यहाँ के निवासियों को मिलेगा.

रेल-फेड पेट्रोलियम भंडार डिपो का उद्घाटन:

राष्ट्रपति मुर्मु ने सिलचर स्थित मोइनारबॉन्ड में इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड के रेल-फेड पेट्रोलियम भंडार डिपो का भी उद्घाटन किया है. साथ ही उन्होंने गोहपुर को होलोंग से और सिलचर को बदरपुर से जोड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्गों का भी उद्घाटन किया है.    

आदर्श माध्यमिक विद्यालयों का शिलान्यास:

राष्ट्रपति मुर्मु ने साथ ही चाय बागान क्षेत्रों के लिए 100 आदर्श माध्यमिक विद्यालयों, 3000 आदर्श आंगनवाड़ी केंद्रों और गुवाहाटी के समीप अग्यथुरी में एक आधुनिक कार्गो सह कोचिंग टर्मिनल की भी आधारशिला रखी है. इसकी मदद से आगे आने वाले समय में शिक्षा के अनेक अवसर प्राप्त होंगे.

'परम कामरूप' सुपरकंप्यूटर:

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने अपनी यात्रा के पहले दिन भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, गुवाहाटी में 'परम कामरूप' सुपरकंप्यूटर सुविधा का उद्घाटन किया था. साथ ही उन्होंने उच्च-शक्ति सक्रिय और निष्क्रिय घटक प्रयोगशाला 'समीर' का भी उद्घाटन किया. 'परम कामरूप' सुपरकंप्यूटर पूर्वोत्तर क्षेत्र में विकसित किया गया अपनी तरह का एक सुपर कंप्यूटर है. इसे राष्ट्रीय सुपरकंप्यूटिंग मिशन के तहत स्थापित किया गया है.

नार्थ-ईस्ट के लिए क्या है सरकार का विजन?

केंद्र सरकार नार्थ-ईस्ट राज्यों की राज्य सरकारों के साथ मिलकर इस क्षेत्र के विकास के लिए प्रतिबद्ध है. इस उद्घाटन अवसर पर राष्ट्रपति ने कहा कि केन्द्र सरकार पूर्वोत्तर राज्यों को सड़क और रेलमार्ग से जोडने पर विशेष ध्यान दे रही है. साथ ही क्षेत्र में व्यापार सुविधा को बढ़ाने के लिए नए औद्योगिक क्षेत्र का विकास भी किया जा रहा है.

इसी कड़ी में केंद्र सरकार ने हाल ही में पीएम-डिवाइन नाम से एक योजना का एलान किया था जो इन क्षेत्रों के विकास के लिए सहयोग प्रदान करेगा. यह एक पूर्ण रूप से केंद्र प्रायोजित योजना है. साथ ही सरकार पर्यटन और रोजगार के नए अवसरों का सृजन कर रही है. जो क्षेत्र को और आगे ले जायेंगे.       

इसे भी पढ़े

हिमाचल प्रदेश के विधानसभा चुनाव की तारीख का एलान, जानें कब है इलेक्शन?