1. Home
  2. Hindi
  3. IAS Success Story: IAS बनने के लिए ठुकराया 55 लाख का पैकेज, पढ़ें भविष्य देसाई की कहानी

IAS Success Story: IAS बनने के लिए ठुकराया 55 लाख का पैकेज, पढ़ें भविष्य देसाई की कहानी

IAS Success Story: आज हम आपको भविष्य देसाई की कहानी बताने जा रहे हैं, जिनके मन में आईएएस बनने का सपना था। इसलिए उन्होंने पैसों की परवाह न करते हुए 55 लाख रुपये का पैकेज भी ठुकरा दिया और आईएएस अधिकारी बन गए। 

IAS Success Story:  IAS बनने के लिए ठुकराया 55 लाख का पैकेज, पढ़ें भविष्य देसाई की कहानी
IAS Success Story: IAS बनने के लिए ठुकराया 55 लाख का पैकेज, पढ़ें भविष्य देसाई की कहानी

IAS Success Story: सिविल सेवा लाखों युवाओं का सपना होता है। लेकिन, इसे पाना आसान नहीं होता। युवा सालों साल मेहनत करते हैं और इसके बाद भी सफलता निश्चित नहीं होती है। यह तब और मुश्किल हो जाता है, जब आपके पास अच्छा खासा वेतन वाला पैकेज है। ऐसे में बहुत कम ही लोग होंगे, जो अच्छा पैकेज छोड़कर सिविल सेवा में जाने का मन बनाएंगे। आज हम आपको एक ऐसी ही प्रेरणादायक कहानी बताने जा रहे हैं। यह कहानी है भविष्य देसाई की, जिन्होंने 55 लाख रुपये का पैकेज छोड़कर आईएएस बनने का सपना पूरा किया। 



भविष्य देसाई का परिचयः

 

भविष्य देसाई मूल रूप से राजस्थान के अजमेर के रहने वाले हैं। उन्होंने ज्योति स्कूल से 12वीं पास की और कानपुर आईआईटी में दाखिला लिया। यहां से उन्होंने चार वर्षीय बीटेक की डिग्री कंप्यूटर साइंस में पूरी की। साल 2020 में उनकी स्नातक हो गई थी। वहीं, जब वह कॉलेज में पढ़ रहे थे, तब ही निर्णय लिया था कि उन्हें आगे चलकर आईएएस अधिकारी बनना है।  

 

55 लाख रुपये का पैकेज ठुकराया

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पढ़ाई पूरी करने के बाद भविष्य को गुरुग्राम-दिल्ली की एक स्टॉक मार्केटिंग कंपनी में 55 लाख रुपये का जॉब ऑफर आया। लेकिन, वह अपने यूपीएससी के फैसले पर टिके रहे और इस बड़े पैकेज को ठुकरा दिया। भविष्य यूपीएससी की तैयारी इस तरह करते थे कि उनके पिता को उन्हें आराम करने के लिए बोलना पड़ता था। 

 

शुरू से किताबें पढ़ने का रहा शौक 

भविष्य देसाई को बचपन से ही किताबों से प्यार है। वह अक्सर किताबें पढ़ा करते थे। इसका फायदा उन्हें अपनी यूपीएससी की तैयारी में मिला। भविष्य के मुताबिक, जब उन्होंने यूपीएससी की तैयारी शुरू की, तो उन्हें जानकारी थी कि कौन-कौन सी किताबों को पढ़ना है। उन्होंने अपना ध्यान केंद्रित करते हुए केवल कुछ किताबों को ही अपनी तैयारी का आधार बनाया और चुनी गई किताबों का ठीक तरह से अध्ययन किया। 

 

सोशल मीडिया से बनाई दूरी और पहले प्रयास में यूपीएससी में पाई 29 रैंक 

भविष्य देसाई ने अपनी पढ़ाई के दौरान सोशल मीडिया से पूरी तरह  से दूरी बना ली थी। क्योंकि, वह अपनी पढ़ाई में किसी भी तरह का कोई व्यवधान नहीं चाहते थे। इसके लिए उन्होंने अपना स्मार्टफोन ही खुद से दूर कर दिया था। भविष्य ने अपनी तैयारी के लिए एक टाइम टेबल बनाया था। वह उस टाइम टेबल के माध्यम से तैयारी किया करते थे। पढ़ाई के शेड्यूल को लेकर वह काफी अनुशासित थे। यही वजह रही कि ठीक तरह से कड़ी मेहनत करने की वजह से उन्होंने अपने पहले प्रयास में ही यूपीएससी 2021 की सिविल सेवा परीक्षा में 29वां रैंक प्राप्त किया था।  

 

भविष्य का कहानी हमें बताती है कि यदि जीवन में कोई लक्ष्य तय किया है और आप उसके प्रति मेहनत व लगन से प्रयासरत हैं, तो आपको सफलता मिलती है। इसके लिए ध्यान केंद्रित कर तैयारी की आवश्यकता होती है। 

 

पढ़ेंः IAS Success Story: Miss India फाइनलिस्ट बनने से लेकर IAS तक का सफर, पढ़ें ऐश्वर्या श्योराण की कहानी