1. Home
  2. Hindi
  3. Vande Bharat Express: गुजरात से मुंबई तक दौड़ेगी तीसरी वंदे भारत एक्सप्रेस,देश के विकास में क्या होगा योगदान

Vande Bharat Express: गुजरात से मुंबई तक दौड़ेगी तीसरी वंदे भारत एक्सप्रेस,देश के विकास में क्या होगा योगदान

जल्द ही भारत में दौड़ने वाली है तीसरी गुजरात से वंदे भारत एक्सप्रेस, तो आइए जानते है कि क्या हैं इसकी विशेषताएं और भारत के विकास में क्या होगा योगदान।

Vande Bharat Express: third vande bharat express will run from gujrat to mumbai
Vande Bharat Express: third vande bharat express will run from gujrat to mumbai

ट्रेन की यात्रा के शौक़ीन लोगों के लिए एक बड़ी खुशखबरी जल्द ही आने वाली है। देश की तीसरी वंदे भारत एक्सप्रेस का जल्द ही आगाज़ हो रहा है यह गुजरात की पहली वंदे भारत एक्सप्रेस है जो कि आगामी 30 सितंबर 2022 को अपनी पहली यात्रा शुरू करेगी। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार माननीय प्रधानमंत्री इस ट्रेन को हरी झंडी दिखाऐंगे।

source: PIB

क्या रहेगा रूट 

गुजरात की यह पहली वंदे भारत एक्सप्रेस , गुजरात के गांधीनगर से मुंबई सेंट्रल तक का सफर तय करेगी । 30 सितंबर को पहली ट्रेन को प्रधानमंत्री मोदी हरी झंडी दिखाऐंगे उसके बाद 3-4 ट्रेनों को और हरी झंडी दिखाई जाएगी। यह वंदे भारत एक्सप्रेस गुजरात और मुंबई के लोगों के लिए यात्रा को अपनी तेज़ रफ्तार से बेहद आसान बनाने वाली है। 

जाने संचालन व किराए के बारे में 

रेल मंत्री अश्विनी वैष्वण द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार इस ट्रेन का संचालन सप्ताह में 6 दिन ही होगा अर्थात् यात्री इस ट्रेन से केवल 6 दिन ही सफर कर सकते हैं । वंदे भारत एक्सप्रेस के किराए को लेकर अभी तक कोई पुख्ता जानकारी नहीं मिली है। 

क्या रहेगी ट्रेन की स्पीड

source: PIB

आपको बता दें कि यह एक सेमी हाइ स्पीड ट्रेन है इसकी स्पीड काफ़ी तेज़ है , यदि आँकड़ों के अनुसार बात करें तो रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव का कहना है कि महज़ 52 सैकेण्ड में यह ट्रेन 100 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड पकड़ सकती है साथ ही यह 130 सैकेण्ड में यह ट्रेन 160 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड पर पहुँच जाती है । ट्रेन के ट्रायल की वीडियों में यह देखा गया है कि ट्रेन 180 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड पर स्थिर चल सकती है। गांधीनगर से मुंबई सेंट्रल तक का यह सफर 2 घंटे 40 मिनट में पूरा किया जाएगा। 

किन दो रूट्स पर पहले से चलती है वंदे भारत एक्सप्रेस

गुजरात से शुरू होने वाली वंदे भारत एक्सप्रेस भारत की पहली वंदे भारत एक्सप्रेस ट्नही है बल्कि इससे पहले भी भारत में 2 रूट्स पर यह ट्रेन चलती है तो आइए जानते हैं कि कौन से हैं वो दो रूट्स जिनपर मौजूदा समय में ट्रेन चल रहीं  हैं

  1. पहली वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन फरवरी 2019 में शुरू की गई थी।  यह ट्रेन दिल्ली से वाराणसी के रूट पर चलती है । यह ट्रेन 130 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड से चलती है।  
  2.  दूसरी वंदे भारत एक्सप्रेस को भी 2019 में ही शुरू किया गया था। यह ट्रेन दिल्ली से कटरा के रूट पर चलती है । इस ट्रेन की स्पीड भी 130 किलोमीटर प्रति घंटा है। 

जानें क्या हैे नई वंदे भारत एक्सप्रेस की  विशेषताएं 

यह भारत की तीसरी वंदे भारत एक्सप्रेस है । पुरानी वंदे भारत एक्सप्रेस के मुकाबले इसमें कुछ सुधार किए गए है।

आइए जानते हैं कि क्या है वह सुधार।

बेहतर राइडिंग इंडेक्स  

तीसरी वंदे भारत एक्सप्रेस में बेहतर राइडिंग इंडेक्स का प्रयोग किया गया है जिससे कि इसमें नए व बेहतर बोगी डिज़ाइन शामिल किए गए हैं जिनके चलते यात्रा अधिक सुखद व आरामदायक हो पाएगी। 

एक्सेलेरेशन रिज़र्व ( acceleration reserve)

ट्रेन सेट में एक्सेलेरेशन रिज़र्व भी डिज़ाइन किया गया है । जिससे कि ढलान में चलते वक्त भी ट्रेन अपनी गति को बनाए रख सकती है । इसके अलावा पुरानी वंदे भारत एक्सप्रेस के ट्रेनसेट में 1घंटे का बैटरी बैकअप है वहीं दूसरी ओर नए वंदे भारत एक्सप्रेस में 3 घंटे का बैटरी बैकअप है ।

रिसाइकिलिंग सीटों वाले सभी कोचों में बदलाव 

नई वंदे भारत एक्सप्रेस में रिसाइकिलिंग सीटों वाले सभी कोचों की सीट्स  में बदलाव किया गया है जबकि मौजूदा वंदे भारत एक्सप्रेस में यह सुविधा केवल एक्ज़ीक्यूटिव क्लास ( executive class) के लिए उपलब्ध है। 

अधिक स्पीड 

नई वंदे भारत एक्सप्रेस मौजूदा वंदे भारत एक्सप्रेस की तुलना में अधिक स्पीड से चलेगी । आँकड़ों के अनुसार नई वंदे भारत एक्सप्रेस पुरानी वंदे भारत एक्सप्रेस से 20 किलोमीटर प्रति घंटे की अधिक स्पीड से चला करेगी। 

आखिर क्यों रहेगा यह रेलवे रूट खास 

नई वंदे भारत एक्सप्रेस के लिए गुजरात के गांधीनगर से महाराष्ट्र के मुंबई तक के रूट को चुना गया है लेकिन यह कोई आम रूट नहीं है बल्कि व्यवसाय के नज़रिए से यह रूट अपने आप में बेहद खास है। महाराष्ट्र और गुजरात दोनों प्रदेश देश की जीडीपी  में एक बड़ा योगदान देते हैं । गुजरात और महाराष्ट्र औद्योगिक रूप से काफी विकसित प्रदेश हैं। MSME के यूनियन मंत्री नारायण का कहना रहा है कि महाराष्ट्र की उन्नति में गुजरात और गुजरात के व्यापारियों का बड़ा योगदान है । नई वंदे भारत एक्सप्रेस से गांधीनगर से लेकर मुंबई सेंट्रल तक का सफर काफी आसान हो जाएगा जिससे कि दोनों जगह के व्यापारियों के लिए समय की काफी बचत होगी जिसे वह अपने काम को और उत्पादक बना पाऐंगे।