1. Home
  2. Hindi
  3. UGC Update : अब 4 साल का होगा ग्रेजुएशन, यूजीसी ने बनाया प्लान, जल्द भेजेगा विश्वविद्यालयों को प्रस्ताव

UGC Update : अब 4 साल का होगा ग्रेजुएशन, यूजीसी ने बनाया प्लान, जल्द भेजेगा विश्वविद्यालयों को प्रस्ताव

UGC ने आगामी शैक्षिक वर्ष 2023-24 से सभी उच्च शिक्षा संस्थानों में 4 वर्षीय ग्रेजुएट प्रोग्राम की रुपरेखा तैयार कर ली है और इस पर शिक्षा संस्थानों की राय लेने के लिए जल्द ही प्रस्ताव भी भेजा जायेगा. 

UGC Update
UGC Update

UGC Update : विश्व विद्यालय अनुदान आयोग यानी UGC आगामी शैक्षिक सत्र 2023-24 से सभी उच्च शिक्षा संस्थानों में ग्रेजुएशन प्रोग्राम को 4 वर्षीय कराने पर विचार कर रहा है इसके लिए आयोग द्वारा एक रुपरेखा भी तैयार कर ली  गई है. यूजीसी के अनुसार, वो अगले हफ्ते तक इसके नियमों को देश भर के सभी विश्वविद्यालयों से साझा करेगा. इन नियमों को देश भर के सभी 45 विश्वविद्यालयों के साथ ही एफवाईयूजीपी और निजी के साथ ही राज्य के विश्वविद्यालयों में भी लागू किया जायेगा. कई डीम्ड यूनिवर्सिटी भी इसके लिए पहले ही सहमत हो चुकी हैं.

यूजीसी के अनुसार इस पाठ्यक्रम को सभी विश्वविद्यालयों में लागू किया जायेगा लेकिन इसके लिए किसी छात्र को विवश नहीं किया जायेगा. वो अपने अनुसार इसमें दाखिला ले भी सकेंगे और नहीं भी यानी वो पहले से चल रहे स्नातक कार्यक्रमों में दाखिला ले भी सकेंगे. यूजीसी के चेयरमैन के अनुसार पहले से ग्रेजुएशन में एडमिशन ले चुके छात्र भी यदि चाहेंगे तो वो अपने पाठ्यक्रम को 4 वर्षीय पाठ्यक्रम में बदल सकते हैं. लेकिन ये सुविधा केवल ग्रेजुएशन के फर्स्ट और सेकंड इयर के छात्रों के लिए ही होगी. इस पाठ्यक्रम की शुरूआत अगले वर्ष 2023-24 से की जाएगी.

इन चार वर्षीय पाठ्यक्रमों के लिए यूजीसी द्वारा विश्वविद्यालयों को नियम बनाने में कुछ छूट भी दी जाएगी. और यदि विश्वविद्यालय चाहेंगे तो वर्तमान के 3 वर्षीय पाठ्यक्रम के अंतिम वर्ष के छात्रों को भी 4 वर्षीय कार्यक्रम में सम्मिलित होने का मौका दे सकेंगे. 

छात्रों को अपने 4 वर्षीय ग्रेजुएट प्रोग्राम के बाद पीजी और पीएचडी में एडमिशन लेने के लिए 55 प्रतिशत अंक अनिवार्य होंगे. उल्लेखनीय है कि इस 4 वर्षीय पाठ्यक्रम का जिक्र नई शिक्षा नीति के अंतर्गत किया गया है. आगे भी ऐसे कई परिवर्तन नई शिक्षा नीति में दिए गए सुझावों के अनुसार हो सकते हैं.