JEE Advanced 2018: IIT कानपुर ने जारी किया प्रश्न पत्र 1 एवं 2

इस लेख में हम विद्यार्थियों को JEE Advanced 2018 का प्रश्न पत्र PDF फ्रॉम में उपलब्ध करवा रहे हैं. यह प्रश्न पत्र विद्यार्थियों को परीक्षा के पैटर्न के साथ-साथ परीक्षा में पूछे गये प्रश्नों के कठिनाई स्तर को जानने में सहायता करेगा.

JEE Advanced 2018 Question Papers Paper 1 and Paper 2
JEE Advanced 2018 Question Papers Paper 1 and Paper 2

JEE Advanced 2018 की ऑनलाइन परीक्षा सफलता पूर्वक कंडक्ट करने के बाद अब भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT), कानपुर ने JEE Advanced की आधिकारिक वेबसाइट पर प्रश्न पत्र प्रकाशित कर दिया है. इस लेख में हम विद्यार्थियों को JEE Advanced 2018 का प्रश्न पत्र PDF फ्रॉम में उपलब्ध करवा रहे हैं. यह प्रश्न पत्र विद्यार्थियों को परीक्षा के पैटर्न के साथ-साथ परीक्षा में पूछे गये प्रश्नों के कठिनाई स्तर को जानने में सहायता करेगा. JEE Advanced के प्रत्येक पेपर में 54 प्रश्न पूछे गये थे. प्रत्येक प्रश्न पत्र में विद्यार्थी अधिकतम 180 मार्क्स हासिल कर सकते थे.

जो विद्यार्थी भविष्य में JEE Main की परीक्षा को क्रैक करने के बाद JEE Advanced की परीक्षा देने की सोच रहे हैं, उन विद्यार्थियों को पिछले सालों के प्रश्न पत्रों को ज़रूर हल करना चाहिए. पिछले सालों के प्रश्न पत्रों को हल करने के महत्त्व निम्नलिखित हैं.

  1. विद्यार्थियों को प्रश्न के प्रकारों और परीक्षा के फॉर्मेट के बारे में पता चलता है.
  2. विद्यार्थी आसानी से परीक्षा में पूछे गये प्रश्नों के कठिनाई स्तर को जान सकते हैं.
  3. विद्यार्थियों को महत्वपूर्ण टॉपिक्स के बारे में पता चलता है.
  4. प्रश्नों पत्रों को हल करने से विद्यार्थी अपनी तैयारी के स्तर को चेक कर सकते हैं.

JEE एडवांस्ड के बारे में बेहद महत्वपूर्ण जानकारियाँ

JEE Advanced 2018 Question Paper 1 में से कुछ प्रश्न निम्नलिखित हैं

प्रश्न:              

एक आंतरिक त्रिज्या r वाली एकसमान केशनली (uniform capillary tube) को उर्ध्वाधर तरीके से (Vertically) पानी से भरे एक बीकर (beaker) में डुबाया जाता है. केशनली में पानी, बीकर के पानी के पृष्ठ (water surface) से, h ऊंचाई तक उठता है. पानी का पृष्ठ तनाव (surface tension) σ है. पानी और केशनली की दीवार के बीच का संपर्क कोण (angle of contact) θ है. मेनिस्कस (meniscus) में उपस्थित पानी के द्रव्यमान (mass) की उपेक्षा कीजिए. निम्नलिखित कथनों में से कौन सा (से) सही है (हैं).

(A) एक दिए गये पदार्थ से बनी केशनली का r बढ़ाने से h कम होता है.

(B) एक दिए गये पदार्थ से बनी केशनली में, h पृष्ठ तनाव σ पर निर्भर नहीं करता है

(C) यदि यह प्रयोग एक नियत त्वरण (constant acceleration) से ऊपर जाने वाली लिफ्ट (lift) में किया जाता है,  तो h कम होता है.

(D) h संपकर् कोण θ के समानुपातिक (proportional) है.

प्रश्न:

द्वि-अंगी संक्रमण धातु कर्बोनिल यौगिकों (binary transition metal carbonyl compounds) के बारे में सही प्रकथन है (हैं)

(परमाणु क्रमांक: Fe = 26, Ni = 28)

(A) Fe(CO)5 या Ni(CO)4 में धातु केंद्र के संयोजकता कक्षा (Valence Shell) के इलेक्ट्रोनों की सम्पूर्ण संख्या 16 है.

(B) ये मुख्य रूप से निम्र प्रचक्रण (low spin) स्वाभाव के होते हैं.

(C) जब धातु की ऑक्सीकरण अवस्था कम की जाती है, तब धातु-कार्बन आबंध प्रबल होता है.

(D) जब धातु की ऑक्सीकरण अवस्था बढ़ाई जाती है, तब कर्बोनिल C-O आबंध दुर्बल होता है.

प्रश्न:

उन 5 अंकीय (digits) संख्याओं (numbers), जो 4 से विभाज्य (divisible) हैं, जिनके अंक समुच्चय (set) {1, 2, 3, 4, 5} में से हैं और अंको की पुनरावृत्ति (repetition)की अनुमित है, की संख्या है.

JEE Advanced 2018 प्रश्न पत्र 1 को पूरा देखने के लिए के लिए यहाँ क्लिक करें

JEE Advanced 2018 Question Paper 2 में से कुछ प्रश्न निम्नलिखित हैं

प्रश्न:

मान लीजिए कि एक श्यान (viscous) द्रव के एक बड़े टैंक (tank) में एक पतली वगार्कार प्लेट (thin square plate) तैर रही है. टैंक में द्रव की ऊँचाई h ݄, टैंक की चौड़ाई से बहत कम है. तैरती हुई प्लेट को एक नियत (constant) वेग u ଴से क्षैतिज दिशा में खीचा जाता है. निम्नलिखित कथनों में से कौन सा (से) सही है (हैं).

(A) द्रव के द्वारा प्लेट पर लगाया गया प्रतिरोधक बल (resistive force) h, के व्युक्तक्रमानुपातिक (inversely proportional) है

(B) द्रव के द्वारा प्लेट पर लगाया गया प्रतिरोधक बल प्लेट के क्षेत्रफल पर निर्भर नहीं करता है.

(C) टैंक की फर्श (floor) पर लगता हुआ स्पशर्रेखीय प्रतिबल (tangential/shear stress) u के साथ बढ़ता है

(D) प्लेट पर लगने वाले स्पशर्रेखीय प्रतिबल दर्व की श्यानता (viscosity) ɳ के साथ रेखीय तरीके से (linearly) बदलती है.

प्रश्न:

उच्च तापमान पर हवा के प्रवाह से गलेना (Galena) (एक अयस्क) का आंशिक ऑक्सीकरण होता है. कुछ समय बाद हवा का प्रवाह बंद कर दिया गया, किन्तु बंद भट्टी को गरम करना चालू रखा गया ताकि अन्तर्वस्तुओं (contents) का स्वयं-अपचयन (self-reduction) हो | O2 के प्रति kg ग्रहण पर उत्पादित Pb का (kg में) भार है (परमाणु भार g mol−1 में: O = 16, S = 32, Pb = 207)

प्रश्न:

माना कि P, 3 × 3 कोटि (order) का एक ऐसा आव्यूह (matrix) है कि P की सभी प्रविष्टियाँ (entries) समुच्चय (set) {−1, 0, 1} में से है. तब P के सारणिक (determinant) का अधिकतम संभावित मान (maximum possible value) है.

JEE Advanced 2018 प्रश्न पत्र 2 को पूरा देखने के लिए के लिए यहाँ क्लिक करें

Jagran Play
रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें एक लाख रुपए तक कैश
ludo_expresssnakes_ladderLudo miniCricket smash
ludo_expresssnakes_ladderLudo miniCricket smash

Related Categories

    Related Stories

    Comment ()

    Post Comment

    7 + 6 =
    Post
    Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.