टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स: 24 नवंबर 2020

टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स, 24 नवंबर 2020 के अंतर्गत आज के शीर्ष करेंट अफ़ेयर्स को शामिल किया गया है जिसमें मुख्य रूप से असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई और कोरोना वायरस आदि शामिल हैं.

Created On: Nov 24, 2020 18:00 ISTModified On: Nov 24, 2020 17:25 IST

टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स, 24 नवंबर 2020 के अंतर्गत आज के शीर्ष करेंट अफ़ेयर्स को शामिल किया गया है जिसमें मुख्य रूप से असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई और कोरोना वायरस आदि शामिल हैं.

असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई का निधन

असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल तरुण गोगोई के खराब स्वास्थ्य को देखते हुए डिब्रूगढ़ के सभी कार्यक्रम रद कर गुवाहाटी लौट आए थे. उन्‍होंने खुद ट्वीट कर जानकारी दी. तरुण गोगोई कोविड-19 से अक्टूबर में उबर गए थे, लेकिन बीमारी के बाद की जटिलताओं ने उन्हें घेर लिया था.

गोगोई साल 2001 से साल 2016 तक असम के मुख्यमंत्री रहे. गोगोई ने कांग्रेस को लगातार तीन विधानसभा चुनावों में जीत दिलाई. सबसे लंबे समय तक असम का मुख्यमंत्री रहने का रिकॉर्ड भी उनके नाम है. गोगोई का जन्म 01 अप्रैल 1936 को हुआ था.

 

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने UMANG App का अंतरराष्ट्रीय संस्करण लॉन्च किया

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि उमंग ऐप ने वहां तक पहुंच बनायी है जो यह अहम है कि इसे आवाज के निर्देश पर काम करने वाली ऐप बनाने पर ध्यान दिया जाए और इसके लिए एआई की संभावनाओं को तलाशा जाए. अब उमंग ऐप का अंतरराष्ट्रीय संस्करण अमेरिका, ब्रिटेन, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया, संयुक्त अरब अमीरात, नीदरलैंड, सिंगापुर और न्यूजीलैंड में उपलब्ध होगा.

प्रधानमंत्री मोदी ने नागरिकों तक एक ही मोबाइल एप के माध्यम से प्रमुख सरकारी सेवाओं को पहुँचाने के लिये साल 2017 में उमंग ऐप लॉन्च किया था. उमंग का पूर्ण रूप ‘नए युग के शासन के लिये एकीकृत मोबाइल एप्लिकेशन’ (Unified Mobile Application for New-age Governance) है. इस ऐप की मदद से प्रवासी भारतीय, भारतीय छात्र एवं पर्यटक किसी भी समय पर भारत सरकार और राज्य सरकार की सेवाओं का उपयोग कर पाएंगे.

 

COVID-19 रोकने में 70 प्रतिशत प्रभावी है ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी का टीका, जानें विस्तार से

कंपनी ने कहा है कि यह वैक्सीन कोरोना वायरस से बचाव करने में 70 प्रतिशत तक कारगार है. इससे पहले पिछले इस वैक्सीन के 2021 तक बाजार में आ जाने के बारे में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला ने बताया था. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस की ऑक्सफोर्ड वैक्सीन स्वास्थ्य कर्मचारियों और बुजुर्गों के लिए अगले साल अप्रैल तक बाजार में आ सकती है.

ऑक्सफोर्ड ने कहा है कि इस वैक्सीन का 23,000 वॉलंटियर्स पर ट्रायल किया गया है और इसी के आधार पर रिपोर्ट तैयार की गई है और इसी के आधार पर तैयार हुए सेफ्टी डेटाबेस को ओपन समीक्षा के लिए पेश किया जाएगा. ऑक्सफोर्ड वैक्सीन 70.4 प्रतिशत प्रभावी है. दो डोज़ के रेजीमेन में दिखा है कि यह 90 फीसदी असरकारक है.

 

जल निकायों के संरक्षण हेतु एनजीटी का निर्देश, सभी राज्य नोडल एजेंसी बनाएं

एनजीटी ने निर्देश दिए कि राज्यों/ केन्द्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों की देखरेख में नामित नोडल एजेंसी स्थिति का जायजा लेने के लिए 31 जनवरी 2021 तक अपनी बैठक आयोजित कर सकती है और आगे उठाए जाने वाले कदमों की योजना बना सकती है.

पर्यावरण की सुरक्षा के लिए जल निकायों का संरक्षण अत्यंत आवश्यक है. यह जल उपलब्धता, माइक्रोकलाइमेट, जलीय जीवन, भूजल के पुनर्भरण और नदियों के नियमित प्रवाह को बनाए रखता है. एनजीटी ने कहा कि पहली ऐसी निगरानी 31 मार्च 2021 तक हो सकती है.

 

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS