Search

डेली करेंट अफेयर्स डाइजेस्ट: 30 जून 2020

प्रतिदिन के करेंट अफेयर्स से सम्बंधित जानकारी को संक्षिप्त रूप में प्रस्तुत किया गया है. इसमें आज कोरोना वायरस और अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल से संबंधित जानकारी संक्षिप्त रूप में प्रस्तुत किया गया है.

Jun 30, 2020 19:33 IST
facebook IconTwitter IconWhatsapp Icon

प्रतिदिन के करेंट अफेयर्स से सम्बंधित जानकारी को संक्षिप्त रूप में प्रस्तुत किया गया है. इसमें आज कोरोना वायरस और अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल से संबंधित जानकारी संक्षिप्त रूप में प्रस्तुत किया गया है.

चीन ने हॉन्ग कॉन्ग के विवादित राष्ट्रीय सुरक्षा कानून को दी मंजूरी

चीन ने 30 जून 2020 को सर्वसम्मति से हॉन्ग कॉन्ग के लिए एक व्यापक राष्ट्रीय सुरक्षा कानून पारित किया है. इस कानून के तहत राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरे में डालने, विदेशी ताकतों के साथ अलगाव, तोड़फोड़, आतंकवाद के दोषी व्यक्ति को अधिकतम उम्रकैद की सजा सुनाई जा सकती है.

नेशनल पीपुल्स कांग्रेस स्टैंडिंग कमेटी के 162 सदस्यों ने कानून को पेश किए जाने के 15 मिनट के अंदर सर्वसम्मति से इसे मंजूरी दे दी. यह कानून हॉन्ग कॉन्ग में 01 जुलाई 2020 से प्रभावी हो जाएगा. ब्रिटिश सेना ने 1942 में हुए प्रथम अफीम युद्ध में चीन को हराकर पहली बार हॉन्ग कॉन्ग पर कब्जा जमा लिया था.

 

अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल का कार्यकाल एक वर्ष के लिए बढ़ाया गया

अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल को 01 जुलाई 2020 से एक साल का कार्यकाल और मिला है. एक जुलाई से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता का कार्यकाल तीन वर्ष के लिए बढ़ा दिया गया है. देश के जाने-माने अधिवक्ता वेणुगोपाल ने बतौर अटॉर्नी जनरल 30 जून 2017 को मुकुल रोहतगी का स्थान लिया था.

भारत देश के संविधान, अटॉर्नी जनरल को निश्चित पदअवधि प्रदान नहीं करता है. अटॉर्नी जनरल एकमात्र राष्ट्रपति की मर्ज़ी के अनुसार ही कार्यरत रहता है. अटॉर्नी जनरल को किसी भी समय राष्ट्रपति द्वारा हटाया जा सकता है. उसे हटाने के लिए संविधान में कोई भी प्रक्रिया या आधार उल्लेखित नहीं है.

 

महाराष्ट्र ने दुनिया की सबसे बड़ी प्लाज़्मा परियोजना की शुरुआत की

देश में कोरोनावायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य महाराष्ट्र ने दुनिया की सबसे बड़ी प्लाज़्मा परियोजना की शुरुआत की है. कोविड-19 से ठीक होने वाले लोगों के प्लाज्मा में एंटी बॉडीज होती हैं, जो कोविड-19 से पीड़ित अन्य लोगों की इस बीमारी से लड़ने में मदद करती हैं. कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में देश में कई राज्य प्लाज़्मा थेरेपी पर ही सबसे ज्यादा भरोसा कर रहे हैं.

सरकार का इरादा इस परियोजना के तहत कोरोनावायरस के 500 गंभीर मरीजों का जीवन बचाना है. यह परीक्षण 21 मेडिकल कॉलेजों में किया जाएगा. सभी गंभीर रोगियों को 200 मिलीलीटर प्लाज्मा की दो खुराक मुफ्त दी जाएंगी. सरकार ने इस परियोजना के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष से लिए 16.65 करोड़ रुपए दिए हैं.

 

चीन में मिला स्वाइन फ्लू का घातक वायरस

चीन में एक नया स्वाइन फ्लू मिला है. जो इस समय कोरोना महामारी में मुसीबत को बढ़ा सकता है. वायरस का नाम G4 EA H1N1 है. इस पर रिसर्च करने वाले शोधकर्ताओं का कहना है कि यह इमरजेंसी जैसी समस्या नहीं है, लेकिन इसमें ऐसे कई लक्षण दिखे है जो बताते हैं कि यह इंसानों को संक्रमित कर सकता है, इसलिए इस पर लगातार नजर बनाए रखने की जरूरत है.

वैज्ञानिकों ने कहा कि सूअर के अंदर ही इस वायरस को रोकने के लिए कदम उठाना होगा. इसके अलावा वहां काम करने वाले लोगों पर भी इसे लागू करना होगा. वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी है कि अभी आगे और ज्‍यादा वायरस के आने का खतरा बना हुआ है.

 

अंतरराष्ट्रीय क्षुद्रग्रह दिवस 30 जून को मनाया गया

प्रत्येक साल 30 जून को ' अंतरराष्ट्रीय क्षुद्रग्रह दिवस' (International Asteroid Day) मनाया जाता है. संयुक्त राष्ट्र ने क्षुद्रग्रह (एस्टॉरायड) के खतरे को लेकर जागरूकता बढ़ाने के लिए 30 जून  2017 से 'अंतर्राष्ट्रीय क्षुद्रग्रह दिवस' मनाने की घोषणा की थी.

लोगों के बीच क्षुद्रग्रह को लेकर जागरूकता बढ़ाने और इससे होने वाले खतरे को लेकर युवा पीढ़ी को बचाने और उन्हें इससे होने वाली भयानक घटना को विस्तार से समझाने के लिए क्षुद्रग्रह दिवस को प्रत्येक साल मनाया जाता है.

 

Download our Current Affairs & GK app For exam preparation

डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप एग्जाम की तैयारी के लिए

AndroidIOS