अमेरिका और कनाडा के बीच नाफ्टा समझौते को लेकर सहमति बनी

यह समझौता अमेरिका कनाडा और मेक्सिको तीनों ही देशों के लिए महत्वपूर्ण है क्योंकि इस डील के कारण तीनों देशों के बीच व्यापार और कर नियमों में बड़ी छूट मिलती है.

Oct 1, 2018 13:07 IST

अमेरिका और कनाडा के बीच 30 सितम्बर 2018 को नाफ्टा समझौते (उत्तरी अमेरिका मुक्त व्यापार समझौते) को लेकर सहमति बन गई. इस समझौते में मैक्सिको भी शामिल है.

नया समझौता ‘यूनाइटेड स्टेट्स-मैक्सिको-कनाडा संधि’ (यूएसएमसीए) करीब 25 साल पुरानी ‘उत्तरी अमेरिका मुक्त व्यापार संधि’ (नाफ्टा) की जगह लेगा. अमेरिका नवंबर 2018 के अंत में कनाडा और मैक्सिको के साथ नाफ्टा समझौता की जगह नई डील पर हस्ताक्षर करेगा जिसके बाद उसे स्वीकृति के लिए अमेरिकी कांग्रेस में पेश किया जाएगा.

समझौता से संबंधित मुख्य तथ्य:

•   यह समझौता अमेरिका कनाडा और मेक्सिको तीनों ही देशों के लिए महत्वपूर्ण है क्योंकि इस डील के कारण तीनों देशों के बीच व्यापार और कर नियमों में बड़ी छूट मिलती है.

•   मेक्सिको और अमेरिका के बीच अगस्त में नाफ्टा डील पर बात बन गई थी, लेकिन कनाडा इससे बाहर था.

•   मेक्सिको, कनाडा और अमेरिका के बीच हुआ नाफ्टा व्यापार समझौता पूरी दुनिया के सबसे बड़े व्यापार समझौतों में से एक माना जाता है.

•   इस समझौते के कारण इन तीनों देशों के बीच माल की ढुलाई पर लगने वाला कर समाप्त कर दिया गया.

•   तीनों देशों के बीच मुक्त व्यापार को बढ़ावा देने के उद्देश्य से इस समझौते में कई तरह की छूट दी गई हैं

                     नाफ्टा समझौता क्या है?

उत्तर अमेरिकी मुक्त व्यापार समझौता (नाफ्टा) मेक्सिको, कनाडा और अमेरिका के बीच हुआ एक व्यापार समझौता है. यह समझौता वर्ष 1994 से प्रभाव में आया. इसे विश्व के सबसे बड़े और मुक्त व्यापार समझौता माना जाता है.

ट्रेडमार्क, पेटेंट और करंसी को लेकर तीनों देशों के बीच व्यापार को लेकर काफी सुगम नियम बनाए गए. इस कारण से इस व्यापार समझौते को अमेरिका के साथ कनाडा और मेक्सिको के लिए बहुत अहम माना जाता है.

इसे उत्तर अमेरिकी आर्थिक सहयोग समझौते के द्वारा अद्यतित किया गया, जिसने प्रदूषण को कम करने के लिए पर्यावरण विनियामकों की स्थापना में सहायता की.

इसका और अधिक अद्यतन उत्तर अमेरिकी श्रम सहयोग समझौते के रूप में किया गया, जिसके अन्तर्गत कर्मचारी बेहतर कार्य स्थितियों के लिए लड़ सकते थे. नाफ़्टा के कारण अमेरिका और मेक्सिको के बीच अप्रवासन में भी वृद्दि हुई है.

 

•   समझौते के अनुसार, कनाडा अपना डेयरी बाजार अमेरिका के उत्पादकों के लिए खोलेगा जबकि अमेरिका ने ओटावा प्रांत की विवाद निपटान के प्रावधान संबंधी मांगों को छोड़ दिया.

•   इस सहमति से मैक्सिको के राष्ट्रपति एनरिक पेना नितो का कार्यकाल समाप्त होने से पहले सभी पक्ष समझौते पर हस्ताक्षर कर सकेंगे. राष्ट्रपति एनरिक पेना नितो का कार्यकाल 01 दिसंबर 2018 को समाप्त हो रहा है.

संधि पर हस्ताक्षर:

अमेरिका के कानून के अनुसार, व्हाइट हाउस को किसी भी संधि पर हस्ताक्षर करने से 60 दिन पहले ही समझौते का दस्तावेज कांग्रेस में जमा करना जरूरी होता है. अमेरिका और मैक्सिको अगस्त 2018 में ही नये समझौते पर सहमत हो चुके थे.

यह भी पढ़ें: जर्मनी ने दुनिया की पहली सेल्फ-ड्राइविंग ट्रैम का सफल परीक्षण किया

 

Loading...