भारत के महत्वपूर्ण राष्ट्रीय राजमार्गों की सूची

परिवहन के रूप में सड़क देश के आर्थिक विकास के लिए एक महत्वपूर्ण बुनियादी ढ़ाचा है। भारत में 52.32 लाख किलोमीटर से बड़ा सड़क नेटवर्क है। इस लेख में हम भारत के महत्वपूर्ण राष्ट्रीय राजमार्गों की सूची दे रहे हैं जिसका प्रयोग विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में अध्ययन सामग्री के रूप में किया जा सकता है।

परिवहन के रूप में सड़क देश के आर्थिक विकास के लिए एक महत्वपूर्ण बुनियादी ढ़ाचा है। भारत में 52.32 लाख किलोमीटर से बड़ा सड़क नेटवर्क है। राजमार्ग (सड़क) को प्रबंधन के आधार पर भारत में राजमार्ग को तीन श्रेणियों में वर्गीकृत किया गया है: राष्ट्रीय राजमार्ग; राज्य राजमार्ग; और सीमा सड़कें। इस लेख में हम भारत के महत्वपूर्ण राष्ट्रीय राजमार्गों की सूची दे रहे हैं जिसका प्रयोग विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में अध्ययन सामग्री के रूप में किया जा सकता है।

National Highways of India

भारत के महत्वपूर्ण राष्ट्रीय राजमार्गों की सूची

राष्ट्रीय राजमार्ग (NH)

मार्ग

राष्ट्रीय राजमार्ग 1 (NH -1)

दिल्ली से अमृतसर (अंबाला और जालंधर के रास्ते)

राष्ट्रीय राजमार्ग 1A (NH-1 A)

जालंधर से पुरी (माधोपुर, जम्मू, श्रीनगर और बारामुल्ला के रास्ते)

राष्ट्रीय राजमार्ग 2 (NH-2)

दिल्ली से कोलकाता (मथुरा और वाराणसी के रास्ते)

राष्ट्रीय राजमार्ग 3 (NH-3)

आगरा से मुंबई (ग्वालियर, इंदौर और नासिक के रास्ते)

राष्ट्रीय राजमार्ग 4 (NH-4)

ठाणे (मुंबई) से चेन्नई (पुणे, बेलगाम, हुबली, बैंगलोर और रानीपेट के रास्ते)

राष्ट्रीय राजमार्ग 5 (NH- 5)

बेरागोडा (कोलकाता के नजदीक) से चेन्नई (कटक, विशाखापट्नम और विजयवाड़ा के रास्ते)

राष्ट्रीय राजमार्ग 6 (NH-6)

हज़िरा से कोलकाता (नागपुर, रायपुर और संबलपुर, धुले के रास्ते)

राष्ट्रीय राजमार्ग 7 (NH-7)

वाराणसी से कन्याकुमारी (नागपुर, बैंगलोर और मदुरई के रास्ते)

राष्ट्रीय राजमार्ग 8 (NH-8)

दिल्ली से मुंबई (जयपुर, अहमदाबाद और वडोदरा के रास्ते)

राष्ट्रीय राजमार्ग 9 (NH-9)

पुणे से मछलीलीपट्टनम (शोलापुर और हैदराबाद, विजयवाड़ा के रास्ते)

राष्ट्रीय राजमार्ग 10 (NH-10)

भारत-पाक सीमा पर चलने वाली फ़जिलका से दिल्ली

राष्ट्रीय राजमार्ग 14 (NH-14)

रावणपुर से बीवर (सिरोही)

राष्ट्रीय राजमार्ग 15 (NH-15)

पठानकोट से कांडला (थार रेगिस्तान के पास)

राष्ट्रीय राजमार्ग (NH-24)

दिल्ली से लखनऊ

राष्ट्रीय राजमार्ग 39 (NH-39)

नुमालीगढ़ से भारत-म्यानमार सीमा

हवाई जहाज के बारे में 10 अनजाने तथ्य

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई)

राष्ट्रीय राजमार्गों के विकास, रख-रखाव और प्रबंधन के लिए, भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण संसद के एक अधिनियम, राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण अधिनियम, 1988 द्वारा गठित किया गया था।

भारतीय राजमार्गों का नामांकरण कैसे की गयी है

1. सभी नॉर्थ-साउथ राजमार्ग सम संख्या होती है।

2. सभी पूर्व-पश्चिम राजमार्ग विषम संख्या में होती है।

3. सभी प्रमुख राजमार्ग संख्या में एक अंक या दोहरे अंक में होते हैं

4. उत्तर-दक्षिण राजमार्गों की संख्या पूर्व से पश्चिम तक बढ़ते क्रम में होती है-  उदाहरण के लिए, मध्य भारत या पश्चिमी भारत में एक विशेष उत्तर-दक्षिण राजमार्ग पूर्व भारत में एक की तुलना में अधिक होगी।

भारत में रेलवे उत्पादन इकाइयों की सूची

5. तीन अंकीय क्रमांकित राजमार्ग एक मुख्य राजमार्ग के माध्यमिक मार्ग या शाखाएं होती हैं। उदाहरण के लिए, 144, 244, 344 आदि मुख्य राष्ट्रीय राजमार्ग 44 की शाखाएं हैं।

6. प्रत्यय ए, बी, सी, डी आदि लगी तीन अंकीय क्रमांकित राजमार्गों से पता चलता है की प्रत्यय वाले राजमार्गों उप-राजमार्गों का  विस्तार है।

उपरोक्त सूची पाठकों के सामान्य ज्ञान की बढ़ोतरी में सहायक होगा क्योंकि इसमें हमने भारत में राष्ट्रीय राजमार्गों के नाम और वो कौन-कौन से मार्ग से जाते हैं जैसे तथ्यों को शामिल किया है।

आर्थिक भूगोल

Get the latest General Knowledge and Current Affairs from all over India and world for all competitive exams.
Jagran Play
खेलें हर किस्म के रोमांच से भरपूर गेम्स सिर्फ़ जागरण प्ले पर
Jagran PlayJagran PlayJagran PlayJagran Play