1. Home
  2. Hindi
  3. Difference: Arctic और Antarctica में क्या होता है अंतर, जानें

Difference: Arctic और Antarctica में क्या होता है अंतर, जानें

Difference: आपने सबसे ठंडी जगहों में शुमार आर्कटिक और अंटार्कटिका के बारे में सुना होगा, लेकिन क्या आपको इन दोनों के बीच अंतर पता है। यदि नहीं, तो इस लेख के माध्यम से हम इन दोनों के बीच अंतर को समझेंगे। 

Difference: Arctic और Antarctica में क्या होता है अंतर, जानें
Difference: Arctic और Antarctica में क्या होता है अंतर, जानें

Difference: आप दुनिया के सात महाद्वीपों के बारे में जानते होंगे, जिसमें आपने अंटार्कटिका का नाम भी सुना होगा। यह इस पृथ्वी पर सबसे ठंडी जगहों में शामिल है। साथ ही आपने इससे मिलता हुआ नाम आर्कटिक के बारे में भी सुना होगा। यह भी सबसे ठंडी जगहों में शामिल है, जहां रहना बहुत मुश्किल है। लेकिन, क्या आपको इन दोनों जगहों के बीच अंतर पता है। यदि नहीं, तो इस लेख के माध्यम से हम इन दोनों जगहों के बीच अंतर को समझेंगे। 

 

अंटार्कटिका और आर्कटिक पृथ्वी के दो ऐसे क्षेत्र हैं, जहां एक जैसे ही जलवायु रहती है। यह दोनों जगह ही बहुत ठंडी है, जहां चारों दिशाओं में पानी और बर्फ ही बर्फ देखने को मिलती है। हालांकि, इन दोनों जगहों की भौगोलिक स्थिति एक दूसरे से अलग है।

 

कहां है स्थित

इनकी भौगोलिक स्थिति की बात करें, तो अंटार्कटिका भूमध्य रेखा के दक्षिण में स्थित है, जबकि आर्कटिक भूमध्य रेखा के उत्तर में स्थित है। यानि यह दोनों एक दूसरे के विपरित दिशाओं में हैं। 




क्या है अंतर 

 

आर्कटिक और अंटार्कटिका के बीच प्रमुख अंतर यह है कि ये दुनिया के ध्रुवीय विपरीत छोर पर स्थित हैं। आर्कटिक उत्तरी ध्रुव पर तो अंटार्कटिका दक्षिणी ध्रुव पर है। वहीं, आर्कटिक एक महासागर है, जो भूमि से घिरा हुआ है और स्थायी समुद्री बर्फ के पतले आवरण द्वारा संरक्षित है। साथ ही यह छह देशों से घिरा हुआ है, जो कि कनाडा,

संयुक्त राज्य, डेनमार्क, रूस, नॉर्वे व आइसलैंड है। 

 

उधर, अंटार्कटिका की बात करें तो यह एक महाद्वीप है, जो समुद्री बर्फ से घिरा हुआ है। साथ ही यह दक्षिणी महासागर से भी घिरा महाद्वीप है। अंटार्कटिका में आपको पहाड़ भी देखने को मिल जाएंगे, जिनमें से सबसे ऊंचा पहाड़ 16,000 फीट से अधिक है। इस महाद्वीप पर कई वैज्ञानिक शोध के लिए पहुंचते रहते हैं, हालांकि यह किसी देश से संबंध नहीं रखता है। 



आर्कटिक और अंटार्कटिका के तापमान में कितना है अंतर 

 

उत्तरी ध्रुव की तुलना में दक्षिणी ध्रुव अधिक ठंडा है। आर्कटिक बर्फ के नीचे का महासागर अंटार्कटिक ग्लेशियर में बर्फ की तुलना में अभी भी गर्म है। ध्रुवों के चारों ओर बहने वाली हवाओं का बल दक्षिणी ध्रुव के उत्तरी ध्रुव की तुलना में इतना अधिक ठंडा होने का प्राथमिक कारण है। वहीं, अंटार्कटिका में तेज हवाएं गर्म हवा को ध्रुवीय हवा के साथ मिलने से रोकती हैं।

 

आपको यह भी बता दें कि आर्कटिक में भी ऐसा होता है, लेकिन उत्तरी ध्रुव को घेरने वाली हवाएं उतनी तीव्र नहीं होती हैं। नतीजतन, मध्य अक्षांश से गर्म हवा ध्रुवीय हवा के साथ मिल जाती है और आर्कटिक गर्म हो जाता है।

 

गर्मी में भी इतना रहता है तापमान

 

नासा के आंकड़ों से पता चलता है कि गर्मियों के दौरान उत्तरी ध्रुव का औसत तापमान 0°C होता है, जबकि दक्षिणी ध्रुव का औसत तापमान -28.2°C तक पहुंच जाता है।



आर्कटिक और अंटार्कटिका में कौन-कौन से पाए जाते हैं पौधे और जानवर



पौधे

 

अंटार्कटिका में पौधों की संख्या बहुत कम है। इस महाद्वीप के सिर्फ 1% भाग पर बर्फ नहीं है। अंटार्कटिका में केवल घास और अल्पाइन उच्च पौधों की प्रजातियां मिलती हैं। यहां लगभग 100 प्रकार के मॉस, लाइकेन की 400 प्रजातियां और लिवरवॉर्ट्स की 25 प्रजातियां भी पाई जाती हैं।



 

वहीं, आर्कटिक में अधिकांश पौधे टुंड्रा पर पाए जाते हैं, जो लगभग 11.5 मिलियन वर्ग किमी का एक विशाल व वृक्ष रहित क्षेत्र है। आपको बता दें कि टुंड्रा लगभग 1,700 विभिन्न पौधों की प्रजातियों का घर है, जिसमें सेज, घास, काई, लिवरवॉर्ट्स, अल्पाइन प्रकार के फूलों के पौधों की एक विस्तृत श्रृंखला और कई लाइकेन(छोटी वनस्पति का समूह) शामिल है।

 

जानवर

 

आर्कटिक में हिरन, कस्तूरी बैल, आर्कटिक खरगोश, आर्कटिक टर्न, बर्फीले उल्लू, गिलहरी, आर्कटिक लोमड़ी और पोलर भालू जैसे जानवर मिलते हैं। आर्कटिक यूरोप, उत्तरी अमेरिका और एशिया के भूभाग का एक हिस्सा होने के कारण ये जीव सर्दियों में दक्षिण की ओर और अधिक गर्मी के महीनों में फिर से उत्तर की ओर जाते हैं।

 

आर्कटिक में विशाल जलीय प्रजातियों की अन्य किस्में हैं, जिनमें वालरस, सील और व्हेल और नरव्हेल भी शामिल हैं। 


अंटार्कटिका पर जानवरों की 235 विभिन्न प्रजातियां मौजूद हैं। यहां पेंगुइन, व्हेल, सील, अल्बाट्रोस, अन्य समुद्री पक्षी व अंटार्कटिक खाद्य श्रृंखला की नींव कही जाने वाली क्रिल भी पाई जाती है। ये जानवर दक्षिणी महाद्वीप के सबसे प्रचलित और प्रसिद्ध निवासियों में से हैं।

 

ग्लोबल वार्मिंग से हो रहा प्रभावित

अंटार्कटिका और आकर्टिक दोनों ही क्षेत्र ठंडे हैं। हालांकि, इसके अलावा भी यहां एक समानता है और वह है दोनों पर पड़ने वाले ग्लोबल वार्मिंग का असर। यह दोनों ही क्षेत्र धरती के तापमान को नियंत्रित करने का काम करते हैं। यहां आने वाली 70 फीसदी ऊर्जा बर्फ के चमकने की वजह से वापस चली जाती है। वहीं, यहां का गहरा समुद्र तल सूरज की करीब 90 फीसदी ऊर्जा को सोख लेता है और जब गर्मी में यहां की बर्फ पिघलती है और समुद्र का तापमान बढ़ता है, तो इसका असर बाकी दुनिया के हिस्सों पर भी पड़ता है, जिससे धरती गर्म होना शुरू हो जाती है।

 

पढ़ेंः क्या होता है राजदूत और उच्चायुक्त में अंतर, जानें