Search

सरकार ने स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 और स्वच्छ नगर ऐप लांच किया

सर्वेक्षण में जन सहभागिता को खास महत्व दिया जाएगा. इस बार कुल बारह संकेतक होंगे, जिसमें घर-घर कूड़ा उठाने के साथ शौचालय और सामुदायिक शौचालयों के उपयोग पर बल दिया जाएगा.

Aug 14, 2019 15:32 IST

आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय ने पांचवें वार्षिक स्वच्छता सर्वेक्षण 'स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 (एसएस 2020)' की शुरुआत की. एसबीएम वॉटर प्लस प्रोटोकॉल एवं टूलकिट, स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 टूलकिट, स्वच्छ नगर ऐप और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस युक्त एमएसबीएम ऐप भी शुरू की गईं.

इस साल की शुरुआत में, सरकार ने स्वच्छता पर सेवा स्तरीय प्रदर्शन की निरंतर निगरानी के साथ शहरों के ज़मीनी प्रदर्शन को बरकरार रखने के मुख्य उद्देश्य के साथ स्वच्छ सर्वेक्षण लीग 2020 (एसएस लीग 2020) की शुरुआत की थी.

स्वच्छ सर्वेक्षण 2020: प्रमुख फोकस क्षेत्र

आवास और शहरी मामलों के राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) हरदीप पुरी ने स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 (एसएस 2020) का शुभारंभ किया. स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 के लिए मुख्य फोकस क्षेत्र हैं:

• अलग-अलग कचरा जमा करना और प्रोसेसिंग स्थल तक उसे बनाए रखना

• गीले कचरे की प्रसंस्करण सुविधाओं की क्षमता का उपयोग करना

• गंदे पानी की सफाई एवं पुनः उपयोग करना

• तीन सिद्धांतों का पालन करनाः घटाना, पुनः उपयोग करना, पुनर्चक्रण

• ठोस कचरा आधारित वायु प्रदूषण कम करना

• अनौपचारिक कचरा बीनने वालों की सामाजिक स्थिति को ऊपर उठाना

• जीईएम के माध्यम से प्राप्ति को बढ़ावा देना

• कार्रवाई में तेजी लाने हेतु अलग से गंगा शहरों का आकलन करना

• टेक्नोलॉजी आधारित निगरानी को जोड़ना

स्वच्छ नगर मोबाइल ऐप

यह ऐप मार्ग व वाहन की निगरानी के जरिए ट्रैक करना, नागरिकों को सूचना देना, उपयोगकर्ता शुल्क को ऑनलाइन जमा करना और एक प्रभावी शिकायत निवारण तंत्र के माध्यम से अपशिष्ट संग्रह पर नज़र रखने की सुविधा प्रदान करता है. एआई (आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस) युक्त एमएसबीएम ऐप को भी प्रारंभ किया गया जो कि एक मोबाइल एप है जिसे राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र (एनआईसी) ने विकसित किया है जो बैकएंड में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) प्रारूप का उपयोग करते हुए अपलोड की गई फोटो में लाभार्थी के चेहरे और टॉयलट सीट को पहचानने में मदद करती है.

एसएस 2020 का संचालन

एसएस 2020 का संचालन जनवरी 2020 में किया जाएगा. यह नागरिक सहभागिता के माध्यम से आयोजित किया जाएगा, जिसका अर्थ है नागरिकों की प्रतिक्रिया के माध्यम से हो या नागरिकों की भागीदारी से जुड़े संकेतक हो. आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय ने शहरी स्थानीय निकायों तथा नागरिकों को एकीकृत कचरा प्रबंधन उपाय मुहैया करवाने पर प्रमुख ध्यान को जारी रखते हुए स्वच्छ नगर मोबाइल ऐप लॉन्च किया है.

यह भी पढ़ें: अमेरिका ने सरकारी सुविधाएं चाहने वाले प्रवासियों को ग्रीन कार्ड देने से इनकार किया

करेंट अफेयर्स ऐप से करें कॉम्पिटिटिव एग्जाम की तैयारी |अभी डाउनलोड करें|IOS