Search

बहुमत की दौड़

कुल सीट - 542
  • पार्टीसीट (जीते+आगे)बहुमत से आगे/पीछे

    बहुमत 272

जीएस लक्ष्मी ने रचा इतिहास, आईसीसी मैच रेफरी पैनल में शामिल होने वाले पहली महिला बनी

क्रिकेट के इतिहास में ऐसा पहली बार है जब कोई महिला मैच रेफरी बनी है. आईसीसी की तरफ से एक बयान में बताया गया कि जीएस लक्ष्मी तत्काल प्रभाव से अंतरराष्ट्रीय मैचों में रेफरी की भूमिका निभाने के योग्य हो गई हैं.

May 15, 2019 11:35 IST

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने 14 मई 2019 को जीएस लक्ष्मी को आईसीसी मैच रेफरी के अंतरराष्ट्रीय पैनल में शामिल किया है. जीएस लक्ष्मी आईसीसी मैच रेफरी के अंतरराष्ट्रीय पैनल में शामिल होने वाली पहली महिला बन गयी हैं. वह तुरंत प्रभाव से अंतरराष्ट्रीय मैचों में अपनी सेवाएं दे सकती हैं.

क्रिकेट के इतिहास में ऐसा पहली बार है जब कोई महिला मैच रेफरी बनी है. आईसीसी की तरफ से एक बयान में बताया गया कि जीएस लक्ष्मी तत्काल प्रभाव से अंतरराष्ट्रीय मैचों में रेफरी की भूमिका निभाने के योग्य हो गई हैं. मई 2019 की शुरुआत में ऑस्ट्रेलिया की क्लेयर पोलोसेक पुरुषों के मैच में अंपायरिंग करने वाली पहली महिला बनी थी.

आईसीसी के बयान के मुताबिक, जीएस लक्ष्मी ने कहा की आईसीसी के अंतरराष्ट्रीय पैनल में चुना जाना मेरे लिए बहुत बड़ा सम्मान है. उन्होंने कहा की इससे मेरे लिए नए रास्ते खुलेंगे. उन्होंने कहा की उम्मीद है कि मैं एक खिलाड़ी और मैच अधिकारी के रूप में अपने अनुभव का अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अच्छा उपयोग करूंगी.

जीएस लक्ष्‍मी के बारे में:

•   जीएस लक्ष्मी मूल रूप से आंध्र प्रदेश की रहने वाली है.

•   उन्होंने साल 2008-2009 में पहली बार घरेलू महिला क्रिकेट में मैच रेफरी की भूमिका निभाई थी.

•   वो महिला क्रिकेट से जुड़े एक अंतरराष्ट्रीय वनडे तथा तीन अंतरराष्ट्रीय टी-20 मुकाबलों में मैच रेफरी की भूमिका निभा चुकी हैं.

•   भारत में एक क्रिकेटर और मैच रेफरी के रूप में उनका करियर लंबा रहा है.

पैनल में महिलाओं की संख्या सात

ऑस्ट्रेलिया की इलोइस शेरिडन आईसीसी के अंपायरों के ‘डेवलपमेंट पैनल’ में ऑस्ट्रेलिया के पोलोसाक के साथ जुड़ेंगी. इस तरह से इस पैनल में महिलाओं की संख्या सात हो गई है. इस पैनल में लॉरेन एगेनबाग, किम कॉटन, शिवानी मिश्रा, सू रेडफर्न, मैरी वाल्ड्रान और जैकलिन विलियम्स शामिल अन्य महिला अधिकारी हैं. इस पैनल में शामिल होने वाली पहली महिला अंपायर कैथी क्रॉस थीं, जिन्होंने साल 2018 में संन्यास ले लिया था.

आर्टिकल अच्छा लगा? तो वीडियो भी जरुर देखें!

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के बारे में:

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) विश्व भर में क्रिकेट की प्रतियोगिताओं की नियंत्रक तथा नियामक संस्था है. यह प्रतियोगिताओं तथा स्पर्धाओं के आयोजन के अतिरिक्त हर साल क्रिकेट में अपने क्षेत्र के सफलतम खिलाड़ियों तथा टीमों को पुरस्कार देती है. आईसीसी खिलाड़ियों और टीमों का प्रदर्शन क्रम (रैंकिंग) निकालती है. यह हर जगह अंतरराष्ट्रीय मैच में अम्पायर नियुक्त करती हैं.

आईसीसी संगठन और क्रिकेट के प्रमुख अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट, खासकर आईसीसी क्रिकेट विश्व कप के लिए जिम्मेदार है. यह आईसीसी आचार संहिता, जो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के लिए अनुशासन के पेशेवर मानकों का सेट घोषणा करती है. इस संस्था को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद का नाम साल 1989 में प्रदान किया गया था.

यह भी पढ़ें: आईसीसी ने 80 देशों की टीमों की ट्वेंटी-20 रैंकिंग जारी की

Download our Current Affairs & GK app from Play Store/For Latest Current Affairs & GK, Click here