भारत और भूटान के बीच खोले जायेंगे 07 और व्यापार प्रवेश और निकास द्वार

परस्पर व्यापार संपर्क बढ़ाने के लिए भारत और भूटान में व्यापार के लिए सात अतिरिक्त प्रवेश और निकास द्वार खोले जायेंगे.

India, Bhutan to have 7 more Trade entry and exit points
India, Bhutan to have 7 more Trade entry and exit points

परस्पर व्यापार संपर्क बढ़ाने के लिए भारत और भूटान में व्यापार के लिए सात अतिरिक्त प्रवेश और निकास द्वार खोले जायेंगे.

प्रमुख विशेषताएं

  • यह फैसला वाणिज्य सचिव स्तर की एक बैठक में लिया गया, जो दोनों देशों के बीच व्यापार और पारगमन के मुद्दे पर चर्चा करने के लिए हुई थी.
  • भारतीय पक्ष का नेतृत्व वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय के तहत, वाणिज्य विभाग के सचिव BVR सुब्रह्मण्यम ने किया था, जबकि भूटानी पक्ष का नेतृत्व भूटान सरकार में आर्थिक मामलों के मंत्रालय के सचिव दाशो कर्मा शेरिंग ने किया था.

भारत और भूटान की बैठक का एजेंडा

  • इस बैठक के दौरान, मौजूदा व्यापार और पारगमन मुद्दों पर व्यापक चर्चा की गई.
  • इस बैठक में आपसी हितों के मुद्दों और द्विपक्षीय व्यापार संबंधों को मजबूत करने के उपायों पर भी चर्चा की गई.
  • इन दोनों देशों के बीच व्यापार संपर्क बढ़ाने के लिए विचार-विमर्श किया गया.
  • इन दोनों ही पक्षों ने आदान-प्रदान के एक पत्र के माध्यम से सात अतिरिक्त प्रवेश या निकास द्वारों/ बिंदुओं को भी औपचारिक रूप दिया.

भारत और भूटान के बीच सात प्रवेश या निकास द्वारों की जानकारी

भारत और भूटान के बीच सात प्रवेश या निकास द्वारों में निम्नलिखित शामिल हैं:

  • वस्तु प्रतिबंध के बिना नगरकाटा भूमि सीमा शुल्क स्टेशन.
  • अगरतला भूमि सीमा शुल्क स्टेशन.

भारत और विश्व बैंक ने किये मेघालय में स्वास्थ्य प्रणालियों को मजबूत करने के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर

  • गुवाहाटी स्टीमर घाट में पांडु बंदरगाह. यह धुबरी में सीमा पार नियंत्रण के अधीन है.
  • जोगीघोपा बंदरगाह. यह बंदरगाह भी धुबरी में सीमा पार नियंत्रण के अधीन है.
  • एशियाई राजमार्ग 48 जो भारत में तोर्शा चाय बागान को भूटान के अहले से जोड़ता है. यह राजमार्ग कमारद्वीसा, जयगांव और बीरपारा में भूमि सीमा शुल्क स्टेशन के अनुरूप एक अतिरिक्त मार्ग के रूप में कार्य करता है.

भारत और भूटान के बीच व्यापार

इन दोनों देशों के बीच व्यापार वर्ष, 2020-2021 में दोगुना से भी अधिक हो गया है, जबकि वर्ष, 2014-15 में यह 484 मिलियन अमेरिकी डॉलर था. वर्ष, 2020-21 में भारत और भूटान के बीच यह व्यापार 1,083 मिलियन अमरीकी डालर तक पहुंच गया.

चीन-अमेरिका की आपसी होड़ के मद्देनजर, भारत जरुर बनाये अपनी मजबूत आसियान रणनीति

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Read the latest Current Affairs updates and download the Monthly Current Affairs PDF for UPSC, SSC, Banking and all Govt & State level Competitive exams here.
Jagran Play
खेलें हर किस्म के रोमांच से भरपूर गेम्स सिर्फ़ जागरण प्ले पर
Jagran PlayJagran PlayJagran PlayJagran Play