Central Reserve Police Force (CRPF): सीआरपीएफ ने दो महिला अधिकारियों को महानिरीक्षक रैंक पर पदोन्नत किया, जानें इनके बारें में

Central Reserve Police Force (CRPF): यह पहली बार है जब रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) का नेतृत्व कोई महिला महानिरीक्षक करेंगी। अधिक जानकारी के लिए नीचे पढ़े|

Two CRPF Women Officers Seema Dhundiya and Annie Abraham get promoted to Inspector General Rank
Two CRPF Women Officers Seema Dhundiya and Annie Abraham get promoted to Inspector General Rank

Central Reserve Police Force (CRPF): केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की दो महिला अधिकारि, सीमा धुंडिया और एनी अब्राहम को महानिरीक्षक के पद पर पदोन्नत किया गया है वे 1987 में सीआरपीएफ में शामिल हुई थी  ऐसा यह पहली बार हो रहा है जब कोई महिला महानिरीक्षक रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) का नेतृत्व करेंगी।

बिहार सेक्टर के केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की महानिरीक्षक प्रमुख सीमा धुंडिया और वही आईजी एनी अब्राहम रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) के प्रमुख के रूप में तैनात होंगी। विशेष रूप से अगर देखा जाए तो केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) पहला ऐसा केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल था जिसने 1986 में महिलाओं को युद्ध में शामिल किया था।

आईजी रैंक पर पदोन्नत किया गया सीआरपीएफ की दो महिला अधिकारियों को

एनी अब्राहम के अनुसार, “हम 1986 में सीआरपीएफ में शामिल हुई और एक साल बाद हमने कई मुश्किल हालात देखे हैं।”

उन्होंने आगे कहा कि प्रशिक्षण के बाद, वह अयोध्या में तैनात थीं। उनके अनुसार, वे शुरुआती दिन थे जब झड़पें अभी शुरू हुई थीं, लेकिन हमने बहुत कुछ सीखा है।

सीमा धुंडिया ने प्रमोशन पर बोलते हुए कहा कि ऑपरेशन कमांडर होने के बावजूद वह मेंटर की भूमिका भी निभाना चाहेंगी। उन्होंने कहा कि वह निर्दोष  आचरण वाले सैनिकों को पूरी तरह से पेशेवर बनाना चाहती हैं और निश्चित रूप से इस विशाल बल में प्रवेश करने वाली युवा महिलाओं के लिए अनुकूल वातावरण बनाना चाहती हैं।

सीआरपीएफ की सीमा धुंडिया और एनी अब्राहम के बारें में

  • दोनों अधिकारियों ने संयुक्त राष्ट्र में एक अखिल महिला भारतीय पुलिस दल की कमान भी संभाली है।
  • अधिकारियों को उनकी सेवा के दौरान विशिष्ट सेवा के लिए राष्ट्रपति पुलिस पदक, सराहनीय सेवा के लिए पुलिस पदक और 'अति उत्कृष्ट सेवा पदक' से भी सम्मानित किया गया है।
  • एनी अब्राहम के अनुसार, उन्होंने मिजोरम में एक सर्व-पुरुष बटालियन का नेतृत्व किया और 2008 में भूमि विवाद शुरू होने पर केंद्रीय बटालियन को वहां से जम्मू स्थानांतरित करना पड़ा।

रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) की भूमिका क्या है?

रैपिड एक्शन फोर्स जो दंगों की 15 बटालियन की मजबूत फोर्स है यह देश के विभिन्न हिस्सों में है. यह जवाबी विरोध और संवेदनशील कानून-व्यवस्था की ड्यूटी के लिए तैनात है। यह भारी भीड़ प्रबंधन और वीआईपी यात्राओं के दौरान राज्य पुलिस बलों की सहायता के लिए तैनात किया जाता है।

बिहार सेक्टर का केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) लगभग चार बटालियनों की कमान संभालता है जो नक्सल विरोधी अभियानों और अन्य कानून-व्यवस्था के कर्तव्यों के लिए तैनात हैं, कुछ आरएएफ कर्तव्यों और कोबरा के अलावा, यूनिट जंगल युद्ध में माहिर है।

सीआरपीएफ में महिला योद्धा

केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) पहला केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल था जिसने 1986 में महिलाओं को युद्ध में शामिल किया था। सीआरपीएफ की वर्तमान में छह बटालियन हैं, जिसमें महिला कांस्टेबल की भर्ती 6,000 से अधिक पदों पर भरती हैं।

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Read the latest Current Affairs updates and download the Monthly Current Affairs PDF for UPSC, SSC, Banking and all Govt & State level Competitive exams here.
Jagran Play
खेलें हर किस्म के रोमांच से भरपूर गेम्स सिर्फ़ जागरण प्ले पर
Jagran PlayJagran PlayJagran PlayJagran Play