Search

भारतीय रेलवे में कैसे और किन मुद्दों पर अपनी शिकायतें दर्ज कर सकते हैं?

भारतीय रेलवे हर साल लोगों की सुविधा का ध्यान रखते हुए कुछ न कुछ नए बदलाव करती रहती है; इन बदलावों में मुख्यतः यात्री किरायों में बदलाव, माल भाड़ा दरों में परिवर्तन, ट्रेन और स्टेशन पर सफाई, यात्री सुरक्षा, आसान टिकेट बुकिंग आदि शामिल हैं. इन सब परिवर्तनों के बाद भी यदि कोई यात्री किसी तरह की असुविधा का सामना करता है तो रेल अधिकारी सोशल मीडिया, हेल्पलाइन नंबर, ईमेल इत्यादि के माध्यम से लोगों की शिकायतों को हल करने की हर संभव कोशिश करते हैं.
Aug 22, 2017 18:18 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon
Complain portal of Indian Railways
Complain portal of Indian Railways

भारतीय रेलवे के पास कुल रनिंग ट्रैक 65000 किमी का है. इसी कारण इसे दुनिया की चौथी सबसे बड़ी रेलवे होने का गौरव प्राप्त है. भारतीय रेलवे हर साल लोगों की सुविधा का ध्यान रखते हुए कुछ न कुछ नए बदलाव करती रहती है इन बदलावों में मुख्यतः यात्री किरायों में बदलाव, माल भाड़ा दरों में परिवर्तन, यात्री सुविधाओं, यात्री सुरक्षा, आसान टिकेट बुकिंग आदि शामिल हैं.

इन बदलावों से जहाँ कुछ लोग खुश होते हैं वहीँ कुछ लोग हमेशा कुछ परेशानियों जैसे स्टेशन और ट्रेनों में सफाई, भोजन की घटिया गुणवत्ता,सामान चोरी और यात्रियों की सुरक्षा इत्यादि की ओर सरकार का ध्यान खींचते रहते हैं. सरकार भी "customer is the king" की बात को ध्यान में रखते हुए सोशल मीडिया, हेल्पलाइन नंबर, ईमेल इत्यादि के माध्यम से लोगों की शिकायतों को हल करने की हर संभव कोशिश करती रहती है. यह लेख आपको बताएगा कि किन किन समस्यायों की शिकायत और सुझाव आप भारतीय रेल के अधिकारियों तक पहुंचा सकते हैं.

शिकायत करने का पहला तरीका
यदि आप रेलवे से सम्बंधित कोई सुझाव और शिकायत दर्ज करना चाहते हैं तो नीचे दी गयी लिंक पर क्लिक करें
चरण 1: http://www.coms.indianrailways.gov.in/ इस होम पेज पर जाएं और शिकायत दर्ज करें
आप निम्न मुद्दों पर शिकायतें दर्ज करा सकते हैं
1.TTE द्वारा कन्फर्म टिकेट पर सीट का आबंटन ना करने पर
2. स्टेशन पर सफाई की व्यवस्था ना होना
3. ट्रेन में सफाई की व्यवस्था ना होना
4. ट्रेन में गंदे कपडे मिलने पर
5. घूसखोरी और भ्रष्टाचार
6. खाने की गुणवत्ता ख़राब होने पर
7. विद्युत उपकरण का काम ना करना
8. ट्रेन स्टाफ का अनुचित व्यवहार
9. ट्रेन और स्टेशन पर पानी की अनुपलब्धता
10. सामान चोरी
11. रद्द टिकट का पैसा वापस न मिलना
12. ट्रेन लेट होने और बहुत अधिक देरी से आने की समस्या
13. ट्रेन रद्द होने पर रिफंड रुपयों का ना मिलना

विश्व के सबसे खतरनाक 9 रेलमार्ग कौन से हैं
चरण 2:  रेलवे के साथ अपनी शिकायत दर्ज करने के लिए निम्न फॉर्म ऑनलाइन भरें (जैसा कि नीचे दिखाया गया है)

complaint form train
चरण 3: अपनी शिकायत की वर्तमान स्थिति जानने के लिए और यह सुनिश्चित करने के लिए कि आपकी शिकायत पर कोई कार्रवाई की गई है या नही. निम्न लिंक पर क्लिक करें

शिकायत करने का दूसरा तरीका
एसएमएस, कॉल और ट्विटर के माध्यम से शिकायत: रेलवे ने शिकायतें और सुरक्षा मुद्दों के लिए अलग-अलग फोन नंबर पेश किए हैं. रेलवे के पास सोशल मीडिया के माध्यम से भी शिकायत दर्ज करायी जा सकती है.

complain indian rail sms
1. कोई यात्री शिकायत या सुझाव सीधे 138 पर कॉल करके दर्ज करा सकता है
2. यदि आपके पास सुरक्षा सम्बन्धी कोई शिकायत है तो आप 182 पर काल कर सकते हैं.
3. यदि आप अपने मोबाइल से sms के माध्यम से शिकायत दर्ज कराना चाहते हैं तो आप + 91-9717680982 या 81212-81212 पर शिकायत भेज सकते हैं.
4. यात्रा के दौरान किसी भी आपातकाल, सेवा में कमी या असुरक्षा की स्थिति में @RailMinIndia को ट्वीट किया जा सकता है.
SMS आधारित शिकायत और सुझाव का वर्तमान स्टेटस जानने के लिए निम्न पेज पर जाएँ

complain tracking railway

शिकायत करने का तीसरा तरीका
“मोबाइल एप्लीकेशन”के माध्यम से शिकायत
आज के दौर में लगभग हर रेल यात्री के पास स्मार्टफ़ोन होता है. आप इस एप को डाउनलोड करके भारतीय रेलवे को अपनी शिकायतें और सुझाव सीधे भेज सकते हैं. इस माध्यम से आप सबूत के तौर पर रेल कम्पार्टमेंट या कपड़ों या शौचालय की पिक्चर भी अपलोड कर सकते हैं जिससे रेल अधिकारियों को कार्यवाही करने में और आसानी होगी.

तो इस प्रकार आपने पढ़ा कि किस प्रकार भारतीय रेलवे यात्रियों की सुरक्षा और सुविधा के लिए कितनी सक्रियता से अपने काम को कर रही है.उम्मीद है कि भविष्य में इसमें और सुविधाओं को जोड़ा जायेगा.

भारत के 9 सबसे व्यस्त रेलवे स्टेशन कौन से हैं?