1. Home
  2. Hindi
  3. जानिये क्या है ट्रेन के डिब्बों पर लिखे नंबर के पीछे की कहानी

जानिये क्या है ट्रेन के डिब्बों पर लिखे नंबर के पीछे की कहानी

ट्रेन के डिब्बों के ऊपर एक नंबर लिखा होता है लेकिन क्या आप जानते हैं की यह नंबर ट्रेन से जुडी बेहद महत्वपूर्ण जानकारी देता है . जानिये क्या है इस नंबर के पीछे छुपी जानकारी. 

know the story behind the numbers written on train coaches
know the story behind the numbers written on train coaches

ट्रेन का सफ़र बेहद सुविधाजनक और आनंदमयी होता है . ट्रेन में कई दिनों के सफ़र में भी इंसान ऊब नही सकता क्योंकि खिड़की के बाहर से दिखने वाले नज़ारे लगातार यात्रा में रुचि और एडवेंचर पैदा करते हैं . ट्रेन का सफ़र तो सबको पसंद होता है और सभी ट्रेन में अपनी पसंद की सीट भी बुक कर लेते है लेकिन क्या आपने कभी ट्रेन से जुड़ी बारीकियों पर ध्यान दिया है . यकीनन  सबने ट्रेन के डिब्बों के ऊपर लिखे एक 5 अंकों के नंबर को देखा होगा लेकिन साथ ही यह भी सुनिश्चित है कि हम नंबर के बराबर में लिखा ट्रेन का नाम तो पढ़ लेते हैं लेकिन कभी भी उस नंबर पर ध्यान नही देते . लेकिन क्या आप जानते है कि ट्रेन के डिब्बों पर लिखा यह नंबर ट्रेन से जुड़ी कितनी महत्वपूर्ण जानकारी देता है . 

क्या है ट्रेन के डिब्बों पर लिखे नंबर का मतलब 

source: scoop whoop

ट्रेन के डिब्बों पर लिखा यह नंबर ट्रेन से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी देता है . अंकित नंबर के पहले दो अंक उस वर्ष की जानकारी देते हैं जिसमें ट्रेन का निर्माण हुआ था और बाद के अंक ट्रेन के डिब्बे की श्रेणी की जानकारी देते हैं जैसे की फर्स्ट क्लास और सेकंड क्लास . उदाहरण के लिए यदि ट्रेन के किसी डिब्बे पर 08437 नंबर लिखा हुआ है तो इसका मतलब है की इस ट्रेन का निर्माण वर्ष 2008 में हुआ है और साथ ही 437  ट्रेन के डिब्बे की श्रेणी की जानकारी देता है . 

बाद के तीन अंको की डिटेल 

शुरू के 2 नंबरों से यह अंदाज़ा लगाना आसान है कि ट्रेन का उत्पादन किस वर्ष में हुआ है लेकिन बाद के तीन नंबरों को आप निम्नलिखित जानकारी के बाद से समझ सकते हैं. 

001-025 - एसी प्रथम श्रेणी 

026-050 - कम्पोजिट 1 एसी + एसी -2 टियर 

051-100 - एसी 2 टियर 

101-150 - एसी -3 टियर 

151-200 - एसी चेयर कार 

201-400 - स्लीपर सेकंड क्लास 

401-600 - जनरल सेकंड क्लास 

601-700 - सेकंड क्लास 

701-800 -  समान ढुलाई कोच 

801+ - पेंट्री कार इत्यादि