Search

12 वीं के बाद कैसे बनें कमांडो क्या है इंट्री ऑप्शंस और क्राइटेरिया, जानने के लिए देखें विडियो

Jul 6, 2018 16:20 IST

भारत के पास दुनिया की सबसे बड़ी स्पेशल फोर्सेस हैं..जिनमें कमांडों का सबसे बड़ा योगदान होता है..अक्सर आपने देखा होगा कि देश के अन्दर किसी भी प्रकार के आतंकी हमलों या फिर अन्य विषम परिस्थितियों में हमारे ये कमांडो किस बहादुरी से अपने मिशन को अंजाम देते हैं. आइये इस वीडियो के माध्यम से हम आपको बताते हैं कि 12 वीं के बाद कमांडो कैसे बनते हैं और कैसे तैयार होते हैं दुनिया के सर्वश्रेष्ठ हमारे ये कमांडो.

कमांडों के अंतर्गत स्पेशल फोर्सेस में मैरीन कमांडो, पैरा कमांडो, कोबरा, स्पेशल फ्रंर्टियर फोर्स, नेशनल सिक्यूरिटी गार्ड जैसे फोर्स शामिल हैं. मारकोस (MARCOS) या मरीन कमांडो इंडियन नेवी की खास कमांडो फोर्स है जो जमीन, हवा, और पानी में लड़ने के लिए पूरी तरह से सक्षम होते हैं.

पारा कमांडो भी बहुत अहम् भूमिका निभाते हैं जो खास तौर पर इंडियन आर्मी के पैराशूट रेजिमेंट का हिस्सा होते हैं.कोबरा सीआरपीएफ का ख़ास हिस्सा है जो नक्सल आन्दोलन से निपटने के लिए तैयार किया जाता है..और गरुड़ कमांडो फोर्स को इंडियन एयर फोर्स का सबसे अहम हिस्सा माना जाता है.

तो आप भी अगर अपना करियर एक कमांडो के रूप में देखना चाहते हैं तो इस वीडियों के जरिए जान सकते हैं कि कमांडो बनने के लिए क्या है एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया, सिलेक्शन प्रोसेस और ऐज लीमिट.