Search

कॉमनवेल्थ गेम्स 2018 समापन: भारत पदक तालिका में तीसरे स्थान पर

गोल्ड कोस्ट (ऑस्ट्रेलिया) में हुए 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स का 15 अप्रैल 2018 को समापन हो गया. 2018 कॉमनवेल्थ गेम्स में कुल 66 पदक जीतकर भारत इन खेलों के इतिहास में 500 पदकों का आंकड़ा पार करने वाला 5वां देश बन गया है. इससे पहले ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, कनाडा और न्यूज़ीलैंड यह आंकड़ा पार कर चुके हैं.

Apr 16, 2018 11:37 IST

गोल्ड कोस्ट (ऑस्ट्रेलिया) में हुए 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स का 15 अप्रैल 2018 को समापन हो गया, जिसमें कुल 66 पदक जीतने वाला भारत 26 स्वर्ण के साथ तीसरे स्थान पर रहा. 80 स्वर्ण समेत 198 पदक जीतने वाला ऑस्ट्रेलिया पदकतालिका में पहले स्थान पर और 45 स्वर्ण समेत 136 पदक जीतने वाला इंग्लैंड दूसरे स्थान पर रहा. भारत वर्ष 2010 में दूसरे स्थान पर था. भारत की दिग्गज मुक्केबाज एम सी मेरीकॉम राष्ट्रमंडल खेलों के समापन समारोह में भारत की ध्वजवाहक रहीं.बर्मिंघम  में वर्ष 2022 में 22वें कॉमनवेल्थ गेम्स का आयोजन किया जायेगा.

ऑस्ट्रेलिया में रंगारंग उद्घाटन समारोह के साथ समुद्र तट पर बसे गोल्ड कोस्ट शहर में 04 अप्रैल 2018 को 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स आरंभ किये गये थे. भारतीय दल की अगुवाई ओलंपिक सिल्वर मेडलिस्ट पीवी सिंधु ने की जो भारतीय ध्वजवाहक रहीं. ऑस्ट्रेलिया पांचवी बार, राष्ट्रमंडल खेलों की मेजबानी कर रहा था.

कॉमनवेल्थ गेम्स इतिहास में 500 पदकों का आंकड़ा पार करने वाला 5वां देश बना भारत

2018 कॉमनवेल्थ गेम्स में कुल 66 पदक जीतकर भारत इन खेलों के इतिहास में 500 पदकों का आंकड़ा पार करने वाला 5वां देश बन गया है. इससे पहले ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, कनाडा और न्यूज़ीलैंड यह आंकड़ा पार कर चुके हैं. भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन (101 पदक) वर्ष 2010 दिल्ली खेलों में रहा था और वर्ष 2002 मैनचेस्टर में उसने 69 पदक जीते थे.

सिंधु को हराकर साइना ने जीता गोल्ड



ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में कॉमनवेल्थ गेम्स के अंतिम दिन भारतीयों के लिए सबसे अहम मुकाबला हुआ. बेडमिंटन के सिंगल्स के फाइनल में भारतीय खिलाड़ी पीवी सिंधु और साइना नेहवाल आमने सामने थीं. साइना नेहवाल ने पी.वी. सिंधु को हराकर महिला एकल वर्ग का स्वर्ण पदक अपने नाम किया. साइना ऐसे में राष्ट्रमंडल खेलों में दो स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ी बन गई हैं. सिंधु को हार के कारण रजत पदक से संतोष करना पड़ा. साइना नेहवाल ने देश की नंबर एक खिलाड़ी और ओलंपिक पदक विजेता पीवी सिंधु को 21-18, 23-21 से शिकस्त दी.

 

नीरज चोपड़ा ने जेवलिन थ्रो में जीता गोल्ड

 Neeraj Chopra wins Gold in Javelin Throw

नीरज चोपड़ा ने 21वें राष्ट्रमंडल खेलों के 10वें दिन 14 अप्रैल 2018 को भारत की झोली में एक और स्वर्ण पदक डाल दिया. नीरज ने पुरुषों की भालाफेंक स्पर्धा में देश के लिए स्वर्ण पदक जीता. वहीं इसी स्पर्धा में एक और भारतीय विपिन कशाना पांचवें स्थान पर रहे. स्वर्ण पदक के साथ ही नीरज ने कॉमनवेल्थ खेलों में इतिहास रच दिया. नीरज ने फाइनल में 86.47 मीटर की दूरी तय करते हुए स्वर्ण पदक जीता. स्पर्धा का रजत पदक आस्ट्रेलिया के हेमिश पीकॉक के नाम रहा, जिन्होंने 82.59 की दूरी तय की.

 

सौरव और दीपिका ने स्क्वैश मिक्सड डबल्स में जीता सिल्वर

भारत के सौरव घोषाल एवं दीपिका पल्लीकल कार्तिक की जोड़ी को 21वें राष्ट्रमंडल खेलों के 10वें दिन 14 अप्रैल 2018 को मिश्रित युगल वर्ग के फाइनल में रजत पदक जता. ऑस्ट्रेलिया की डोना क्यूहार्ट एवं कैमरुन पिले की जोड़ी ने भारतीय जोड़ी को 29 मिनट तक चले रोमांचक मुकाबले में 2-0 (11-8, 11-10) से मात दी.

 

विनेश फोगाट ने 50 किग्रा. वर्ग (फ्री-स्टाइल) में जीता गोल्ड

भारतीय पहलवान विनेश फोगाट ने कॉमनवैल्थ गेम्स की 50 किग्रा. वर्ग (फ्री-स्टाइल) में 23वां स्वर्ण पदक जीता है. फोगाट का फाइनल में मुकाबला कनाडा की जैसिका मैकडोनल्ड से था. फोगाट पहले ही मिनट से जैसिका पर ताबड़तोड़ हमले किए. फोगाट ने जैसिका को कंधों से ऊपर उछालकर फेंका और अपनी लीड 4-0 कर ली.

 

सुमित मलिक ने कुश्ती में जीता स्वर्ण

भारत के पहलवान सुमित मलिक ने ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में जारी 21वें राष्ट्रमंडल खेलों के 10वें दिन भारत की खाते में एक और स्वर्ण पदक डाल दिया है. सुमित मलिक को 14 अप्रैल 2018 को पुरुषों की फ्री स्टाइल कुश्ती के 125 किलोग्राम भारवर्ग में नाइजीरिया के सिनिवेई बोल्टिक से भिड़ना था, लेकिन नाइजीरियाई खिलाड़ी ने सुमित मलिक को वॉकओवर दे दिया और इसी के साथ सुमित मलिक ने स्वर्ण पदक अपने नाम किया.

 

बॉक्सिंग में विकास कृष्ण ने जीता स्वर्ण:

भारत के विकास कृष्ण ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 21वें राष्ट्रमंडल खेलों की मुक्केबाजी स्पर्धा के 75 किलो ग्राम वर्ग में स्वर्ण पदक अपने नाम किया. विकास ने फाइनल मुकाबले में कैमरून के दियूदोन विल्फ्रे सेयी को 5-0 से हराया. पांचों जजों ने विकास को श्रेष्ठ करार दिया. विकास ने पहले दौर में ऑस्ट्रेलिया के कैम्पबेल सोमरविले को हराया था.

 

मनिका बत्रा ने टेबल टेनिस में जीता स्वर्ण

भारत की महिला एकल टेबल टेनिस खिलाड़ी मानिका बत्रा ने 14 अप्रैल 2018 को 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में गोल्ड मेडल हासिल किया है. मानिका ने फाइनल मुकाबले में सिंगापुर की मेंगयू यू को 4-0 से हराया. मानिका ने 11-7, 11-6, 11-2, 11-7 से जीत दर्ज की. कॉमनवेल्थ गेम्स में टे​बल टेनिस के सिंगल्स में गोल्ड मेडल जीतने वाली मनिका बत्रा पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बन गई हैं.

 

संजीव राजपूत ने जीता 50 मीटर राइफल थ्री पोजिशंस में जीता स्वर्ण पदक:

भारत के संजीव राजपूत ने राष्ट्रमंडल खेलों में पुरूषों की 50 मीटर राइफल थ्री पोजिशंस में खेलों के रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण पदक जीता. संजीव ने कुल 454.5 का स्कोर करते हुए गेम रिकार्ड के साथ स्वर्ण पर कब्जा जमाया. रजत पदक कनाडा के ग्रेजगोर्ज स्याच के नाम रहा जिन्होंने 448.4 का स्कोर किया. इंग्लैंड के डीन बेल 441.2 का स्कोर करते हुए कांस्य पदक जीता. संजीव ने क्वालीफिकेशन में 1180 के गेम रिकार्ड के साथ पहला स्थान हासिल करते हुए फाइनल में जगह बनाई तो वहीं चैन 1166 के स्कोर के साथ दूसरे स्थान पर रहे.

 

एम.सी. मैरी कॉम ने जीता स्वर्ण पदक:


ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में खेले जा रहे 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स के 10वें दिन इतिहास रचते हुए एम.सी. मैरी कॉम ने स्वर्ण पदक अपने नाम कर लिया है. उन्होंने 45-48 किलोग्राम भारवर्ग की स्पर्धा में इंग्लैंड की क्रिस्टीना ओहारा को 5-0 से मात देकर पहली बार कॉमनवेल्थ गेम्स में अपना पहला मेडल हासिल किया है.

 

भारतीय मुक्केबाज़ गौरव सोलंकी ने जीता स्वर्ण पदक:

भारतीय मुक्केबाज़ गौरव सोलंकी ने कॉमनवेल्थ गेम्स 2018 में नार्दन आयरलैंड के ब्रेंडन इरवाइन को 4-1 से हराकर गोल्ड मेडल अपने नाम किया है.गौरव ने पुरुषों की 52 किलोग्राम भारवर्ग स्पर्धा यह सफलता हासिल की है. गौरव का यह कॉमनवेल्थ गेम्स में पहला पदक है.

 

मनीष कौशिक को रजत पदक:

भारत के मुक्केबाज मनीष कौशिक ने 21वें राष्ट्रमंडल खेलों के 10वें दिन 14 अप्रैल 2018 को रजत पदक अपने नाम किया है. मनीष को पुरुषों की 60 किलोग्राम भारवर्ग स्पर्धा के फाइनल में आस्ट्रेलिया के हैरी गारसाइड ने कड़े मुकाबले मं 3-2 से मात दी.

 

पहलवान बजरंग पुनिया ने स्वर्ण पदक जीता

भारत के पुरुष पहलवान बजरंग पुनिया ने शानदार प्रदर्शन करते हुए यहां जारी 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में नौवें दिन 11 अप्रैल 2018 को भारत की झोली में 17वां स्वर्ण पदक डाला. बजरंग ने पुरुषों की 65 किलोग्राम वर्ग स्पर्धा के फाइनल में वेल्स के केन चारिग को मात देकर सोना जीता. यह उनके राष्ट्रमंडल खेलों का पहला स्वर्ण पदक है. बजरंग ने वेल्स के केन चारिग को काफी आसानी से 10-0 से हराकर एकतरफा जीत अपने नाम की. बजरंग ने 6-0 और 8-0 के बाद फिर से चारिग को पलटते हुए दो अंक लिए और 10-0 से अपना मैच जीत लिया. बजरंग ने 2014 कॉमनवेल्थ गेम्स में रजत पदक जीता था.


पूजा ढांडा रजत और दिव्या काकरान ने कांस्य पदक जीता:

भारत की पूजा ढांडा और दिव्या काकरान ने 21वें राष्ट्रमंडल खेलों की कुश्ती प्रतियेागिता के दूसरे दिन 11 अप्रैल 2018 को क्रमश: रजत और कांस्य पदक जीत लिए.  भारत ने इस तरह कुश्ती में अब तक सात पदक जीत लिए हैं.  पूजा को 57 किग्रा वर्ग के फाइनल में नाइजीरिया की ओडूनायो एडेकुरोयो से 5-7 से हार का सामना करना पड़ा.हरियाणा के हिसार की 24 वर्षीय पूजा का यह पहला राष्ट्रमंडल पदक है.
 
दिव्या ने 68 किग्रा वर्ग के कांस्य पदक मुकाबले में गकाब का प्रदर्शन करते हुए बंगलादेश की शैरीन सुल्ताना को मात्र 26 सेकंड में चित कर देश को एक और पदक दिला दिया. दिल्ली की 19 वर्षीय दिव्या का भी यह पहला राष्ट्रमंडल खेल पदक है. दिव्या ने बंगलादेशी पहलवान को कोई मौका दिए बिना मैट पर पटका और उनके दोनों कंधे जमीन पर लगाकर उन्हें चित कर दिया.

 

अनीश भनवाला सबसे कम उम्र में गोल्ड जीतने वाले देश के पहले खिलाड़ी:

भारत के युवा निशानेबाज अनीश भानवाल (15 वर्ष) ने यहां कॉमनवेल्थ गेम्स में नौवें दिन  पुरुषों की 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल स्पर्धा में 30 अंक हासिल करते हुए स्वर्ण पदक अपने नाम किया है. अनीश ने कॉमनवेल्थ गेम्स में पदार्पण के साथ ही स्वर्ण पदक जीता और साथ ही इन खेलों का नया रिकॉर्ड भी बनाया है.उन्होंने 2014 में ग्लाग्सो में आयोजित कॉमनवेल्थ गेम्स में आस्ट्रेलिया के डेविड चापमान की ओर से बनाए रिकॉर्ड को तोड़ दिया.

अनीश भनवाला सबसे कम उम्र में गोल्ड जीतने वाले देश के पहले खिलाड़ी बन गए. उन्होंने मनु भाकर का रिकॉर्ड तोड़ा. मनु ने इन्हीं गेम्स में 16 की उम्र में गोल्ड जीतने का कारनामा किया था.

 

तेजस्विनी सावंत ने जीता स्वर्ण और अंजुम मोदगिल ने जीता रजत पदक:


भारतीय महिला निशानेबाज तेजस्विनी सावंत ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 21वें राष्ट्रमंडल खेलों (कॉमनवेल्थ गेम्स 2018) में नौवें दिन 15वां स्वर्ण पदक जीता. तेजस्विनी ने महिलाओं की 50 मीटर राइफल पोजीशन-3 के फाइनल में पहला स्थान हासिल कर स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया और इसके साथ ही उन्होंने राष्ट्रमंडल खेलों का रिकॉर्ड भी बनाया. इसी स्पर्धा में भारत की एक अन्य भारतीय बेटी अंजुम मोदगिल ने दूसरा स्थान हासिल कर रजत पदक जीता है. तेजस्विनी ने कुल 457.9 अंक हासिल करते हुए राष्ट्रमंडल खेलों का रिकॉर्ड बनाते हुए स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया, वहीं अंजुम ने 455.7 अंकों के साथ रजत पदक जीता.स्कॉटलैंड की सियोनेड मिकतोश को 444.6 अंकों के साथ कांस्य पदक हासिल हुआ है.

 

पहलवान सुशील कुमार:

पहलवान सुशील कुमार ने 74 किलोग्राम वर्ग में गोल्‍ड मेडल हासिल किया है. सुशील कुमार ने सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया के कोनोर इवांस को 4-0 से मात दी थी. इससे पहले उन्होंने क्वॉर्टर फाइनल में पाकिस्तान के मुहम्मद बट को 4-0 से हराया.इससे पहले, सुशील ने 2010 दिल्ली और 2014 ग्लास्गो में आयोजित राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीते थे. इस जीत के साथ ही उन्होंने अपने पदकों की हैट्रिक पूरी की है.

 

बबीता फोगाट:

बबीता फोगाट ने ऑस्ट्रेलिया में जारी 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में 8वें दिन महिलाओं की फ्रीस्टाइल 53 किलोग्राम स्पर्धा का रजत पदक अपने नाम किया. इससे पहले भी बबिता फोगट 2010 के राष्ट्रमंडल खेलों में महिला कुश्ती में भारत के लिए रजत पदक जीत चुकी हैं. बबीता ने 2014 में ग्लास्गो में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड मेडल जीता था.

 

राहुल अवारे:

भारत के कुश्ती पहलवान राहुल अवारे ने शानदार प्रदर्शन करते हुए यहां जारी 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में आठवें दिन 12 अप्रैल 2018 को भारत के लिए 13वां स्वर्ण पदक जीता. महाराष्ट्र के राहुल अवारे ने पुरुषों की 57 किलोग्राम स्पर्धा के फाइनल में कनाडा के स्टीवन ताकाहाशी को 15-7 से मात देकर जीत हासिल की.

 

श्रेयसी सिंह:


भारत की दिग्गज महिला निशानेबाज श्रेयसी सिंह ने राष्ट्रमंडल खेलों में 11 अप्रैल 2018 को सातवें दिन भारत की झोली में 12वां स्वर्ण पदक डाला. श्रेयसी ने महिलाओं की डबल ट्रैप स्पर्धा के फाइनल्स में पहला स्थान हासिल कर स्वर्ण पदक जीता. उन्होंने कुल 98 अंक हासिल किए. आस्ट्रेलिया की एमा कोक्स को इस स्पर्धा में सिल्वर मेडल हासिल हुआ. उन्होंने कुल 96 अंक हासिल किए थे. वहीं उन्होंने शूट-ऑफ में दो निशानों में से एक गलत लगाया और इस कारण वह दूसरे स्थान पर रहीं. स्कॉटलैंड की लिंडा पियरसन ने 87 अंकों के साथ कांस्य पदक पर कब्ज़ा जमाया.

कॉमनवेल्थ गेम्स में श्रेयसी का यह दूसरा पदक है और इससे पहले उन्होंने ग्लासगो (वर्ष 2014) में रजत पदक जीता था.

यह भी पढ़ें: बैडमिंटन रैंकिंग: किदांबी श्रीकांत बने दुनिया के नंबर वन बैडमिंटन खिलाड़ी

 

सचिन चौधरी:

 Para Powerlifter Sachin Chaudhary wins bronze

भारत के सचिन चौधरी ने पैरा पॉवर लिफ्टिंग प्रतियोगिता में कांस्य पदक जीता हैं. ये पहला मौका है जब भारत ने पैरा स्पोर्ट्स में कोई मेडल जीता है. सचिन ने कुल 181 किलोग्राम का भार उठाया. नाइजीरिया के अब्दुलजीज इब्राहिम ने 191.9 किग्रा भार उठा कर सोने पर कब्जा जमाया. स्पर्धा का रजत मलेशिया के यी खी जोंग के नाम रहा जिन्होंने 188.7 किलोग्राम भार उठाया. सचिन चौधरी ने वर्ष 2012 में लंदन में आयोजित समर पैरालिंपिक्स में भारत का प्रतिनिधत्व किया था। यहां पर उन्होंने मेन्स 82.50 किलोग्राम इवेंट में आठवां स्थान हासिल किया था.

ओम प्रकाश मिथरवाल:


भारतीय निशानेबाज़ ओम प्रकाश मिथरवाल ने 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स में बुधवार को कुल 201.1 अंक के साथ 50 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में कांस्य पदक जीता. स्पर्धा का स्वर्ण पदक आस्ट्रेलिया के डेनियल रेपाचोली के नाम रहा जिन्होंने 227.2 का कुल स्कोर करते गुए गेम रिकार्ड बनाया. वहीं रजत पदक बांग्लादेश के शकील अहमद के नाम रहा जिन्होंने 220.5 का स्कोर किया.

यह ओम प्रकाश मिथरवाल का दूसरा पदक है इससे पहले भी उन्होंने 10 मीटर स्पर्धा में भी कांस्य पदक जीता था.

यह भी पढ़ें: मनु भाकर ने 16 साल की उम्र में में रचा इतिहास, शूटिंग वर्ल्ड कप में जीता गोल्ड

 

हिना सिद्धू:

 Heena Sidhu wins gold medal in 25m pistol event

भारतीय निशानेबाज़ हिना सिद्धू ने 10 अप्रैल 2018 को कॉमनवेल्थ गेम्स रिकॉर्ड बनाकर 25 मीटर पिस्टल स्पर्धा का स्वर्ण पदक जीत लिया. इस वर्ग का रजत पदक ऑस्ट्रेलिया की एलेना गैलीबोविच और कांस्य पदक मलेशिया की आलिया सजाना अजाहारी ने जीता. इस कॉमनवेल्थ गेम्स में हिना का यह दूसरा पदक है और इससे पहले उन्होंने 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में रजत जीता था.

 

साइना नेहवाल:

 India wins first-ever gold in Badminton team event

भारत की स्टार महिला बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल की बदौलत भारतीय बैडमिंटन मिक्स्ड टीम ने मलेशिया को 3-1 से हराकर कॉमनवेल्थ के इतिहास में पहली बार गोल्ड मेडल जीता है. भारत ने कैरारा स्पोर्ट्स एरेना में खेले गए फाइनल मैच में मलेशिया को मात देकर 10वें स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया. इस तरह भारत अब तक 10 स्वर्ण पदक, 4 रजत पदक और 5 कांस्य पदक के साथ मेडल्स टैली में तीसरे स्थान पर पहुंच गया है. वहीं इस टूर्नामेंट में ऑस्ट्रेलिया पहले और इंगलैंड दूसरे स्थान पर काबिज है.

 

जीतू राय:

 Jitu Rai claims Gold in 10m men's air pistol, Mitharva wins bronze

भारत के अनुभवी निशानेबाज जीतू राय ने 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में जारी 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में 09 अप्रैल 2018 को पांचवें दिन भारत को आठवां स्वर्ण पदक दिलाया. जीतू राय ने फाइनल में कुल 235.1 अंक हासिल किए. उन्होंने इसके साथ ही इस स्पर्धा का नया रिकॉर्ड भी कायम किया. मिथारवल ने 214.3 अंकों के साथ कांस्य पदक जीता.

CA eBook

 

मनिका बत्रा ने स्वर्ण पदक जीता


मनिका बत्रा ने सिंगस मुकाबलों में अपनी शानदार जीत के साथ भारत को कॉमनवेल्थ गेम्स में महिला टेबल टेनिस टीम इवेंट का स्वर्ण पदक दिला दिया. भारत ने फाइनल में चार बार के स्वर्ण पदक विजेता सिंगापुर को 3-1 से हराकर ऐतहासिक स्वर्ण पदक जीता. ये भारतीय महिला टेबल टेनिस टीम का कॉमनवेल्थ खेलो में सबसे अच्छा प्रदर्शन है. भारत अभी तक दूसरा देश है जिसने महिला टेबल टेनिस के टीम इवेंट में कॉमनवेल्थ गेम्स में स्वर्ण पदक जीता है.

इससे पहले वर्ष 2006 के मेलबर्न राष्ट्रमंडल खेलों में पुरुष टीम ने स्वर्ण जीता था. इन्होंने 2016 ग्रीष्मकालीन ओलम्पिक में भारत का प्रतिनिधित्व किया था.

 

यह भी पढ़ें: रोजर फेडरर 36 वर्ष की आयु में विश्व के नंबर वन टेनिस खिलाड़ी बने

मनु भाकर ने स्वर्ण पदक जीता

 Manu Bhaker claims gold in 10m women’s air pistol, Heena Sidhu wins silver

भारतीय शूटर मनु भाकर ने 21वें कॉमनवेल्थ खेलों में 10 मीटर एयर पिस्टल ईवेंट में स्वर्ण पदक जीता. मनु भाकर ने फाइनल में कुल 240.9 अंक हासिल कर भारत की झोली में छठा स्वर्ण पदक डाला. वहीं हीना सिद्धू ने शानदार वापसी करते हुए रजत पदक अपने नाम किया. दूसरे स्थान पर रही उनकी सीनियर हमवतन निशानेबाज हीना का स्कोर 234 रहा.

 

 

पूनम यादव

पूनम यादव ने महिला वेटलिफ्टिंग में कुल 222 किलोग्राम भार उठाकर गोल्ड मेडल पर कब्जा किया है. उन्होंने इंग्लैंड की सारा डेविस को पछाड़कर स्वर्ण पदक पर कब्जा किया. पूनम यादव से आगे निकलने के लिए सारा डेविस को आखिरी राउंड में कुल 128 किलोग्राम भार उठाना था, लेकिन उनके असफल प्रयास के चलते पूनम यादव ने स्वर्ण पदक पर कब्जा किया.

 

आर वेंकट राहुल

भारोत्तोलक आर वेंकट राहुल (85 किग्रा) ने 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में भारत को चौथा स्वर्ण पदक दिलाया. आर वेंकट राहुल ने करारा स्पोर्ट्स एरीना-1 में आयोजित इस स्पर्धा में स्नैच और क्लीन एंड जर्क में कुल 338 किलोग्राम का भार उठाकर सोना अपने नाम किया. इस स्पर्धा में सामोआ के डॉन ओपेलोगे को रजत पदक हासिल हुआ. उन्होंने कुल 331 किलो का भार उठाया. मलेशिया के मोहम्मद फाजरुल अजेरी मोहदाद को कांस्य पदक हासिल हुआ. मोहम्मद ने कुल 328 किलोग्राम का भार उठाया.

 

सतीश कुमार ने स्वर्ण पदक जीता

कॉमनवेल्थ गेम्स में भारतीय भारोत्तोलक सतीश कुमार शिवलिंगम ने 07 अप्रैल 2018 को 77 किग्रा कैटेगरी में स्वर्ण पदक जीता. उन्होंने 317 किलोग्राम (स्नैच में 144 किलोग्राम और क्लीन एंड जर्क 173 किलोग्राम) वजन उठाया. इंग्लैंड के जैक ओलिवर ने रजत पदक और ऑस्ट्रेलिया के फ्रांकोइस इटोनदी ने कांस्य पदक जीता.

 

संजीता चानू

कॉमनवेल्थ गेम्स 2018 में संजीता चानू ने भारत के लिए दूसरा स्वर्ण पदक जीता है. संजीता ने शुक्रवार को 53 किलोग्राम भार वर्ग में स्वर्ण पदक जीता. संजीता ने कुल 192 किलो भार उठाकर यह उपलब्धि हासिल की. पिछले गेम्स की चैंपियन पापुआ न्यू गिनी लाऊ दिका ताऊ ने 182 किलोग्राम (80 स्नैच और 102 क्लीन ऐंड जर्क) भार उठाकर सिल्वर और कनाडा की रेशल लेबनांक ने 181 किलोग्राम (81 स्नैच और 100 क्लीन ऐंड जर्क) भार उठाकर ब्रॉन्ज मेडल जीता

क्रम संख्या

देश

स्वर्ण पदक

रजत पदक

कांस्य पदक

कुल

1

ऑस्ट्रेलिया

80

59

59

198

2

इंग्लैंड

45

45

46

136

3

भारत

26

20

20

66

4

कनाडा

15

40

27

82

5

न्यूजीलैंड

15

16

15

46

 

मीराबाई चानू ने पहला स्वर्ण पदक जीता

विश्व चैंपियन मीराबाई चानू ने 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत को पहला स्वर्ण पदक दिलाया है. चानू ने महिलाओं के 48 किलोग्राम भार वर्ग में भारत को पदक दिलाया. स्नैच में उन्होंने 80किग्रा, 84किग्रा, 86किग्रा का भार उठाया. वहीं क्लीन ऐंड जर्क के पहले प्रयास में उन्होंने 103 किलोग्राम भार उठाया और दूसरे प्रयास में 107 किलोग्राम का भार उठाया और तीसरे प्रयास में 110 किलोग्राम भार उठाया.

कॉमनवेल्थ गेम्स वर्ष 2014 की तुलना में भारत:

कॉमनवेल्थ गेम्स वर्ष 2014 में, भारत ने 15 स्वर्ण पदक, 30 रजत पदक और 19 कांस्य पदक सहित कुल 64 पदक जीते थे. वर्ष 2018 में कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत ने 26 स्वर्ण पदक, 20 रजत पदक और 20 कांस्य पदक सहित कुल 66 पदक जीते. वर्ष 2018 में भारतीय एथलीटों ने वर्ष 2014 में हुए आयोजन की तुलना में बेहतर प्रदर्शन किया.

 

कॉमनवेल्थ गेम्स-2018

कॉमनवेल्थ गेम्स-2018 एक अंतरराष्ट्रीय बहु-खेल स्पर्धा है, जो कि 4 अप्रैल से 15 अप्रैल 2018 के मध्य गोल्ड कोस्ट, ऑस्ट्रेलिया में आयोजित किया जा रहा है. आस्ट्रेलिया इससे पहले चार बार राष्ट्रमंडल खेलों की मेजबानी कर चुका है. ऑस्ट्रेलिया ने आखिरी बार वर्ष 2006 में मेलबर्न में इन खेलों की मेजबानी की थी. आस्ट्रेलिया इसके अलावा वर्ष 1938 में सिडनी,  वर्ष 1962 में पर्थ और वर्ष 1982 में ब्रिसबेन में भी इन खेलों का आयोजन कर चुका है.

यह भी पढ़ें: लेटेस्ट करेंट अफेयर्स पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें


यह भी पढ़ें: कॉमनवेल्थ गेम्स 2018: करेंट अफेयर्स क्विज़