Search

T-शर्ट का इतिहास क्या है: इसके विकास के कौन-कौन से चरण हैं?

T-शर्ट एक ऐसा पहनावा है जिसको महिला और पुरुष बिना किसी भेदभाव के पूरे विश्व में पसंद करते हैं| इसका नाम T-शर्ट इसलिए पड़ा है क्योंकि यह मनुष्य के शरीर के उस हिस्से पर पहनी जाती है जो कि अंग्रेजी के अक्षर ‘T’ के सामान ही दिखता है | T-शर्ट की उत्पत्ति 19 वीं सदी में अंडरगारमेंट के रूप में हुई थी|
Jan 2, 2017 16:17 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon

T-शर्ट एक ऐसा पहनावा है जिसको महिला और पुरुष बिना किसी भेदभाव के पूरे विश्व में पसंद करते हैं| इसका नाम T-शर्ट इसलिए पड़ा है क्योंकि यह मनुष्य के शरीर के उस हिस्से पर पहनी जाती है जो कि अंग्रेजी के अक्षर ‘T’ के सामान ही दिखता है | T-शर्ट की उत्पत्ति 19 वीं सदी में अंडरगारमेंट के रूप में हुई थी|

T-शर्ट में कोई कालर नही होती है| यह हल्के, सस्ते और धुलने में आसान कपडे से बनायी जाती है| टी शर्ट की उत्पत्ति 19 वीं सदी में अंडरगारमेंट(सीधे शरीर पर पहने जाने वाले परिधान) के रूप में हुई थी| 20 वीं सदी में इसको अंडरगारमेंट की जगह केजुअल कपड़ों (casual clothing) में गिना जाने लगा था| शुरुआती दिनों में T-शर्ट का गला "O" आकार का होता था जिसको बाद में "V" आकार का भी बनाया गया जिससे कि जब T-शर्ट के ऊपर कोई शर्ट पहन ली जाये तो यह (टी-शर्ट) दिखायी न दे |

T-शर्ट का इतिहास

T-शर्ट की उत्पत्ति 19 वीं सदी में इस्तेमाल किये जाने वाले अंडरगारमेंट से हुई थी| T-शर्ट बनाने के लिए, सिर से पाँव तक इस्तेमाल किये जाने वाले एक अंडरगारमेंट को 2 भागों में काट दिया गया; जिसका ऊपर वाला भाग गर्दन से लेकर कमर तक आता था| ऊपर वाला भाग बटन सहित और बिना बटन का भी था | सबसे पहले इसका इस्तेमाल खदान में काम करने वाले मज़दूरों और ज़हाज़ से माल उतारने-चढ़ाने वाले मज़दूरों ने 19 वीं सदी के दौरान गर्म वातावरण से बचने के लिए किया था |

Jagranjosh

Image sourcre:wiki

बिना बटन वाले शर्ट अर्थात T-शर्ट पहनने की शुरूआत अमेरिकी सैनिकों द्वारा 1898 के स्पेनी-अमेरिकी युद्ध में और 1913 ईस्वी में किया गया था जब अमेरिकी नौसेना ने अपने सैनिकों को वर्दी के नीचे पहनने के लिए T-शर्ट देना प्रारंभ किया था| यह T-शर्ट बंद गला और छोटी बाजू वाला सफेद सूती पहनावा था जिसे वर्दी के नीचे पहना जाता था| उस समय के नाविक तथा पनडुब्बियों पर काम करने वाले मजदूर उष्णकटिबंधीय मौसम (tropical climates) में अपना वर्दी उतारकर केवल T-शर्ट पहनकर ही काम किया करते थे|

जानिये विश्व में किस किस तरीके से नया साल मनाया जाता है?

(1944 में अमेरिका का मरीन नाविक T-शर्ट पहनकर काम करता हुआ)

Jagranjosh

Image sourcre:wiki

जल्दी ही यह पहनावा कृषि सहित कई क्षेत्रों के मजदूरों में प्रचलित हो गया | यह T-शर्ट, पहनने में आसान, धुलने में आसान, कम कीमत आदि कारणों से नई उम्र में लकड़ों के बीच बहुत ही प्रचलित हो गई | लड़कों की 'T-शर्ट' को विभिन्न रंगों और पैटर्न में भी बनाया जाने लगा| T-शर्ट शब्द 1920 के दशक से अमेरिकी अंग्रेजी का हिस्सा बन गया, और मरियम वेबस्टर शब्दकोश में जोड़ दिया गया

सन 1930 की मंदी के समय टी-शर्ट, खेतों में काम करने वाले मजदूरों के लिए पसंदीदा परिधान बन गया था | द्वितीय विश्व युद्ध के बाद दिग्गज व्यक्तियों द्वारा अपनी ड्रेस के बाद T-शर्ट पहनना एक फैशन सा बन गया था| 1950 के दशक में T-शर्ट और भी अधिक लोकप्रिय बन गया; खासकर बच्चों ने इस परिधान में खेलते और काम करते हुए इसे एक सामान्य फैशन के रूप में स्थापित कर दिया था| 1960 के दशक में छपी T-शर्ट (printed T-shirts) को अपनी बात कहने लिए, विज्ञापन, विरोध, और स्मृति चिन्ह के रूप में पहनने की प्रथा ने काफी जोर पकड़ा |

(टी शर्ट के माध्यम से सरकार के फैसलों का विरोध)

Jagranjosh

Image sourcre:Clothes2Order Printing Blog

T-शर्ट के विकास के शुरूआती दिनों में इसे सबसे अन्दर पहना जाता था लेकिन आजकल यह एक फैशन के रूप में सबसे ऊपर पहनी जाती है| अब तो इसे हर वर्ग, समाज और उम्र के लोग पहनना पसंद करते हैं| आजकल कई बड़ी कम्पनियाँ केवल T-शर्ट को रंगकर या किसी मेसेज को फ़ैलाने के लिए बहुत बड़ी मात्रा में T-शर्ट का उत्पादन कर लाभ कम रहीं हैं |

भारतीय पुलिस अधिकारियों की रैंक एवं उनके बैज की सूची