इमरान के कार्यकाल में हुआ पाक मुद्रा का उच्चतम अवमूल्यन

विशेषज्ञों का यह कहना है कि PTI सरकार के तहत मुद्रा के इस बड़े पैमाने पर अवमूल्यन ने मुद्रास्फीति के दबाव को काफी बढ़ा दिया है और जिसमें दो प्रमुख कारकों ने अपना योगदान दिया है.

One of the highest devaluations of Pak currency in Imran’s tenure
One of the highest devaluations of Pak currency in Imran’s tenure

पाकिस्तान के मौजूदा प्रधानमंत्री इमरान खान के नेतृत्व वाली पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) की सरकार के तहत. पिछले तीन वर्षों और चार महीनों में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले पाकिस्तानी रुपये का मूल्य 30.5 प्रतिशत तक गिर गया है.

पाक मुद्रा का उच्चतम अवमूल्यन: अवलोकन

द न्यूज के हवाले से, पाकिस्तानी रुपये में अगस्त, 2018 में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 123 रुपये से दिसंबर, 2021 में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 177 रुपये की भारी गिरावट देखी गई, जो पिछले 40 महीनों में 30.5 प्रतिशत की गिरावट है.

यह गिरावट देश के इतिहास में मुद्रा के उच्चतम अवमूल्यन में से एक है. उक्त रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि, केवल अन्य उच्च अवमूल्यन तब हुआ जब वर्ष, 1971-72 में ढाका पाकिस्तान के हाथ से निकल गया था और उस समय अमेरिकी डॉलर के मुकाबले पाकिस्तान की मुद्रा 58 प्रतिशत तक गिरकर 4.60 रुपये से 11.10 रुपये हो गई थी.

विशेषज्ञों का यह कहना है कि PTI सरकार के तहत मुद्रा के इस बड़े पैमाने पर अवमूल्यन ने मुद्रास्फीति के दबाव को काफी बढ़ा दिया है और जिसमें दो प्रमुख कारकों ने अपना योगदान दिया है.

चीन की बेल्ट एंड रोड पॉलिसी को टक्कर देने के लिए यूरोपीय संघ ने बनाई निवेश योजना

पहला, खाद्य और वस्तुओं की कीमतों के साथ-साथ अंतर्राष्ट्रीय बाजार में ईंधन की कीमतें आसमान छू गईं, और दूसरा, विनिमय दर में 30.5 प्रतिशत की गिरावट ने भी पाकिस्तान में उच्च मुद्रास्फीति को जन्म दिया है.

उक्त रिपोर्ट में आगे यह कहा गया है कि, अमेरिकी डॉलर बनाम क्षेत्रीय मुद्राओं के विश्लेषण से यह पता चलता है कि, पाकिस्तानी मुद्रा में अन्य मुद्राओं की तुलना में भारी मूल्यह्रास देखा गया है.

अमेरिकी डॉलर के मुकाबले अन्य क्षेत्रीय मुद्राओं का मूल्य

अमेरिकी डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपया 75.39 पर रहा. भारतीय रुपया वर्ष, 2018 में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 70.09 रुपये, दिसंबर, 2019 में 73.66 रुपये, मार्च, 2020 में 74.53 रुपये और अप्रैल, 2021 में 74.57 रुपये पर था.

बांग्लादेश के मामले में, इस अवधि में बांग्लादेशी टका अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 85.76 पर स्थिर था और यह पिछले दो वर्षों में औसतन 84 से 85.9 के आसपास रहा है.

इस बीच, पाकिस्तानी रुपया मूल्य में गिरावट जारी रही और दिसंबर, 2021 में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले यह गिरावट 177 रुपये दर्ज की गई. पाकिस्तानी रुपया  पिछले तीन वर्षों और चार महीनों में एक डॉलर के मुकाबले 123 रुपये से 177 रुपये तक तेजी से गिर गया.

पहली बार पाकिस्तान का कर्ज और देनदारियां हुए PKR 50 ट्रिलियन के पार

Take Weekly Tests on app for exam prep and compete with others. Download Current Affairs and GK app

एग्जाम की तैयारी के लिए ऐप पर वीकली टेस्ट लें और दूसरों के साथ प्रतिस्पर्धा करें। डाउनलोड करें करेंट अफेयर्स ऐप

AndroidIOS
Read the latest Current Affairs updates and download the Monthly Current Affairs PDF for UPSC, SSC, Banking and all Govt & State level Competitive exams here.
Jagran Play
खेलें हर किस्म के रोमांच से भरपूर गेम्स सिर्फ़ जागरण प्ले पर
Jagran PlayJagran PlayJagran PlayJagran Play