Search

विश्व व्यापार संगठन (WTO)

विश्व व्यापार संगठन (WTO), अनेक देशों के बीच व्यापार के नियमों के सन्दर्भ में एक संगठन है जोकि उनके मध्य के अनेक व्यापारिक गतिविधियों को अंजाम देने में न केवल मदद करता है बल्कि व्यापारिक कार्यक्रमों के संदर्भ में अनेक गतिविधीयों को अंजाम देता है| यह विश्व के देशों के बीच एक व्यापार के सन्दर्भ में वैश्विक अंतरराष्ट्रीय संगठन है|
Sep 12, 2017 05:50 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon

विश्व व्यापार संगठन क्या है?

विश्व व्यापार संगठन (WTO), अनेक देशों के बीच व्यापार के नियमों के सन्दर्भ में एक संगठन है जोकि उनके मध्य के अनेक व्यापारिक गतिविधियों को अंजाम देने में न केवल मदद करता है बल्कि व्यापारिक कार्यक्रमों के संदर्भ में अनेक गतिविधीयों को अंजाम देता है| यह विश्व के देशों के बीच एक व्यापार के सन्दर्भ में वैश्विक अंतरराष्ट्रीय संगठन है| यह समझौतों के माध्यम से अपनी व्यापारिक गतिविधियों को सम्पादित करता है जोकि इन्हीं देशों के सामूहिक हस्ताक्षर के द्वारा प्रकाश में आये हुए रहते हैं| इस संस्था में लागू किये जाने वाले क़ानून उन देशों की सांसदों में पारित किये हुए रहते हैं| इस संस्था का मूल उद्देश्य व्यवसायिक गतिविधियों को अंजाम देने,माल और सेवाओं के आयात करने, आयातकों और निर्यातकों को अनेक सुविधाएं देने आदि के सन्दर्भ में अनेक सुविधायें उपलब्ध कराना है.

World Trade Organization

विश्व बैक : कार्य, उद्देश्य और भारत से सम्बन्ध

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ): उद्देश्य और दायित्व

विश्व व्यापार संगठन के कार्य:-

विश्व व्यापार संगठन के कुछ महत्वपूर्ण कार्यों का उल्लेख निम्नलिखित प्रकार से किया जा सकता है|
1. यह विश्व व्यापार समझौता एवं बहुपक्षीय तथा बहुवचनीय समझौतों के कार्यन्वयन,प्रशासन एवं परिचाल हेतु सुबिधाएं प्रदान करता है|

2. व्यापार और प्रशुल्क से सम्बंधित किसी भी भावी मसाले पर सदस्यों के बीच विचार-विमर्श हेतु एक मंच के रूप में कार्य करता हैं|

3. विवादों के निपटारे से सम्बंधित नियमों एवं प्रक्रियाओं को प्रशासित करता है|

4. वैश्विक आर्थिक निति निर्माण में अधिक सामंजस्य भाव लाने ले लिए अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष एवं विश्व वैंक से सहयोग करता है|

विश्व व्यापार संगठन: संरचना, कार्य और उद्देश्य

विश्व व्यापार संगठन की सदस्यता और मुख्यालय- 

विश्व व्यापार संगठन (World Trade Organisation), एक ऐसा विश्व स्तरीय संगठन है जो विश्व व्यापार के लिये दिशा निर्देशों को जारी करता है और सदस्य देशों को जरुरत के मुताबिक ॠण उपलब्ध कराता है | यह नए व्यापार समझौतों में बदलाव और उन्हें लागू कराने के लिए उत्तरदायी है| भारत इसका एक संस्थापक सदस्य देश है| र्तमान में इसके 164 सदस्य हैं। चीन इसमें 2001 में शामिल हुआ था |

wto head quarter

डब्ल्यूटीओ की सबसे बड़ी संस्था मंत्रिस्तरीय सम्मेलन (मिनिस्ट्रयल कॉन्फ्रेंस) है, यह प्रत्येक दो वर्ष में अन्य कार्यों के साथ संस्था के महासचिव और मुख्य प्रबंधकर्ता का चुनाव करती है| साथ ही वह सामान्य परिषद (जनरल काउंसिल) का काम भी देखती है| सामान्य परिषद विभिन्न देशों के राजनयिकों से मिल कर बनती है जो प्रतिदिन के कामों को देखती है| डब्लयूटीओ का मुख्यालय जेनेवा, स्विट्जरलैंड में है। इसके वर्तमान महानिदेशक (Director-General) राबर्ट एज्बेड़ो हैं, जबकि विश्व बैंक समूह के अध्यक्ष, जिम योंग किम हैं | अब तक इसके 10 मंत्रिस्तरीय सम्मेलन (मिनिस्ट्रियल कॉन्फ्रेंस) हो चुके हैं | 10 वां सम्मलेन केन्या में दिसम्बर 2015 में हुआ था, इसी बैठक में अफगानिस्तान को इसका 164 वां सदस्य चुना गया था |

अंतरराष्ट्रीय वित्त निगम और मीगा (MIGA): कार्य और उद्येश्य

भारतीय अर्थव्यवस्था पर क्विज हल करने के लिए यहाँ क्लिक करें ...