जानें किन देशों में GST की दर भारत से ज्यादा या कम हैं

जीएसटी (GST) को गुड्स एंड सर्विस टैक्स भी कहते है. यह 1 जुलाई से पूरे देश में लागू हो चुका है. इसके लागु होने से अब हर समान और हर सेवा पर सिर्फ एक टैक्स लगेगा यानी वैट, एक्साइज और सर्विस टैक्स की जगह एक ही टैक्स लगेगा. इस लेख के माध्यम से जीएसटी किन देशों में लागू किया गया है और वह भारत से ज्यादा है या कम के बारे में अध्ययन करेंगे.
Updated: Oct 24, 2017 03:33 IST

जीएसटी (GST) को गुड्स एंड सर्विस टैक्स भी कहते है. यह केंद्र और राज्यों द्वारा लगाए गए 20 से अधिक अप्रत्यक्ष करों के एवज में लगाया गया है. जीएसटी (GST) 1 जुलाई से पूरे देश में लागू हो चुका है. क्या आप जानते हैं कि जीएसटी (GST) लगने के बाद कई सेवाओं और वस्तुओं पर लगने वाले टैक्स समाप्त हो जाएंगे.

GST
Source: www.images.indianexpress.com
जीएसटी (GST) के लागु होने से अब हर समान और हर सेवा पर सिर्फ एक टैक्स लगेगा यानी वैट, एक्साइज और सर्विस टैक्स की जगह एक ही टैक्स लगेगा. इससे पुरे देश में सब लोगों को एक ही टैक्स चुकाना होगा और किसी भी समान की कीमत एक ही रहेगी और साथ ही राज्यों को मिलने वाला वैट, मनोरंजन कर, लक्जरी टैक्स, लौटरी टैक्स, एंट्री टैक्स, चुंगी टैक्स आदि सब ख़त्म हो जाएगा. दुनिया भर में टैक्स की दर की तुलना करना कठिन है. अधिकांश देशों में टैक्स का कानून अत्यंत जटिल हैं, और प्रत्येक देश और उप-राष्ट्रीय इकाई में अलग-अलग समूहों पर टैक्स का बोझ अलग-अलग हो जाता है. नीचे उन देशों की सूची दी जा रहीं है जिससे ये पता चल जाएगा कि किन देशों में जीएसटी (GST) की दर भारत से ज्यादा एवं किन देशों में कम हैं.

GST के फायदे और नुकसान: एक विश्लेषण
किन देशों का जीएसटी (GST) दर भारत से ज्यादा या कम है

GST-in-other-countries
Source: www. i1.wp.com
1. फ्रांस (France)
जीएसटी (GST) - 20%, 10% (रेस्तरां, परिवहन, पर्यटन), 5.5% (उपयोगिताओं utilities), 2.1% (प्रेस)
यह पहला देश है जिसने जीएसटी लागू किया था.
2. कनाडा (Canada)
जीएसटी (GST) – 13% – 15%
5% (संघीय जीएसटी) + 5% -15% (प्रांतीय कर)
3. न्यूज़ीलैण्ड (New Zealand)
जीएसटी (GST) -  15%
1 अक्तूबर 1986 तक जीएसटी (GST) 10 % था पर 1 अक्तूबर 2010 से इसको भड़ाकर 15% कर दिया गया था.
4. ऑस्ट्रेलिया (Australia)
जीएसटी (GST) – 10%
जीएसटी ऑस्ट्रेलिया में 10% की दर से लागू किया गया था.
5. मलेशिया (Malaysia)
जीएसटी (GST) – 6%
2015 में मलेशिया में जीएसटी 6% की दर से लागु हुआ था.
6.यू.के (UK)
जीएसटी (GST) – 20%
घर ऊर्जा और पुनर्निर्माण के लिए 5% कम दर; जीवन की आवश्यकताओं के लिए 0% शून्य दर - किराने का सामान, पानी, दवाएं, चिकित्सा उपकरण और आपूर्ति, सार्वजनिक परिवहन, बच्चों के कपड़े, किताबें और पत्रिकाएं
7. युक्रेन (Ukraine)
जीएसटी (GST) – 20%

gst-rate-asean-countries
Source: www.uploads.kinibiz.com

GST 2017: सबसे सस्ती वस्तुओं की सूची
8. टर्की (Turkey)
जीएसटी (GST) – 18%
8% (कपड़ों पर) या 1% (कुछ खाने के पदार्थों पर)
9. वियतनाम (Vietnam)
जीएसटी (GST) – 10%
10. सिंगापुर (Singapore)
जीएसटी (GST) – 7%
जीएसटी 1 अप्रैल 1994 को 3% की दर से लागू हुआ था, लेकिन जुलाई 2007 में जीएसटी में 7% की वृद्धि की गई थी.
11. स्वीडन (Sweden)
 जीएसटी (GST) – 25%
 भोजन और सेवाओं जैसे होटल के कमरे के किराये (12%), स्वीडन  में सांस्कृतिक कार्यक्रमों और यात्रा के लिए प्रवेश टिकट (6%)
12. जापान (Japan)
जीएसटी (GST) – 8%
13. जर्मनी (Germany)
जीएसटी (GST) – 19%, 7% (खाद्य पदार्थों पर)
14. भारत (India)
जीएसटी (GST) – 0- 28%
लगभग 1211 वस्तुओं और सेवाओं पर जीएसटी 0% से 28% की विविधता के साथ लागु हुआ है.
वर्तमान में लगभग 140 देशों ने जीएसटी लागू किया है जिनमें dual जीएसटी मॉडल वाले देश (जैसे ब्राजील, कनाडा आदि) भी शामिल हैं. भारत ने dual जीएसटी के कैनेडियन मॉडल को चुना है. ऊपर दिए गए डाटा से पता चलता है कि भारत में जीएसटी (GST) का दर अन्य देशों से अधिक है. भारत में लगभग 60% वस्तुएं एवं सेवा 18% या 28% टैक्स स्लैब के अंतर्गत आती हैं, ऐसा इसलिए सुनिश्चित किया गया है ताकि राज्य और केन्द्र सरकार द्वारा अर्जित राजस्व बरकरार रहे. अनाज और दूध को कर मुक्त रखा गया हैं, जबकि शैंपू, डियोड्रेन्ट जैसी चीजें वस्तुओं पर कर की दर 28% है.

वस्तु एवं सेवा कर (GST) के फायदे हैं और इसको लागू करने में चुनौतियाँ

Get the latest General Knowledge and Current Affairs from all over India and world for all competitive exams.
Comment (0)

Post Comment

4 + 0 =
Post
Disclaimer: Comments will be moderated by Jagranjosh editorial team. Comments that are abusive, personal, incendiary or irrelevant will not be published. Please use a genuine email ID and provide your name, to avoid rejection.