1. Home
  2. Hindi
  3. Lionel Messi: एडटेक बायजू की 'एजुकेशन फॉर ऑल' पहल के ग्लोबल एम्बेसडर बने लियोनेल मेसी

Lionel Messi: एडटेक बायजू की 'एजुकेशन फॉर ऑल' पहल के ग्लोबल एम्बेसडर बने लियोनेल मेसी

Lionel Messi: भारत की प्रमुख एडटेक बायजू ने फेमस फुटबॉलर लियोनेल मेसी को 'एजुकेशन फॉर ऑल' (Education For All) का ग्लोबल एम्बेसडर नियुक्त किया है. 'एजुकेशन फॉर ऑल' बायजू की एक सोशल इम्पैक्ट पहल है. जानें इसके बारें में

बायजू की 'एजुकेशन फॉर ऑल' पहल के ग्लोबल एम्बेसडर बने लियोनेल मेसी
बायजू की 'एजुकेशन फॉर ऑल' पहल के ग्लोबल एम्बेसडर बने लियोनेल मेसी

Lionel Messi: भारत की प्रमुख एडटेक बायजू (Byju's) ने फेमस फुटबॉलर लियोनेल मेसी को 'एजुकेशन फॉर ऑल' (Education For All) का ग्लोबल एम्बेसडर नियुक्त किया है. 'एजुकेशन फॉर ऑल' बायजू की एक सोशल इम्पैक्ट ब्रांच है. लियोनेल मेसी अर्जेंटीना फुटबॉल टीम के कप्तान है और फ्रेंच क्लब पेरिस सेंट-जर्मेन के लिए खेलते हैं.

बायजू ने मेसी को क्यों चुना?

एडटेक बायजू का लक्ष्य खुद को ग्लोबल लेवल पर पहचान दिलाना है और एक ग्लोबल एडटेक के रूप में खुद को स्थापित करना है. जिस कड़ी में यह फैसला लिया गया है. लियोनेल मेसी एक फेमस स्पोर्टस् प्लेयर है जिनकी फैन फॉलोइंग विश्व में काफी अधिक है जिस कारण बायजू ने उन्हें चुना. 

अभी हाल के कुछ समय में अपनी ग्लोबल फुटप्रिंट को मजबूत करते हुए बायजू ने फीफा विश्व कप 2022 के ऑफिसियल स्पोंसर के लिए करार किया था. 450 मिलियन से अधिक के मेसी के सोशल मीडिया फैनबेस की मदद से बायजू अपने एजुकेशन फॉर ऑल पहल को आगे बढ़ाना चाहता है.

बायजू ने कहा कि मेसी एक आइडियल मेंटर के रूप में इस पहल को सपोर्ट करेंगे. वह इस पहल की मदद से अपने अनुभव को बच्चों के साथ शेयर करेंगे जिससे बच्चों में खेल सहित एजुकेशन के क्षेत्र में आगे बढ़ने में मदद मिलेगी.

क्या है 'एजुकेशन फॉर ऑल' पहल?

'एजुकेशन फॉर ऑल' पहल बायजू की एक एजुकेशन पहल है जिसकी मदद से बायजू भारत में शिक्षा से वंचित बच्चों को पढ़ाई की मुख्य धारा में लाना चाहता है. इसके तहत बायजू डिजिटल लर्निंग को बढ़ावा देने के लिए एनजीओ से भी करार किया है. इस पहल की पहुँच आज इंडिया के 167 से अधिक डिस्ट्रिक्ट तक है.

'एजुकेशन फॉर ऑल' पहल का उद्देश्य:

बायजू इस पहल के लिए 110 एनजीओ भागीदारों के साथ हाथ मिलाया है और इसकी हेल्प से देश के 26 स्टेट तक इस पहल को पहुँचाया है. इसकी मदद से आज 3.4 मिलियन से अधिक बच्चों की एजुकेशन के सपने को साकार किया जा रहा है. साथ ही बायजू ने लक्ष्य रखा है कि इस पहल को वर्ष 2025 तक 10 मिलियन बच्चों तक पहुँचाया जाये.        

बायजू के अनुसार, इस पहल में आप भी मदद कर सकते है इसके तहत आप कोई पुराना डिजिटल गेजेट्स दान कर सकते है या फिर इससे जुड़े एनजीओ में भी दान कर सकते है जिसका उपयोग बायजू डिजिटल लर्निंग को आगे बढ़ाने में करेगा.     

ग्लोबल एम्बेसडर बनने पर मेसी ने क्या कहा?

'एजुकेशन फॉर ऑल' पहल से जुड़ने के बाद मेसी ने कहा कि ''मैं बायजू के साथ इसलिए जुड़ा क्योंकि सीखने के साथ सभी को प्यार करने का उनका मिशन मेरे मूल्यों के साथ पूरी तरह से मिलता है, हाई क्वालिटी एजुकेशन जीवन को बदल देती है और बायजू ने दुनिया भर में लाखों छात्रों के करियर को बदला है. मुझे उम्मीद है कि मैं यंग स्टूडेंट्स को टॉप पर बने रहने के लिए प्रेरित करूंगा''.      

बायजू के बारें में:

 बायजू भारत की एक प्रमुख एडटेक कंपनी है जिसकी स्थापना वर्ष 2011 में की गयी थी जिसका मुख्यालय बंगलुरु में स्थित है. बायजू की स्थापना बायजू रवींद्रन और दिव्या गोकुलनाथ ने की थी. बायजू के अनुसार उसके पास 115 मिलियन से अधिक रजिस्टर्ड स्टूडेंट्स है. बायजू ने देश की कई एडटेक कंपनी को टेकओवर किया है जिसमे आकाश, एपिक आदि प्रमुख है.    

इसे भी पढ़े

बेंजामिन नेतन्याहू होंगे इजरायल के अगले प्रधानमंत्री, जानें उनके बारें में