Search

स्वर्ण मंदिर के बारे में 7 रोचक तथ्य

स्वर्ण मंदिर हरमंदिर साहिब या श्री दरबार साहिब के नाम से भी जाना जाता है.सिखों के पांचवें गुरु अर्जनदेव ने स्वर्ण मंदिर का निर्माण कार्य पंजाब के अमृतसर में शुरू कराया था, जो कि भारत में पंजाब में स्तिथ हैं. इस लेख में स्वर्ण मंदिर के बारे में कुछ रोचक तथ्यों पर अध्ययन करेंगे
Jun 12, 2017 12:53 IST
facebook Iconfacebook Iconfacebook Icon

स्वर्ण मंदिर सिख धर्म का मुख्य तीर्थस्थल है. यह हरमंदिर साहिब या श्री दरबार साहिब के नाम से भी जाना जाता है, इस गुरुद्वारे में केवल सिख धर्म के लोग ही नही बल्कि दुनिया भर के लाखो श्रद्धालु आते है. यह सुन्दर गुरुद्वारा अमृतसर के बीच में स्थापित है और इस पर सोने की परत होने के कारण लोग आकर्षित होते हैं.

Golden-Temple-Amritsar
Source: www.im.hunt.in.com
पंजाब के अमृतसर में सिखों के पांचवें गुरु अर्जनदेव ने स्वर्ण मंदिर का निर्माण कार्य शुरू कराया था, जो कि भारत में पंजाब में स्तिथ हैं. यह आज भारत के मुख्य पर्यटक स्थलों में से एक है. इसे "अथ सत तीरथ" के नाम से भी जाना जाता है. इस लेख में स्वर्ण मंदिर के बारे में कुछ रोचक तथ्यों पर अध्ययन करेंगे.
स्वर्ण मंदिर के बारे में 7 रोचक तथ्य
1. स्वर्ण मंदिर की नींव सूफी संत मियां मीर द्वारा रखी गई थी. इसको बनाने का सपना तीसरे सिख गुरु अमर दास का था. लेकिन इसका मुख्य कार्य और डिज़ाइन पांचवें सिख गुरु अर्जनदेव ने शुरू कराया था और धार्मिक मान्यताओ के अनुसार स्वर्ण मंदिर के अंदर सिख धर्म का प्राचीन इतिहास भी बताया गया है.

Guru-Arjan-Dev-contructed-Golden-Temple

गुरू अर्जुन देव से जुड़े 10 रोचक तथ्य
इस मंदिर को अकाल तख़्त पर स्थापित किया गया है. जब यह मंदिर बना था तब इस पर सोने की परत नहीं थी. पंजाब के राजा महाराजा रणजीत सिंह ने 19वी शताब्दी में पंजाब को बाहरी आक्रमणों से बचाया और इसका पुनरुद्धार करवाया जिसमें गुरूद्वारे के ऊपरी भाग को सोने से ढक दिया और इसकी सुन्दरता को सबसे अलग बना दिया.
2. स्वर्ण मंदिर बनने से पहले सिखों के प्रथम गुरु, गुरु नानक ने इस जगह पर ध्यान किया था. इसमें चार मुख्य द्वार है, जो कि चारों दिशाओं में खुलते हैं. इन चार दिशाओं में दरवाजों का मतलब है की कोई भी किसी भी धर्म का इंसान इस मंदिर में आ सकता है. करीबन 35 प्रतिशत पर्यटक सिख के अलावा अन्य धर्मों से यहाँ आते हैं. क्या आप जानते हैं कि 1 लाख से ज्यादा लोग हर रोज़ स्वर्ण मंदिर में भक्ति-आराधना करने के उद्देश्य से आते है.

Golden-Temple-visit-people
Source: www. tribuneindia.com
3. स्वर्ण मंदिर को अमृत सरोवर के बीच में बनाया गया है, इस सरोवर को सबसे पवित्र सरोवर भी माना जाता है. सिख धर्म का सबसे पवित्र ग्रंथ गुरु ग्रंथ साहिब सबसे पहले स्वर्ण मन्दिर में ही स्थापित किया गया था. इस मंदिर का मुख्य हॉल गुरु ग्रंथ साहिब का घर था.

Amrit-Sarovar-Golden-Temple
Source: www.s2.firstpost.in.com

जानें कैलाश पर्वत से जुड़े 9 रोचक तथ्य
4. सबसे रोचक बात इस मंदिर की यह है कि यह सफ़ेद मार्बल से बना हुआ है, जिसे असली सोने से ढका गया है और इसी वजह से इसे स्वर्ण मंदिर कहा जाता है. इसमें सिख धर्म की प्राचीन ऐतिहासिक वस्तुओ का प्रदर्शन भी किया गया है, जिसे देश-विदेश से आये करोडो लोग देखते है.

marvelous-handwork-on-golden-temple
Source: www.l7.alamy.com
5. एक और अनोखी बात इस मंदिर की यह है कि यहाँ पर सीढ़ियाँ अन्य तीर्थस्थलों की तरह ऊपर की और नहीं जाती है बल्कि नीचे की तरफ उतरती हैं. सम्पूर्ण मंदिर शहर के समतल से नीचे की ओर बना हुआ है। इसकी बनावट भी काफी अलग है, यहा पर चित्रों को हाथ से पेंट किया गया है और कलाकृतियां भी काफी अलग है जो कि मुगल और भारतीय वास्तुकला को दर्शाती है.

Entrance_to_Golden_Temple

दिल्ली के अक्षरधाम मंदिर के बारे में 10 आश्चर्यजनक तथ्य
6. सबसे अलग बात इस मंदिर की यह है कि यहा पर दुनिया का सबसे बड़ा किचन है जहां प्रतिदिन तकरीबन 1 लाख से अधिक लोगों को निशुल्क भोजन कराया जाता है। इस भोजन को लंगर कहते हैं, जो कि प्रसाद की तरह से ग्रहण किया जाता हैं.

Kitchen-Golden-Temple
7. स्वर्ण मंदिर में भव्य कार्यक्रम विभिन्न त्यौहारों पर होते हैं जैसे कि शहीदी दिवस, प्रकाशोत्सव, लोहड़ी, बैसाखी, संक्रांति, दिवाली आदि. इस मंदिर के परिसर में जाने से पहले कुछ नियमों का पालन भी करना होता है, जैसे कि जूतों को बहार निकालना, मंदिर के अंदर धूम्रपान, मदिरा पान आदि ना करना, मंदिर में जाने से पहले सर ढंका होना चाहिए, जिसके लिए विशेष रूप से कपड़ा प्रदान किया जाता हैं और दरबार साहिब के अंदर गुरुवाणी को सुनने के लिए जमीन पर ही बैठना चाहिए.

guru-granth-sahib-golden-temple

Source: www. files.ctctcdn.com

इस लेख से हमें स्वर्ण मंदिर के बारे में काफी रोचक तथ्य साथ ही उसके इतिहास के बारे में भी जानकारी मिलती हैं.

दुनिया के 15 अद्भुत प्राकृतिक चमत्कार