1. Home
  2. Hindi
  3. भारत की तीन साइट्स यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज की टेंटेटिव लिस्ट में शामिल, जानें किसको दिया गया स्थान

भारत की तीन साइट्स यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज की टेंटेटिव लिस्ट में शामिल, जानें किसको दिया गया स्थान

भारत के तीन ऐतिहासिक साइट्स को हाल ही में यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज की टेंटेटिव (संभावित) लिस्ट में शामिल किया गया है. केंद्रीय संस्कृति मंत्री जी किशन रेड्डी ने इसके बारें में जानकारी देते हुए इन तीनों स्थलों की तस्वीरें साझा की है. इसमें पीएम मोदी का गृहनगर वडनगर भी है शामिल.    

भारत की तीन साइट्स यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज की टेंटेटिव लिस्ट में शामिल
भारत की तीन साइट्स यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज की टेंटेटिव लिस्ट में शामिल

World Heritage Sites: भारत के तीन ऐतिहासिक साइट्स को हाल ही में यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज की टेंटेटिव (संभावित) लिस्ट में शामिल किया गया है. जिसमें मोढेरा, गुजरात में स्थित प्रतिष्ठित मोढेरा सूर्य मंदिर, गुजरात के ही ऐतिहासिक वडनगर और त्रिपुरा में उनाकोटि की रॉक-कट मूर्तियों की रेंज शामिल है.

यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज की टेंटेटिव लिस्ट में उन साइट्स को स्थान देती है, जिसे वह देश यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज के लिए नॉमिनेट करना चाहता है. 

केंद्रीय संस्कृति मंत्री जी किशन रेड्डी ने इसके बारें में जानकारी देते हुए इन तीनों स्थलों की तस्वीरें साझा की. भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (ASI) ने भी इस बारें में एक ट्वीट के माध्यम से जानकारी दी है.    

मोढेरा सूर्य मंदिर के बारें में:

गुजरात में स्थित मोढेरा का सूर्य मंदिर मध्यकालीन मंदिर कला और भारत की वास्तुकला का एक उत्कृष्ट उदाहरण है. यह सूर्य मंदिर पुष्पावती नदी के पश्चिम में स्थित है, जो संभवत: 1026-27 ई. में चालुक्य राजा भीम प्रथम (1022-1063 ई.) के शासन काल में बनवाया गया था. 

वडनगर गुजरात:

वडनगर, गुजरात का एक ऐतिहासिक स्थल है, जो मेहसाणा जिले में स्थित है. वडनगर का इतिहास लगभग 8वीं शताब्दी पुराना है. यहाँ बहुत सी ऐतिहासिक इमारतें और धार्मिक स्थल है. इन स्थलों को मान्यता देने के लिए इसे यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज की टेंटेटिव लिस्ट में शामिल किया गया है. साथ ही यह पीएम मोदी का गृह नगर भी है.

उनाकोटि की रॉक-कट रेंज साइट्स:

उनाकोटि की रॉक-कट रेंज, त्रिपुरा के उत्तर-पूर्वी भाग में स्थित है. उनाकोटि को शैव पूजा से जुड़े एक प्राचीन पवित्र स्थान के रूप में जाना जाता है. यह साइट मानव रचनात्मक प्रतिभा का एक उत्कृष्ट उदहारण है.   

भारत में यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज साइट:

भारत में इस समय कुल 40 यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज साइट्स हैं. जिनमे 32 कल्चरल साइट्स, 07 नेचुरल साइट्स और 01 मिक्स्ड साइट शामिल है. साथ ही भारत में यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज की टेंटेटिव लिस्ट में 52 साइट्स को अब तक शामिल किया गया है.

यूनेस्को इस लिस्ट में देश-दुनिया के उन साइट्स को स्थान डेता है जिनका विशेष सांस्कृतिक, ऐतिहासिक या भौतिक महत्व महत्व होता है.    

पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा:

यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज साइट्स के साथ वर्ल्ड हेरिटेज की टेंटेटिव लिस्ट में शामिल हो रहे ऐतिहासिक स्थलों से देश में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा साथ ही भारत की धरोहर के रूप में इन स्थलों को संरक्षण भी प्राप्त होता है. 

यूनेस्को:

यूनेस्को की स्थापना वर्ष 16 नवम्बर 1945 में की गयी थी. इसका उद्देश्य शिक्षा, कला, विज्ञान और संस्कृति में अंतर्राष्ट्रीय सहयोग के माध्यम से विश्व शांति और सुरक्षा को बढ़ावा देना है. इसका मुख्यालय पेरिस, फ्रांस में स्थित है. 

इसे भी पढ़े:

डिजिटल इंडिया अवार्ड्स 2022 में 'स्मार्ट सिटीज मिशन' ने जीता प्लेटिनम आइकन