1. Home
  2. Hindi
  3. Credit Cards on UPI: ‘रेजरपे’ UPI पर क्रेडिट-कार्ड को सपोर्ट करने वाला भारत का पहला पेमेंट गेटवे बना

Credit Cards on UPI: ‘रेजरपे’ UPI पर क्रेडिट-कार्ड को सपोर्ट करने वाला भारत का पहला पेमेंट गेटवे बना

Credit Cards on UPI: भारत के अग्रणी फुल-स्टैक पेमेंट एंड बैंकिंग प्लेटफ़ॉर्म रेजरपे (Razorpay) ने यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (UPI) पर क्रेडिट कार्ड से लेनदेन की घोषणा की है. इस लॉन्च के साथ रेजरपे यूपीआई पर क्रेडिट कार्ड के माध्यम से लेनदेन शुरू करने वाल भारत का पहला पेमेंट गेटवे बन गया है.

‘रेजरपे’ UPI पर क्रेडिट-कार्ड को सपोर्ट करने वाला भारत का पहला पेमेंट गेटवे
‘रेजरपे’ UPI पर क्रेडिट-कार्ड को सपोर्ट करने वाला भारत का पहला पेमेंट गेटवे

Credit Cards on UPI: भारत के अग्रणी फुल-स्टैक पेमेंट एंड बैंकिंग प्लेटफ़ॉर्म रेजरपे (Razorpay) ने यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (UPI) पर क्रेडिट कार्ड से लेनदेन की घोषणा की है. इस लॉन्च के साथ रेजरपे यूपीआई पर क्रेडिट कार्ड के माध्यम से लेनदेन शुरू करने वाल भारत का पहला पेमेंट गेटवे बन गया है.

इसके तहत एचडीएफसी बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, यूनियन बैंक और इंडियन बैंक के रुपे क्रेडिट कार्ड कस्टमर इस नई सुविधा का लाभ उठा सकते है. 

यह पेशकश भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (NPCI और भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के डिजिटल क्षेत्र में नवीनतम नवाचार के अनुरूप है. इसकी मदद से व्यापारी रेजरपे और UPI की मदद से रूपे क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करके पेमेंट कर सकते हैं. 

RuPay क्रेडिट कार्ड पर होगी यह सर्विस:

RuPay क्रेडिट कार्ड धारक इस सुविधा उठा सकते है. RuPay क्रेडिट कार्ड यूजर अपने मौजूदा सेटअप में न्यूनतम बदलाव के साथ UPI पर क्रेडिट कार्ड से भुगतान स्वीकार करना शुरू कर सकते हैं. यह सुविधा एक्सिस बैंक की साझेदारी के साथ शुरू की गयी है.  

डिजिटल-पेमेंट सर्विस में एक नई क्रांति:

आरबीआई ने घोषणा की कि RuPay क्रेडिट कार्ड को BHIM (अभी के लिए) और आने वाले समय में GPay और PhonePe जैसे अन्य लोकप्रिय ऐप के माध्यम से UPI प्लेटफॉर्म से जोड़ा जा सकता है.

साथ ही रेजरपे (Razorpay) ने कहा है कि डिजिटल पेमेंट सर्विस के क्षेत्र में हम एक नई क्रांति की दहलीज पर है. क्योंकि हमनें यूपीआई पर क्रेडिट कार्ड को सपोर्ट देने की शुरुआत कर देये है.     

इस पहल से व्यवसायों और ग्राहकों को समान रूप से लाभ होगा साथ ही क्रेडिट इकोसिस्टम को विस्तारित करने में भी मदद मिलेगी.

भारत में लगभग 250 मिलियन यूपीआई उपयोगकर्ता हैं और लगभग 50 मिलियन उपयोगकर्ता हैं जिनके पास एक या अधिक क्रेडिट कार्ड हैं.

इसका क्रेडिट इकोसिस्टम पर क्या होगा प्रभाव?

एनपीसीआई और आरबीआई भारतीयों द्वारा क्रेडिट का उपयोग करने के तरीके को बदलने की सोच रहे हैं, जिससे यह सभी के लिए अधिक सुविधाजनक होगा.

भारत में केवल 6% भारतीयों के पास क्रेडिट कार्ड है, यूपीआई की सुविधा के साथ क्रेडिट कार्ड के जुड़ने से भारत में क्रेडिट इकोसिस्टम को और बढ़ावा मिलेगा.   

इसके चलन में आने से क्यूआर कोड के माध्यम से पेमेंट की सुविधा में वृद्धि होगी, जिससे आने वाले समय में कार्ड-स्वाइपिंग मशीन पर भी निर्भरता कम हो जाएगी. इसकी मदद से भारत में डिजिटल भुगतान को और मजबूत बनाने में मदद मिलेगी. 

कस्टमर के लिए कितनी उपयोगी है यह सर्विस?

इस सुविधा की मदद से कस्टमर अपने क्रेडिट कार्ड का बेहतर उपयोग कर सकेंगे. क्रेडिट कार्ड के यूपीआई से जोड़ने का मतलब है कि ग्राहकों को रोजमर्रा के लेन-देन के लिए अपने बैंक खातों में पैसा नहीं लगाना पड़ेगा. साथ ही कस्टमर को अपने क्रेडिट को कहीं ले जाने की जरुरत भी नहीं होगी, फिर भी आप उससे पेमेंट करने में सक्षम होंगे.

इसे भी पढ़े:

Himachal Pradesh Election 2022 Winners Full list: विधानसभा चुनाव 2022 विजेताओं की फुल लिस्ट यहाँ देखें